ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

अपराध जगत

भारत ने 9 व्यक्तियों को आतंकी घोषित किया

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली 1 जुलाई 2020

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पिछले साल संसद में गैरकानूनी गतिविधियां (निषेध) अधिनियम 1967 में संशोधन पर बहस के दौरान आतंकवाद की बुराई से मज़बूती से लड़ने की मोदी सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए राष्ट्र के संकल्प को दोहराया था। उक्त संशोधन के बाद केंद्र सरकार ने सितंबर 2019 में चार व्यक्तियों: मौलाना मसूद अजहर, हाफिज़ सईद, जाकि-उर-रहमान लखवी और दाऊद इब्राहिम को आतंकवादी नामज़द किया था।


राष्ट्रीय सुरक्षा को सुदृढ़ करने की कटिबद्धता पर बल देते हुए और आतंकवाद के खिलाफ ज़ीरो टॉलरेंस नीति के अंतर्गत केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के नेतृत्व में केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने आज निम्नलिखित नौ व्यक्तियों को गैरकानूनी गतिविधियां (निषेध) अधिनियम 1967 (2019 में संशोधित के अनुसार) के तहत आतंकवादी घोषित कर उनका नाम उक्त अधिनियम की चौथी अनुसूची में शामिल करने का फैसला किया है। इन व्यक्तियों का ब्यौरा इस प्रकार है:

वाधवा सिंह बब्बर: पाकिस्तान में डेरा डाले आतंकवादी संगठन “बब्बर खालसा इंटरनेशनल” का प्रमुख
लखबीर सिंह: पाकिस्तान में डेरा डाले आतंकवादी संगठन “इंटरनेशनल सिख यूथ फ़ैडरेशन” का प्रमुख
रणजीत सिंह: पाकिस्तान में डेरा डाले आतंकवादी संगठन “खालिस्तान ज़िंदाबाद फोर्स” का प्रमुख
परमजीत सिंह: पाकिस्तान में डेरा डाले आतंकवादी संगठन “खालिस्तान कमांडो फोर्स” का प्रमुख
भूपिंदर सिंह भिंडा: जर्मनी में रहने वाला आतंकवादी संगठन “खालिस्तान ज़िंदाबाद फोर्स” का प्रमुख सदस्य
गुरमीत सिंह बग्गा: जर्मनी में रहने वाला आतंकवादी संगठन “खालिस्तान ज़िंदाबाद फोर्स” का प्रमुख सदस्य
गुरपतवंत सिंह पन्नुन: अमरीका में रहने वाला गैरकानूनी संस्था “सिख फॉर जस्टिस” का प्रमुख सदस्य
हरदीप सिंह निज्जर: कनाडा में रहने वाला “खालिस्तान टाइगर फोर्स” का प्रमुख
परमजीत सिंह: यूनाइटेड किंगडम में रहने वाला आतंकवादी संगठन “बब्बर खालसा इंटरनेशनल” का प्रमुख


ये सभी व्यक्ति सीमा पार और विदेशी धरती से आतंकवाद की विभिन्न घटनाओं में शामिल हैं। ये अपनी राष्ट्र विरोधी गतिविधियों और खालिस्तान मूवमेंट में शामिल हो तथा उसके समर्थन के जरिये पंजाब में आतंकवाद को पुनर्जीवित करने की कोशिश कर अपने घृणित कृत्यों से लगातार देश को अस्थिर करने का प्रयास कर चुके हैं।




जरा ठहरें...
बिहार सरकार ने सुशांत सिंह आत्म हत्या मामले की जांच सीबीआई को सौंपी
यह उ.प्र. पुलिस की कौन सी बहादुरी है? यह न्यायपालिका के क्षेत्र का अतिक्रमण नहीं.?
सावधान! इस मेल आईडी से आई मेल पर कोई जानकारी साझा न करें!
विदेशी तबलीकियों के भारत आने पर १० साल के लिए लगा प्रतिबंध
बाबरी ढांचे की सुनवाई ३१ अगस्त तक पूरी हो - सर्वोच्च न्यायालय
दंगे में संपत्ति का नुकसान पहुंचाने वालों से पैसा वसूला जाएगा
रेलवे के तत्काल टिकट में सेंध लगाने वाला सलमान अब पुलिस के शिकंजे में
पत्रकार को अपनी ही जगह पर नहीं बनाने दिया जा रहा शौचालय
टुकड़े-टुकड़े गैंग को दंड़ देने का समय आ गया है
जामिया हिंसा: पुलिस १० अपराधी पृष्ठभूमि वाले लोगों को किया गिरफ्तार
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.