ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

सेहत की बातें

कोलंबिया एशिया अस्पताल बना लापरवाही और वसूली का अड्डा!

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

गुरूग्राम के पालम विहार स्थित कोलंबिया एशिया अस्पताल में लापरवाही का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। कहने को तो किसी फाइव स्टार से कम नहीं है यह अस्पताल। इलाज में काफी महंगा यह अस्पताल मरीजों से पैसा तो जमकर लेता है लेकिन इलाज के नाम पर लापरवाही आए दिन इस अस्पताल का चर्चा का विषय बना हुआ होता है। पिछले दिनों एक मामला गुरूग्राम का है प्रदीप यादव का। जिन्हें मामूली कहा सुनी के बाद दूसरे पक्ष ने गोली मार दी।


आनन-फानन में प्रदीप को पालम बिहार स्थित कोलंबिया अस्पताल में भर्ती कराया गया। समय रात्रि का करीब 10-11 के बीच का है। एक घंटे में इलाज के नाम पर 35 हजार ऐंठ लिया गया। उस समय इतने बड़े अस्पताल में कोई वरिष्ठ चिकित्सक मौजूद नहीं था। सारे प्रशिक्षुक चिकित्सक आपातकालीन सेवा दे रहे थे। इससे बड़ा मजाक और क्या हो सकता है। प्रदीप के परिजनों ने जब कहा कि मामला गंभीर है आप लोग किसी वरिष्ठ चिकित्सक को दिखाइए तो अस्पताल के कर्मचारी ने एक न सुनी। जब वहां से डिस्चार्ज कराने की बात की गयी कि आप हमें डिस्चार्ज कीजिए हम किसी और दूसरे अस्पताल में मरीज को ले जाते हैं तो लुटेरे अस्पताल के कनिष्ठ चिकित्सकों ने यह भी नहीं सुनी। अंत में हो मरीज के परिजनों द्वारा शोर शराबा करने के बाद किसी तरह से प्रदीप को अस्पताल के चंगुल से मुक्त कराया गया। और दूसरे अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया।


आए दिन कोलंबिया एशिया जैसे अस्पतालों की काली करतूतें उजागर होती रहती हैं लेकिन इसके बावजूद सरकार कुछ नहीं करती। यही नहीं पिछले रविवार यानि 19 अगस्त को इसी अस्पताल में एक महिला की मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया। आरोप है कि डॉक्टरों ने महिला का गलत ऑपरेशन कर दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। हंगामे की सूचना मिलते ही स्थानीय थाना पुलिस मौके पर पहुंची। जिसके बाद पुलिस ने मामला शांत करवाया और परिजनों की शिकायत दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।


बता दें कि फौज से सेवानिवृत्त बावल निवासी सूबेदार मेजर अजीत सिंह ने बताया कि उनकी पत्नी बीरमती (53) की आंख की नस में गांठ बन गई थी। जिसके इलाज के लिए उसे कोलंबिया एशिया अस्पताल में दिखाया गया था। यहां न्यूरोसर्जन ने उनकी पत्नी का एक छोटा सा ऑपरेशन कर यह गांठ निकालने की बात कही। इसके लिए 8 अगस्त को महिला को अस्पताल में भर्ती किया गया और 11 अगस्त को उसका ऑपरेशन हुआ। परिजनों की मानें तो करीब 12 घंटे तक यह ऑपरेशन चला।


ऑपरेशन के बाद से ही महिला ही तबीयत खराब रहने लगी। रविवार को डॉक्टरों ने दोपहर करीब साढ़े तीन बजे उसे मृत घोषित कर दिया। मौत की सूचना पाते ही परिजन बिफर गए और अस्पताल में हंगामा करने लगे। परिजनों ने वहां जमकर हंगामा काटा। पुलिस का कहना है कि परिजनों की शिकायत दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस मामले में सिविल सर्जन कार्यालय से विशेषज्ञ की राय मांगी जाएगी। इसके बाद आगे की कार्रवाई होगी।



जरा ठहरें...
भारत का दूसरा होम्यौपैथिक संस्थान दिल्ली में बनेगा
दिल्ली के अस्पताल में आरक्षण लागू नहीं - दिल्ली उच्च न्यायालय
कैंसर की इलाज की दवा बनाने वाले एलिसन और होंजो को नोबेल पुरस्कार
पर्रिकर को दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया!
आयुष्मान भारत की विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ने तारीफ की!
इस बार हेल्थ मेले में ‘‘किफायती स्वास्थ्य देखभाल‘‘ विषय पर होगा फोकस
दिल्ली के अस्पताल में सिर्फ दिल्ली के लोगों को मिलेगा मुफ्त इलाज
देश के हर तीन जिलों के बीच में एक मेडिलकल कॉलेज खोला जाएगा
दिल की बीमारियों की ये हैं निशानियां और इनसे ऐसे बचें, और बर्तें सावधानियां!
डॉक्टर अग्रवाल ने कहा स्टेंट की कीमत का सीमा निर्धारित करना मरीजों के लिए सही नहीं!
दिनचर्या में बदलाव करके ह्रदय रोग से बचें
मेजर जनरल (रि) जे.के. एस परिहार एअर मार्शल बोपाराय पुरस्कार से सम्मानित
एम्स में पाँच सौ तक टेस्ट मुफ्त में होंगे
कई बीमारियों में लाभाकारी है दालचीनी
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.