ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

अपराध जगत

रेलवे में बढ़ते अपराधों पर नकेल कसने के लिए तैयार है आरपीएफ

आकाश श्रीवास्तव

नई दिल्ली

६ जनवरी न

रेलवे में अपराधों की संख्या में लगभग 9 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। 2015-2016 में नशीले पदार्थ के मामले में भी आरपीएफ ने बड़ी कार्रवाई की है। आधा दर्जन से ज्यादा लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गयी है। उत्त र रेलवे के मुख्यश सुरक्षा आयुक्ता संजय किशोर ने दिल्लीव में वार्षिक प्रेस सम्मेवलन के दौरान इसकी जानकारी दी। इस अवसर पर दिल्ली  मंडल, पूर्व, के वरिष्ठि मंडल सुरक्षा आयुक्ता, शशि कुमार और दिल्लीी मंडल, पश्चिम, के वरिष्ठू मंडल सुरक्षा आयुक्ती, संतोष चन्द्र न और उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी नीरज शर्मा भी उपस्थित थे। रेलवे में हुई अपराधों की संख्या में हुई वृद्धि के बारे में संजय किशोर ने कहा रेलवे में लगातार यात्रियों की संख्या में हो रही वृद्धि इसका प्रमुख कारण हो सकता है। उन्होंने आरपीएफ की आधुनिकीकरण के बारे में भी जानकारी दी। 


उत्तर रेलवे के मुख्य सुरक्षा आयुक्त संजय किशोर (बीच में) मंडल सुरक्षा आयुक्त (पूर्व) शशि कुमार, सुरक्षा आयुक्त (प) संतोष चन्द्रन और नीरज शर्मा (पीआरओ)

हम बता दें कि उत्तर रेलवे भारतीय रेलवे का सबसे बड़ा जोनल है। उत्त्र रेलवे के क्षेत्राधिकार में कश्मीार घाटी से लेकर काशी तक का क्षेत्र आता है। इसमें अनेक स्माररक, धार्मिक क्षेत्र आते हैं, जिनमें बड़ी संख्या में तीर्थ यात्रियों, पर्यटकों की आवाजाही रहती है। उनकी सुरक्षा की जिम्मेकदारी को रेलवे सुरक्षा बल द्वारा किया जाता है। इनके कर्मचारियों के प्रयासों की वजह से रेल सम्पित्ति की चोरी में कमी आने के साथ-साथ चोरी की गयी सम्पत्ति की बरामदगी में भी वृद्धि आयी है। अनाधिकृत टिकट विक्रताओं के विरूद्ध कार्यवाही के साथ टिकट दलालों पर लगाम लगाने के लिए कई उपाय किए जा रहे हैं। कार्यों में महिला यात्रियों के लिए आरक्षित यात्री कोचों से पुरूष यात्रियों को पकड़ना व जुर्माना वसूल करना तथा महिला स्पे शल गाडि़यों की सुरक्षा हेतु रेल सुरक्षा बल महिला दल द्वारा अनुरक्षित करना, संदिग्धि व असामाजिक तत्वों  पर पैनी नजर रखना जैसे कार्य शामिल हैं।

वर्ष 2016 के दौरान रेल सुरक्षा हैल्पद लाइन नं0-182 तथा Twitter द्वारा प्राप्त  शिकायतों का त्वषरित निपटान किया गया। कश्मी्र घाटी में रेलगाडि़यों के संचालन में समय-समय असामाजिक तत्वोंह द्वारा उत्पान्न   की जाने वाली बाधाओं को भी रेल सुरक्षा बल द्वारा बड़ी मुस्तै दी से दूर करने की कोशिश में जुटा है। नोटबंदी के दौरान उत्तेर रेलवे के क्षेत्राधिकारी में विभिन्नर गाडि़यों एवं रेलवे स्टेोशनों से रेल सुरक्षा बल द्वारा पुरानी करेंसी के कुल 1,30,35,480 रूपये बरामद किए गए। वर्ष 2016 में अयोध्या, वाराणसी, हरिद्वार एवं देहरादून रेलवे स्टे,शनों पर पर्यटक सहायता डैस्के की स्थाोपना की गई है। स्वदच्छण रखने हेतु तथा यात्रियों को स्वटच्छता के प्रति जागरूक करने की अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया जाता है। बल की आधुनिकीकरण के लिए सभी ड्यूटी पर तैनात जवानों को वाकी टॉकी, मोटरसाइकिल और चार पहिए वाहन उपलब्ध कराने की बात हो रही है। जिससे अपराधों पर तत्काल और त्वरित गति से नकेल कसी जा सके।





जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
देश में बढ़ती आतंकी घटना और सीमापार से पाकिस्तान की तरफ से हो रही गोलाबारी की घटना मोदी सरकार की नाकामी है...
जी हां बिल्कुल मोदी सरकार की नाकामी है।
कोई नाकामी नहीं है।
कह नहीं सकते।
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.