ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

सेहत की बातें

दिल्ली के अस्पताल में आरक्षण लागू नहीं - दिल्ली उच्च न्यायालय

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

दिल्ली उच्च न्यायालय ने केजरीवाल सरकार के फरमान को पलटते हुए कहा है कि दिल्ली के अस्पतालों में कोई आरक्षण व्यवस्था लागू नहीं होगी। दिल्ली के गुरु तेग बहादुर अस्पताल (जीटीबी अस्पताल) में मरीजों के इलाज में आरक्षण के मसले पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने अरविंद केजरीवाल सरकार को झटका दिया है।


कोर्ट ने कहा है कि जीटीबी अस्पताल में इलाज के लिए दिल्ली के निवासियों को 80 फीसदी आरक्षण देना गलत है और साथ ही यह भी कहा है कि पुरानी व्यवस्था बरकार रहेगी यानी कोई आरक्षण का नियम लागू नहीं होगा। आपको बता दें कि एक अक्टूबर से पायलट प्रोजेक्ट के तहत दिल्ली सरकार ने इस आरक्षण व्यवस्था को अस्पताल में शुरू किया था। अस्पताल में कुल 17 रजिस्ट्रेशन काउंटर हैं जिसमें से 13 दिल्ली के नागरिकों के लिए आरक्षित किए जाने थे और 4 दिल्ली के बाहर के नागरिकों के लिए रखे गए। मुफ्त दवाएं केवल दिल्ली के नागरिकों को दी जाएंगी साथ ही बड़े टेस्ट भी मुफ़्त केवल दिल्ली के नागरिकों के होने थे।





जरा ठहरें...
भारत का दूसरा होम्यौपैथिक संस्थान दिल्ली में बनेगा
कैंसर की इलाज की दवा बनाने वाले एलिसन और होंजो को नोबेल पुरस्कार
पर्रिकर को दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया!
आयुष्मान भारत की विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ने तारीफ की!
कोलंबिया एशिया अस्पताल बना लापरवाही और वसूली का अड्डा!
इस बार हेल्थ मेले में ‘‘किफायती स्वास्थ्य देखभाल‘‘ विषय पर होगा फोकस
दिल्ली के अस्पताल में सिर्फ दिल्ली के लोगों को मिलेगा मुफ्त इलाज
देश के हर तीन जिलों के बीच में एक मेडिलकल कॉलेज खोला जाएगा
दिल की बीमारियों की ये हैं निशानियां और इनसे ऐसे बचें, और बर्तें सावधानियां!
डॉक्टर अग्रवाल ने कहा स्टेंट की कीमत का सीमा निर्धारित करना मरीजों के लिए सही नहीं!
दिनचर्या में बदलाव करके ह्रदय रोग से बचें
मेजर जनरल (रि) जे.के. एस परिहार एअर मार्शल बोपाराय पुरस्कार से सम्मानित
एम्स में पाँच सौ तक टेस्ट मुफ्त में होंगे
कई बीमारियों में लाभाकारी है दालचीनी
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.