ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

सेहत की बातें

कोरोना वायरस के खतरे को सरकार ने राष्ट्रीय आपदा घोषित किया

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली, १५ मार्च २०२०

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के खतरे और संक्रमण को देखते हुए राष्ट्रीय आपदा घोषति कर दिया है। केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब तक कोरोना से संक्रमण के 99 मामले सामने आए हैं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 84 मामलों की ही पुष्टि की है। उधर, केंद्र सरकार ने 3 अप्रैल को राष्ट्रपति भवन में होने वाले पद्म पुरस्कार समारोह को स्थगित कर दिया है। लोकसभा सचिवालय ने भी संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए एहतियात के तौर पर दर्शक दीर्घा पास और संसद परिसर में घूमने की अनुमति रद्द कर दी है।


प्रतीकात्मक तस्वीर।

आपदा का मतलब है- किसी क्षेत्र में प्राकृतिक रूप से, इंसान या किसी दुर्घटना की वजह से भारी विपत्ति आना। इससे जनहानि या संपत्ति का इतना नुकसान हो कि स्थानीय समुदाय के लिए उससे निपटना असंभव हो। आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के मुताबिक, राष्ट्रीय आपदा घोषित होने पर ऐसी स्थिति एनडीआरएफ को मदद के लिए भेजा जाता है। आपदा राहत कोष के जरिए 75% मदद केंद्र और 25% राज्य सरकार करती हैं। जरूरत होने पर केंद्र के 100% फंडिंग वाले ‘राष्ट्रीय आपदा आकस्मिक फंड’ से अतिरिक्त सहायता दी जाती है। प्रभावित लोगों को कर्ज में रियायत दी जाती है। बाढ़, तूफान, चक्रवात, भूकंप, सुनामी को प्राकृतिक आपदा और एटमी, जैविक या रासायनिक आपदाओं को मानव जनित आपदा कहा जाता है। हालांकि, इसे घोषित करने के लिए कोई तय मानक नहीं हैं। केंद्र सरकार ने कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए कहा है कि कोरोना वायरस से किसी व्यक्ति की मौत होने पर उसके परिवार को 4 लाख रु. का मुआवजा मिलेगा।

राहत कार्यों में शामिल व्यक्ति भी इसके दायरे में होंगे। देश में कोरोनावायरस के अब तक 99 मामलों की पुष्टि हो गई है। 13 राज्यों में कोरोना का संक्रमण फैल चुका है। महाराष्ट्र में शनिवार तक सबसे ज्यादा 26 संक्रमित मिले। कोरोना संकट पर चर्चा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार शाम 5 बजे सार्क देशों के नेताओं के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करेंगे। इसमें पाकिस्तान, नेपाल, अफगानिस्तान, श्रीलंका, मालदीव, बांग्लादेश और भूटान के नेता शामिल होंगे। मोदी ने ही सार्क देशों से चर्चा की पहल की थी।





जरा ठहरें...
मॉस्क आवश्यक सूची में शामिल, कालाबजारी और अधिक दाम लेने पर सरकार सख्त!
कोरोना पर स्वास्थ मंत्रालय ने धीरे धीरे, नियमित प्रेस कांफ्रेंस क्यों बंद कर दी?
देश में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या ८६ हजार के पास पहुंची
एम्स निदेशक ने कहा भारत में जून-जुलाई में कोरोना वायरस चरम पर होंगे
जन औषधि केंद्र निभा रहे हैं महत्वपूर्ण भूमिका - मनसुख मंडाविया
महत्वपूर्ण दवाओं की उपलब्धता के लिए 20 राज्यों के साथ केंद्र की बैठक
कोरोना वायरस के मरीजों के लिए वैज्ञानिकों ने बनाए बिशेष बिस्कुट
कोरोना से निपटने के लिए भविष्य की रणनीतियां बनानी होगी - डॉ. मेजर जनरल जे. के. एस परिहार (सेवानिवृत्ति)
“भारत अपनी जरूरतों के बाद देगा मित्र देशों को हाइड्रोक्सीक्लोरीनक्वीन”
कोरोना के खतरे को देखते हुए स्वास्थ मंत्रालय ने नई एडवाइजरी जारी की
प्रधानमंत्री जन औषधि के अंतर्गत देशभर में 6200 जनऔषधि केंद्र का संचालन
ट्रांस फैट सबसे घातक हर साल ५१ लाख लोगों की मौतें!
देश में बनाए गए नए आयुष अस्पताल, सरकार की है विस्तार योजना
सेंधा और काला नमक में आयोडीन नहीं, आयोडीन वाला ही नमक खाएं!
लोकसभा अध्यक्ष ने फिट इंडिया के तहत संसद भवन परिसर में दिए फिट इंडिया का संदेश
बेहिचक पीजिए रेलनीर, गुणवत्ता और स्वास्थ्य से नहीं होता कोई समझौता
मेजर जनरल (रि) जे.के. एस परिहार एअर मार्शल बोपाराय पुरस्कार से सम्मानित
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.