ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

सेहत की बातें

डॉक्टर अग्रवाल ने कहा स्टेंट की कीमत का सीमा निर्धारित करना मरीजों के लिए सही नहीं!

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली, १५ फरवरी २०१८

हार्ट केयर फाउंडेशन के अध्यक्ष डा. केके अग्रवाल ने कहा है कि स्टेंट एक दवा है और इसे ड्रग्स व कास्मेटिक एक्ट के तहत लाया जाना चाहिए। लेकिन इसे नेशनल लिस्ट ऑफ एसेंसियल मेडिसिन में डाला गया है। हालांकि यह अच्छी बात है। लेकिन इसके साथ ही इस तरह के सभी आइटमों को इस सूची में डाला जाना चाहिए। साथ ही डा. अग्रवाल ने कहा कि इन स्टेंट्स के दाम के घटने से डाक्टर अपनी खोई हुई राशि की भरपाई अन्य माध्यम से करेंगे। इसका नुकसान मरीजों को ही भुगतना होगा। इससे मरीजों के साथ नाइंसाफी होगी।


डाक्टर के के अग्रवाल, देश के जाने माने वरिष्ठ चिकित्सक

जानकारी के मुताबिक ड्रग मिश्रित स्टेंट की कीमत पर तो नेशनल फार्माश्यूटिकल प्राइसिंग अथारिटी ने सीलिंग लगा दिया है। दूसरी तरफ मेटल स्टेंट की कीमत को बढ़ा दिया गया है। हाल ही में इस क्षेत्र में अधिकारिता रखने वाले पक्षों व नेशनल फार्माश्यूटिकल प्राइसिंग अथारिटी के बीच कई स्तर की बातचीत के बाद ड्रग मिश्रित स्टेंट की कीमत में 1710 रुपए की कमी कर दी गई लेकिन मेटल स्टेंट की कीमत की कीमत में 400 रुपए की बढ़ोतरी कर दी गई। यह दर 31 मार्च 2019 तक लागू रहेगा। इस आदेश के जारी होने पर सभी स्टेंट निर्माता को अपने दर को घटाना या बढ़ाना पड़ेगा। उल्लेखनीय है कि स्टेंट एक छोटा तार है जिसे धमनी में डालकर रक्त की गति को संतुलित किया जाता है। यह हृदय से जुड़ी कमजोर धमनियों को भी मजबूती प्रदान करता है।





जरा ठहरें...
आखिर प्रधानमंत्री ने जारी की अपनी सेहत की राज!
निपाह विषाणु से देश में फैला दहशत, सरकार ने जारी की चेतावनी!
देश के हर तीन जिलों के बीच में एक मेडिलकल कॉलेज खोला जाएगा
दिल की बीमारियों की ये हैं निशानियां और इनसे ऐसे बचें, और बर्तें सावधानियां!
मधुमेह के रोगियों के लिए नई खोज आशा की किरण बनी
भारत में गुर्दे की बीमारी भयानक रूप ले रही है
दिल्ली सरकार बेहतर स्वास्थ्य के लिए 1 हजार मोहल्ला क्लीनिक खोलेगी
भारत में फिर पाए गए पोलियो के विषाणु!
दिनचर्या में बदलाव करके ह्रदय रोग से बचें
देश के जाने माने नेत्र रोग विशेषज्ञ मेजर जनरल (रि) जे.के. एस परिहार एअर मार्शल बोपाराय पुरस्कार से सम्मानित
एम्स में पाँच सौ तक टेस्ट मुफ्त में होंगे
कई बीमारियों में लाभाकारी है दालचीनी
मां बनने की कोई उम्र सीमा नहीं होती है!
मधुमेह, दिल की बीमारी ने बढ़ाई जैतून तेल की मांग
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.