ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

प्रापर्टी समाचार

बिल्डरों की मनमानी पर सरकार कड़ा कदम उठाएगी
आम्रपाली सहित बड़े बिल्डर ग्राहकों को समय पर घर दें - नायडू

नई दिल्ली

२३ अप्रैल २०१६

बिल्डरों की मनमानी पर केंद्र सरकार सख्ती का हथौड़ा चलाएगी. केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने रविवार को कहा कि आम्रपाली ग्रुप समेत सभी रियल एस्टेट डेवलपर कंपनियों को तय वक्त पर अपना प्रोजेक्ट पूरा करना होगा. उन्होंने बिल्डरों से भी तय वक्त पर ग्राहकों से किया वादा पूरा करने की अपील भी की.


रियल एस्टेट बिल से तय होगी जिम्मेदारी :  नाएडू ने कहा कि बिल्डरों की वादाखिलाफी बर्दाश्त नहीं की जाएगी. बिल्डरों को तय वक्त का पालन करना होगा. उन्हें अपना वादा पूरा करना होगा. ऐसे मामलों पर लगाम के लिए ही केंद्र सरकार ने रियल स्टेट बिल लाया है. इस बीच रियल एस्टेट कंपनी कॉस्मिक ग्रुप के मालिक मुतरेजा बंधुओं के खिलाफ दिल्ली में निवेशकों ने प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों ने बिल्डर पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया है.

जल्द ही लागू होगा नए बिल का नियम:  नायडू ने साफ तौर पर कहा कि आम्रपाली ग्रुप सहित सभी बिल्डरों को अपने वादे पूरे करने होंगे. कानून स्पष्ट है और इसके हिसाब से बिल्डरों को काम करना होगा. बिल के बारे में उन्होंने कहा कि संसद के दोनों सदनों से बिल पास हो चुका है. अब हम इसके नियम बनाने पर काम कर रहे हैं. नियम बनते ही तेजी से कानून काम करने लगेगा. इसके बाद दोषी बिल्डरों पर कार्रवाई शुरू हो जाएगी.  बवाल बढ़ने पर धोनी ने छोड़ा आम्रपाली ग्रुप-  पिछले दिनों आम्रपाली ग्रुप के प्रोजेक्ट में घर बुक करवाने वाले ग्राहकों ने क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी के खिलाफ ट्विटर पर मुहिम छेड़ दी थी. वक्त पर घर नहीं मिलने की वजह से उन लोगों ने कहा कि घर दिला दो धोनी. तय वक्त पर बिल्डर के वादे पूरे नहीं होने पर ग्राहक धोनी से काम पूरा करवाने के लिए दबाव बनाने की मांग की. इस पर बवाल मचने पर धोनी ने कहा कि वह आम्रपाली ग्रुप से बात करेंगे. बाद में उन्होंने ग्रुप की ब्रांड अंबेसडरशिप छोड़ दी थी.





जरा ठहरें...
एसी रूम लिया तो जीएसटी का अतिरिक्त कर देना पड़ेगा
बेनामी संपत्ति कानून का उल्लंघन करने वाले सावधान!
मोदी का अगला निशाना बेमानी संपत्ति रखने वालों पर!
आम्रपाली समूह से खरीददार परेशान
बिल्डरों की मनमानी से आम आदमी बुरी तरह परेशान!
रियल एस्टेट विधेयक पास, मकान सस्ता होने की उम्मीद
गोदरेजन प्रापर्टी नें 3 सौ फ्लैट ७ सौ करोड़ में बेचा
प्रापर्टी में निवेश करके फंस गए अच्छे वेतन पाने वाले!
१६० करोड़ में बिका अपार्टमेंट!
यूनिटेक के 100 एकड़ प्लॉट का आवंटन रद्द किया!
प्रापर्टी में गिरावट, सस्ते घरों वाले प्रॉजेक्ट्स तीन गुना बढ़े
एक साल: कागजों पर ही सिमटे रहे स्मार्ट सिटी और सस्ते घर के सपने!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें