ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

चर्चा में

वंदेभारत रेल परियोजना से चीनी कंपनी को हटाए सरकार - कैट

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली

11 जुलाई 2020

चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के अपने राष्ट्रीय अभियान ” भारतीय सामान -हमारा अभिमान ” के तहत कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने आज केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल को भेज एक पत्र में कैट ने मांग की है की भारतीय रेलवे के अर्ध-उच्च गति स्वदेशी ट्रेन 18 परियोजना के लिए वैश्विक निविदा में भाग लेने के लिए चीन के स्वामित्व वाली कम्पनी सीआरआरसी कॉर्पोरेशन को भाग न लेने दिया। 44 वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों के लिए इस परियोजना का कुल मूल्य 1500 करोड़ रूपए से अधिक है।


कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने गोयल को भेजे पत्र में कहा कि चीन की कम्पनी सीआरआरसी कॉर्पोरेशन गुड़गांव स्थित एक फर्म के साथ एक संयुक्त उद्यम के साथ उक्त रेलों की प्रणोदन प्रणाली या इलेक्ट्रिक ट्रैक्शन की खरीद के लिए जारी टेंडर में छह दावेदारों में से एक है। 44 वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन या ट्रेन के लिए किट चूंकि भारतीय रेलवे की यह परियोजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया आवाहन का एक हिस्सा है।

इसलिए इस तथ्य और वर्तमान में चल रही परिस्थितियों को देखते हुए चीनी कम्पनी को इस परियोजना में भाग नहीं लेने देना चाहिए बल्कि इस रेल परियोजना के लिए किसी भारतीय कंपनियों पर ही रेल मंत्रालय को अधिक जोर दिया जाना चाहिए। भरतिया और खंडेलवाल दोनों ने आशा व्यक्त की कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान “लोकल पर वोकल ” और “आतमनिर्भर भारत” गोयल इस महत्वाकांक्षी और प्रतिष्ठित परियोजना में चीनी कम्पनी को भाग लेने से रोकने के लिए तुरंत आवश्यक कदम उठाएंगे।





जरा ठहरें...
प्रधानमंत्री द्वारा आज अयोध्या में भूमि पूजन ऐतिहासिक और गौरवपूर्ण दिन है - अमित शाह
कोरोना: ज़रूरी नहीं कि एक वैक्सीन से ख़त्म हो जाए वायरस - WHO
“चीन पर भारत का डिजीटल हमला निशाने पर, गिड़गिडाने लगे चीनी व्यापारी”
भारत का नया दुश्मन बना नेपाल, चीन को दे बैठा अपनी जमींन...!
मुख्य समाचार चीन से निपटने के लिए सेना को पूरी छूट दी गयी
टिड्डियों की आफत से निपटने के लिए सरकार ने उठाए कदम
वाह रे भारतीय रेल, पहुंचना था गोरखपुर पहुंच गयी उड़ीसा...!
घोर लापरवाही: विदेशों से आए 15 लाख लोग, सभी की जांच नहीं हुई - कैबिनेट सचिव
तेज-तर्रार और सख्त आईपीएस अधिकारियों में गिने जाते हैं एस एन श्रीवास्तव
अनुच्छेद 370 हटाकर केन्द्र सरकार ने कश्मीरियत और जमूरियत दोनों का दिल जीता
मुस्लिम पक्ष ने माना कि अयोध्या में भगवान राम का जन्म हुआ!
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में इतिहास बदलने की क्षमता है - मेजर जनरल (रि) जे के एस परिहार
एक ऐसी दूरबीन जो १०० प्रकाश वर्ष दूर तक देख सकेगी!
प्रतिदिन 25-प्रतिशत बच्चे भूखे रह जाते हैं
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.