ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

सेहत की बातें

देश के हर तीन जिलों के बीच में एक मेडिलकल कॉलेज खोला जाएगा

नई दिल्ली

२६ मार्च २०१८

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार 'मन की बात' कार्यक्रम में कहा कि देशवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के तहत देश के हर तीन जिलों पर एक मेडिकल कॉलेज खोला जाएगा। प्रधानमंत्री ने लोगों से रोग-निवारक स्वास्थ्य सेवा के प्रति जागरूक रहने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि रोग निवारण के उपाय न सिर्फ एक व्यक्ति के लिए बल्कि उसके परिवार व समाज के लिए भी हितकर है।


प्रतीकात्मक तस्वीर।

उन्होंने कहा कि स्वस्थ रहने के लिए स्वच्छता पहली जरूरत है। मोदी ने कहा कि योग ने रोग निवारक के तौर पर दुनिया में पहचान बनाई है। यह अच्छी सेहत की गारंटी देता है। उन्होंने कहा, "योग दिवस 21 जून को मनाया जाएगा। क्या हम योग के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए अभी से कार्य शुरू कर सकते हैं?" मोदी ने कहा कि सरकार ने तीन हजार से अधिक जन औषधि केंद्र खोले हैं और वह इस तरह के और केंद्रों को खोलने की दिश में कार्य चल रहा है। उन्होंने बताया कि इन केंद्रों पर 800 दवाइयां सस्ते दाम पर उपलब्ध हैं।

प्रधानमंत्री ने बताया कि दिल के मरीजों के लिए स्टेंट की कीमतों में 85 फीसदी कमी हो गई है। घुटने बदलने की लागत 50-70 फीसदी घट गई। उन्होंने कहा कि पूरे देश में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए 479 मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस की सीटें बढ़ाकर तकरीबन 68,000 कर दी गई हैं और विभिन्न प्रदेशों में नए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) खोले जा रहे हैं।


मोदी ने कहा कि हर तीन जिले पर एक मेडिकल कॉलेज खोला जाएगा। मोदी ने कहा कि सरकार ने 2025 तक देश को क्षयरोग से छुटकारा दिलाने का लक्ष्य तय किया है। उन्होंने कहा कि सरकार और बीमा कंपनियों की ओर से संयुक्त रूप से हर साल 10 करोड़ परिवारों को पांच लाख रुपये का बीमा कवर दिया जाएगा। प्रधानमंत्री ने 'मन की बात' में कहा, "रोग-निवारक स्वास्थ्य सेवा सबसे सस्ती और सरल है। इसको लेकर हम जितना जागरूक होंगे, यह उतना व्यक्ति, उसके परिवार व समाज के लिए लाभकारी होगी।"


प्रधानमंत्री ने अच्छी सेहत के लिए स्वच्छता की आवश्यकता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि स्वस्थ भारत उतना ही जरूरी है जितना स्वच्छ भारत। उन्होंने कहा, "मेरा मानना है कि स्वस्थ भारत और स्वच्छ भारत एक दूसरे के संपूरक हैं। स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में व्यावहारिक नजररिया अपनाया जा रहा है। पहले स्वास्थ्य से संबंधित हर कार्य केवल केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की जिम्मेदारी होती थी, लेकिन वर्तमान परिदृश्य में प्रत्येक विभाग, राज्य सरकार और अन्य विभागों एक साथ मिलकर स्वस्थ भारत के लिए कार्य कर रहे हैं।"



जरा ठहरें...
पर्रिकर को दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया!
आयुष्मान भारत की विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ने तारीफ की!
कोलंबिया एशिया अस्पताल बना लापरवाही और वसूली का अड्डा!
तीज त्यौहार के मौसम में शहनाज का महिलाओं को सौंन्दर्य टिप्स
इस बार हेल्थ मेले में ‘‘किफायती स्वास्थ्य देखभाल‘‘ विषय पर होगा फोकस
दुनिया में पांच में से तीन बच्चों को मां का दूध नसीब नहीं,
दिल्ली के अस्पताल में सिर्फ दिल्ली के लोगों को मिलेगा मुफ्त इलाज
आयुर्वेद को लेकर आईआईटी दिल्ली एआईआईए के बीच समझौता
वीएलसीसी इंस्टीट्यूट ऑफ ब्यूटी एंड न्यूट्रिशन का 17वां दीक्षांत समारोह संपन्न
संक्रमण की वजह से बढ़ रही हैं बीमारियां
निजी अस्पतालों में २५ फीसदी गरीबों की मुफ्त में इलाज करें नही तो लीज होगी रद्द -
मोदी ने एम्स में रखी नेशनल सेंटर फॉर एजिंग की आधारशिला!
आखिर प्रधानमंत्री ने जारी की अपनी सेहत की राज!
निपाह विषाणु से देश में फैला दहशत, सरकार ने जारी की चेतावनी!
दिल की बीमारियों की ये हैं निशानियां और इनसे ऐसे बचें, और बर्तें सावधानियां!
मधुमेह के रोगियों के लिए नई खोज आशा की किरण बनी
डॉक्टर अग्रवाल ने कहा स्टेंट की कीमत का सीमा निर्धारित करना मरीजों के लिए सही नहीं!
भारत में गुर्दे की बीमारी भयानक रूप ले रही है
दिल्ली सरकार बेहतर स्वास्थ्य के लिए 1 हजार मोहल्ला क्लीनिक खोलेगी
भारत में फिर पाए गए पोलियो के विषाणु!
दिनचर्या में बदलाव करके ह्रदय रोग से बचें
मेजर जनरल (रि) जे.के. एस परिहार एअर मार्शल बोपाराय पुरस्कार से सम्मानित
एम्स में पाँच सौ तक टेस्ट मुफ्त में होंगे
कई बीमारियों में लाभाकारी है दालचीनी
मां बनने की कोई उम्र सीमा नहीं होती है!
मधुमेह, दिल की बीमारी ने बढ़ाई जैतून तेल की मांग
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.