ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

सेहत की बातें

कोलेस्ट्राल कम करने के ये घरेलू उपाय हैं बहुत उपयोगी

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 11 फरवरी 2021

बहुत से लोग कोलेस्ट्रॉल के बारे में तो जानते हैं। लेकिन यह नहीं जानते कि असल में यह होता क्या है। आपको बता दें कि कोलेस्ट्रॉल एक तरह का फैट होता है जो खून में मौजूद होता है। कोलेस्ट्रॉल शरीर के अंदर बहुत से कार्यों के लिए जिम्मेदार होता है, जैसे सेल्स को लचीला बनाए रखने के लिए, और विटामिन डी के संशलेषण आदि के लिए। ज्ञात हो कि दो तरह के कोलेस्ट्रॉल होते हैं एक होता है एलडीएल और दूसरा होता है एचडीएल। एलडीएल कोलेस्ट्रॉल रक्त धमनियों में बाधा उत्पन्न कर हृदय को नुकसान पहुँचाता है। जबकि एचडीएल कोलेस्ट्रॉल आपके दिल का ख्याल रखने का कार्य करता है।


कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का कारण केवल खराब जीवनशैली या बेकार खान पान ही नहीं. बल्कि इसके लिए फैमिली हिस्ट्री भी जिम्मेदार होती है। लेकिन स्वस्थ्य भोजन, हल्की एक्सरसाइज और जीवनशैली में बदलाव के जरिए इससे राहत पाई जा सकती है। घर से चिटियों को भगाना हो या फिर चोट को जल्दी ठीक करना हो। इन सभी कार्यो में हल्दी का उपयोग किया जाता है। उसी तरह यह बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने का कार्य भी करती है। दरअसल हल्दी के अंदर पाए जाने वाले तत्व रक्त की धमनियों से कोलेस्ट्ऱॉल हटाने का कार्य करते हैं। इसके लिए आप चाहें तो हल्दी वाला दूध पी सकते हैं। या फिर आप सुबह गर्म पानी के अंदर आधा चम्मच हल्दी पाउडर डालकर सेवन कर सकते हैं। आज कल के समय में वजन कम करने से लेकर, मेटाबॉलिज्म बेहतर बनाने तक के लिए ग्रीन टी का उपयोग किया जा सकता है। इसके अलावा हाल ही में हुई एक रिसर्च बताती है कि ग्रीन टी के अंदर पाए जाने वाले तत्व बैड कोलेस्ट्रॉल को तेजी से कम करने का कार्य करते हैं। अगर आपको इसका स्वाद पसंद नहीं है तो आप ग्रीन टी कैप्सूल का सेवन कर सकते हैं।

लहसुन को पहले के समय में बहुत सी बीमारियों के उपचार के लिए इस्तेमाल किया जाता था। वही मॉर्डन जेनरेशन के लोगों के लिए यह कोलेस्ट्रॉल कम करने का एक बेहतरीन तरीका भी है। लेकिन इसके लिए आपको सुबह के समय या रात को सोने से पहले इसे कच्चा खाना होगा। दरअसल इसके अंदर एलिसन पाया जाता है जो कुल एलडीएल कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करने में सक्षम होता है। अलसी के बीज या फ्लैक्स सीड्स आपकी पाचनक्रिया से लेकर आपके हृदय के लिए भी फ़ायदेमंद होता है। इसके अंदर लिनोलेनिक एसिड और ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है। यह आपके एलडीएल कोलेस्ट्रॉल पर सीधा वार कर इसे कम करता है। ऐसे में आप इसका सेवन दूध या गर्म पानी के साथ कर सकते हैं। इसके लिए आप अलसी के बीज के पाउडर का उपयोग कर सकते है। फिश ऑयल को ओमेगा 3 फैटी एसिड का एक बेहतरीन श्रोत माना जाता है। आपको बता दें कि ओमेगा 3 फैटी एसिड एलडीएल कोलेस्ट्राल की मात्रा को कम करने का कार्य करता है. इसके लिए आप फिश का तरह तरह की फिश का सेवन कर सकते हैं, जैसे लेक, सैलमोन, ट्राउट आदि। अब अगर आप वेजिटेरअन है तो दुखी मत हो। आप फिश ऑयल के 100 एमजी कैप्सूल का सेवन कर सकते हैं।


धनिया है बढ़िया: सूखा धनिया या कोरिएंडर का इस्तेमाल अक्सर बहुत से पकवानों में किया जाता है। लेकिन बहुत ही कम लोग ऐसे हैं जो इसके फ़ायदों और इसके पोषक तत्वों के बारे में जानते हैं। आपको बता दे कि इसके अंदर विटामिन ए, विटामिन सी, फोलिक एसिड और कई एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं। यह तत्व बैड कोलेस्ट्रॉल को शरीर से बाहर का रास्ता दिखाते हैं। अगर आप धनिए का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आप रोजाना एक चम्मच धनिया या धनिया पाउडर को दो मिनट तक पानी में उबाले और फिर इसे पियें। यह उपाय बैड कोलेस्ट्रॉल कम कर देगा।


आंवला के फायदे बालों को ही नहीं बल्कि हृदय पर भी देखे जाते हैं। दरअसल आंवला के अंदर अमीनो एसिड और एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं जो बैड को कोलेस्ट्रॉल को कम करने का कार्य करते हैं। आप चाहें तो इसके लिए ताजा आंवले का सेवन करें या फिर एक चम्मच पाउडर गुनगुने पानी में डालकर पीए। यह आपको हृदय समस्याओं से बचा कर रखेगा।

सेब का सिरका कोलेस्ट्रॉल समेत कई समस्याओं का अंत करने में सक्षम है। इसके लिए आप एक चम्मच सेब का सिरका लें और इसे पानी में अच्छी तरह मिला कर पियें। इससे आपका कोलेस्ट्रॉल की समस्या भी हल होगी और आपके सेहतमंद भी बने रहेंगे।



जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.