ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

सेहत की बातें

इन उपायों से स्वस्थ रह सकेंगी आखें, मोतियाबंद से हो सकेगा बचाव...!

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली

22 अक्टूबर 2020

पिछले 30 साल में भारत में ऐसे लोगों की संख्या दोगुनी हो चुकी है, जिनकी आंखें पूरी तरह कमजोर हो चुकी हैं और उन्हें देखने में समस्या हो गई है। यह बात दो अलग-अलग इंटरनैशनल ऑर्गेनाइजेशन की रिपोर्ट्स में सामने आई है। इस रिपोर्ट में यह बात साफ-साफ कही गई है कि दुनिया में सबसे अधिक नेत्रहीन लोग इस समय भारत में हैं। यानी डायबिटीज के बाद अप हमारा देश ब्लाइंडनेस का भी हब बन गया है। ऐसे में यह जानना बेहद जरूरी हो जाता है कि हम कैसे अपने देश में इन हालातों पर काबू पा सकते हैं। खासतौर पर हमें यह जानने की जरूरत है कि हम अपनी डायट में किन बातों का ध्यान रखें कि हमारी आंखें कमजोर ना हों और ताउम्र इनमें रोशनी बनी रहे।


आंखों की देखने की क्षमता को बनाए रखने के लिए जरूरी होता है कि आपकी आंखों का रेटिना स्वस्थ हो। रेटिना को स्वस्थ रखने के लिए ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन कैरोटिनॉयड्स की जरूरत होती है। ये दोनों कैरोटिनॉयड्स रेटिना के मैक्युला में जाते हैं और आंखों की देखने की क्षमता को बनाए रखने में मदद करते हैं। ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन कैरोटिनॉयड्स ऑक्सीजन के मुक्त कणों को बुझाने और नीली रोशनी को छानने का भी काम करते हैं। तथा सूरज की रोशनी के कारण आंखों को होने वाले नुकसान से बचाते हैं। ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन कैरोटिनॉयड्स आंखों को अंदर से स्वस्थ बनाने का काम करते हैं। जो लोग नियमित रूप से ऐसे फलों और सब्जियों का उपयोग करते हैं, जिनसे ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन कैरोटिनॉयड्स की प्राप्ति होती है, उन्हें बुढ़ापे में मोतियाबिंद की समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है।

इन फलों से मिलते हैं ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन कैरोटिनॉयड्स
ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन दो अलग-अलग कैरोटिनॉयड्स हैं। कुछ फल ऐसे होते हैं, जिनमें ये दोनों ही कैरोटिनॉयड्स पाए जाते हैं, जबकि कुछ फल और सब्जियां ऐसी होती हैं, जिनमें सिर्फ ल्यूटिन या सिर्फ जेक्सैन्थिन पाया जाता है। जिन फलों से इन दोनों ही कैरोटिनॉयड्स की प्राप्ति होती है उनमें संतरा, आडू और हरे तथा लाल अंगूर शामिल हैं।


ऐसे फल जिनसे ल्यूटिन की प्राप्ति की जा सकती है इनमें कीवी, आम और नारंगी शामिल हैं। इनके साथ ही पीले कद्दू में भी ल्यूटिन पाया जाता है। जेक्सैन्थन की प्राप्ति मुख्य रूप से ऑरेंज पेपर से होती है। इसके अतिरिक्त पका हुआ केला और पालक से भी इसकी प्राप्ति की जा सकती है। इनके अतिरिक्त आंवला भी आंखों की सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है। आंखों की सेहत के लिए बेहद जरूरी तत्व ल्यूटिन और जेक्सैन्थिन कैरोटिनॉयड्स किसी फल और सब्जी में कितनी मात्रा में उपलब्ध होंगे यह इस बात पर निर्भर करता है कि इन फल और सब्जियों की खेती और भंडारण किन स्थितियों में किया गया है। इसलिए यह जरूरी नहीं है कि हर क्षेत्र में उगे हुए पदार्थों से आपके शरीर को इन कैरोटिनॉइड्स की प्राप्ति हो सकती है।




जरा ठहरें...
देश में बीते 24 घंटे में मिले 55 हजार से ज्यादा नए केस, 579 की मौत
भारत को 2021 में मिल जाएगी कोरोना की वैक्सीन: हर्षवर्धन
चिकित्सा क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए इन वैज्ञानिकों को नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया
SBI दिल्ली द्वारा एक हेल्थ टॉक का आयोजन किया गया
बालों को इस तरह से करें प्राकृतिक रूप से काला...!
कोरोना वैक्सीन को लेकर भारत की तैयारी, पड़ोसियों की होगी पूरी मदद!
देश में कोरोना का संकट गहराया, ब्राजील को छोड़ा पीछे एक दिन में 75 हजार के पार
देश में कोरोना रोगियों के लिए एक हजार से ज्यादा समर्पित अस्पताल - नकवी
देश में एक दिन में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 57 हजार के पार
बड़ी ख़बर: कोराना वैक्सीन भारत में मनुष्यों पर परीक्षण जल्द शुरू, अनुमति मिली!
कोरोना से निपटने के लिए रसायन और उर्वरक मंत्रालय ने उतारा सैनेटाइजर
सेंधा और काला नमक में आयोडीन नहीं, आयोडीन वाला ही नमक खाएं!
लोकसभा अध्यक्ष ने फिट इंडिया के तहत संसद भवन परिसर में दिए फिट इंडिया का संदेश
बेहिचक पीजिए रेलनीर, गुणवत्ता और स्वास्थ्य से नहीं होता कोई समझौता
मेजर जनरल (रि) जे.के. एस परिहार एअर मार्शल बोपाराय पुरस्कार से सम्मानित
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.