ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

धर्म/तीज़-त्यौहार

धर्म संसद में दावा एक साल के अंदर राममंदिर निर्माण शुरू हो जाएगा!

आकाश श्रीवास्तव

25 नवंबर 2017

पीठाधीश्वर पूज्य विश्वेशतीर्थ जी महाराज ने आज स्पष्ट घोषणा करते हुए कहा कि सब प्रकार की बाधाओं को दूर करके एक साल के अंदर ही श्रीराम मंदिर का निर्माण प्रारंभ हो जायेगा। उडुपी में किसी भी धर्मसंसद में किया गया संकल्प हमेशा पूरा हुआ है। 1969 में अस्पृश्यता दूर करने का संकल्प लिया था 1985 की धर्मसंसद में श्रीराम जन्मभूमि का ताला खोलने का संकल्प लिया था। जिस तरह वे दोनों संकल्प साकार हो चुके हैं उसी प्रकार यह तीसरा संकल्प भी पूरा होगा।


धर्मसंसद में उपस्थित संतों ने करतल ध्वनि और जयश्रीराम के घोष के साथ इस घोषणा का स्वागत किया। पूज्य महाराज जी ने अस्पृश्यता को कालकूट विष का नाम देते हुए कहा कि इसका निवारण अवश्य होना चाहिए। देश में बहुसंख्यक अल्पसंख्यक का भेद खत्म करने के लिए उन्होंने आह्वान किया कि यदि आवश्यक हो तो संविधान संशोधन भी करना चाहिए लेकिन यह भेद समाप्त होना चाहिए। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक श्री मोहनराव भागवत ने सारपूर्ण भाषण में कहा कि हिंदू समाज विजय की ओर बढ़ रहा है जो सुनिश्चत है। विश्व में हिंदू का सम्मान बढ़ रहा है, समरसतापूर्ण व्यवहार इस दिशा में महत्वपूर्ण होगा। उन्होंने घोषणा की कि ‘‘मंदिर, पानी और श्मशान सबके लिए हो समान’’, यही मंत्र भारत के विकास का है। गौरक्षा के संदर्भ में उन्होंने कहा कि यह हिंदू समाज का संकल्प है जो किसी के बदनाम करने से रूकना नहीं चाहिए। श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के संदर्भ में उन्होंने घोषणा की कि वहां मंदिर ही बनेगा, उसी प्रारूप में बनेगा, उन्हीं पत्थरों से बनेगा और उन्हीं के नेतृत्व में बनेगा जो आंदोलन को यहां तक लेकर आए हैं। बहुत जल्द हिन्दू समाज का यह सपना भी पूरा होनेवाला है। इस सत्र में जैन संत वीरेन्द्र हेगड़े जी ने स्वागत भाषण करते हुए कहा कि हिन्दू समाज अनादिकाल से चला आ रहा है।

सब प्रकार के षड़यंत्रों और अत्याचारों के बावजूद भी हिन्दू को कभी समाप्त नहीं किया जा सका, हिन्दू हमेशा विजेता रहा है। विश्व हिन्दू परिषद के कार्याध्यक्ष डाॅ प्रवीणभाई तोगड़िया ने पूज्य संतों के चरणों में विश्व हिन्दू परिषद का निवेदन प्रस्तुत करते हुए कहा कि मठ-मंदिरों का अधिग्रहण और ध्वंस किसी भी हालत में स्वीकार नहीं किया जा सकता। समाज को अस्पृश्यता से मुक्त करना ही होगा। गौरक्षा या राम मंदिर का संकल्प हिन्दू समाज को शीघ्र ही पूरा करना है।


इस सत्र में विश्व हिन्दू परिषद के महामंत्री चम्पत राय, पूज्य गोविन्द देव गिरि जी महाराज, सुकैर स्वामी (मैसूर), डा  परमानंद जी, आदिचुनचुनगिरि मठ के स्वामी निर्मलानंद जी व परमार्थ निकेतन के पूज्य चिदानंद जी ने हिन्दू समाज का आह्वान करते हुए कहा कि हिन्दू विजय की निर्णायक घड़ी आने वाली है और धैर्य से काम लेकर ही विजय प्राप्त की जा सकती है।




जरा ठहरें...
अब एक दिन में ५० हजार ही वैष्णव देवी के दर्शन करेंगें
पतांजलि के बाद श्रीश्री तत्वा बाजार में जल्द
विश्व हिंदू परिषद का ऐलान ६ दिसंबर तक ५१ लाख बंजरगी शामिल किए जाएंगे
श्रीश्री से मुलाकात के बाद शिया धर्म गुरू ने राम मंदिर बनाने की बात कही
छठ महापर्व का हुआ समापन
छठ पूजा के लिए भाजपा ने किया घाटों की साफ-सफाई
अयोध्या में त्रेता के बाद कलयुग में दिखी ऐसी दिवाली!
जीएसटी की मार से बाजार से दीपावली की रौनक गायब!
चीनी पटाखों से भारतीयों का मोहभंग, ४० फीसदी तक गिरावट की संभावना!
व्यापार संगठनों ने सरकार से पटाखे पर लगे प्रतिबंध के खिलाफ कदम उठाने की मांग की
विश्व पुस्तक मेले को देखने के लिए उमड़े लोग
रोमामिया में ११वीं में पढ़ाया जाता है रामायण और महाभारत के अंश
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें