ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

धर्म/तीज़-त्यौहार

अयोध्या में त्रेता के बाद कलयुग में दिखी ऐसी दिवाली!

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

१९ अक्टूबर २०१७

अयोध्या में बुधवार को छोटी दिवाली जोर-शोर से मनाई गई। कहा जा रहा है कि धर्म ग्रंथों में जिस तरह की दीवाली का वर्णन अयोध्या का किया गया है वैसी दीवाली राम की नगरी अयोध्या में त्रेता युग के बाद कलयुग में देखने को मिली। योगी सरकार ने अयोध्या में ऐसी दिवाली का आयोजन किया जिसका चर्चा पूरे भारत के साथ दुनिया में हो रही है। इस आयोजन में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्याथ, राज्यपाल राम नाईक, दोनों उप मुख्यमंत्रियों सहित तमाम मंत्रियों की मौजूदगी में सरयू तट 1.71 लाख दीपों की रोशनी से जगमगा उठा। इस दीपोत्सव से पहले योगी व राज्यपाल ने 133 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शिलान्यास कर अयोध्या को विकास का तोहफा दिया और विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण-पत्र सौंपे।


योगी ने श्रीराम कथा पार्क में श्रीराम का राज्याभिषेक किया। कार्यक्रम के दौरान हेलिकॉप्टर के माध्यम से भगवान श्रीराम पर पुष्प वर्षा की गई। वहां मौजूद सैकड़ों लोगों ने जय श्रीराम के नारे लगाए। इसके बाद राज्यपाल नाईक व योगी ने दीप प्रज्‍जवलित कर दीपावली के पर्व दीपोत्सव की शुरुआत की और अयोध्या 1.85 लाख दीपों से जगमगा उठी। इस पहले समारोह में मुख्यमंत्री योगी ने कहा, "थाईलैंड और इंडोनेशिया में श्रीराम का बहुत महत्व है। वहां की हर सड़क का नाम भगवान राम के नाम पर है। सबसे बड़े मुश्लिम देश इंडोनेशिया के लोग मानते हैं कि उनका धर्म इस्लाम जरूर है, लेकिन उनके पूर्वज भगवान राम हैं। आज यहां इंडोनेशिया के कलाकार रामलीला करने आए हैं।" उन्होंने कहा, "आज राज्य सरकार में किसी के साथ किसी प्रकार का भेदभाव नहीं है। रामराज्य की यही खासियत है, रामराज्य में सभी को समान अवसर थे। किसी भी वर्ग के साथ कोई भेदभाव नहीं था।"

दीपोत्सव की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, "दीपोत्सव में आज हम सब एकत्रित हुए हैं। अयोध्या रामराज्य की परिकल्पना को साकार करती है। अयोध्या नगरी में कार्यक्रम को सब लोगों ने मूर्त रूप दिया। देश-दुनिया में उप्र पर्यटन का हब बने, उसकी शुरुआत अयोध्या से होने जा रही है।" योगी ने कहा, "जिस गरीब के घर में आजादी के 70 साल बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से बिजली आई है, उसके लिए वही रामराज्य है। अब अयोध्या की बिजली सुधरी है, हम अयोध्या को 24 घंटे बिजली देने को तैयार हैं। अयोध्या को उसकी पहचान और सम्मान मिले, इसके लिए अयोध्या को उप्र सरकार ने नगर निगम का दर्जा दिया है।"


मुख्यमंत्री ने कहा, "अयोध्या की जितनी आबादी है, आज उतने दीप जले। अयोध्या मानवता की धरती है। मानवता का पथ दुनिया को अयोध्या ने पढ़ाया है और वह भी राम राज्य के माध्यम से। अयोध्या लगातार प्रहार झेलती रही, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा।" प्रदेश सरकार की योजनाएं गिनाते हुए उन्होंने कहा, "हमने छह महीने में 86 लाख किसानों का कर्जा माफ किया है।"


उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा, "हम सब चाहते हैं कि आसुरी प्रवृत्तियों का नाश हो, उत्तर प्रदेश भ्रष्टाचार, व्याभिचार से मुक्त हो।" उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य ने कहा, "भले ही हम अभी भव्य राम मंदिर का निर्माण नहीं कर सकते, लेकिन अयोध्या का विकास करने से कोई रोक नहीं सकता।" केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार अयोध्या के विकास के लिए कृत संकल्पित है। दीपोत्सव कार्यक्रम का आयोजन उप्र पर्यटन विभाग द्वारा किया गया।



जरा ठहरें...
जीएसटी की मार से बाजार से दीपावली की रौनक गायब!
चीनी पटाखों से भारतीयों का मोहभंग, ४० फीसदी तक गिरावट की संभावना!
व्यापार संगठनों ने सरकार से पटाखे पर लगे प्रतिबंध के खिलाफ कदम उठाने की मांग की
ज्यादातर पुरूष करवा चौथ व्रत के खिलाफ हैं!
प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति ने विजयदशमी की देशवासियों को बधाई दी
हरि नगर संतोषी मंदिर में नवरात्रि उत्सव शुरू
राष्ट्रपति ने भगवान महावीर के दर्शन को उपयोगी बताया
विश्व पुस्तक मेले को देखने के लिए उमड़े लोग
पूरे देश में गणेशोत्सव की धूम
मनुष्य के उद्धार के लिए श्रीकृण ने कहा था कर्म के अनुसार फल मिलता है
बाबा बूढ़ा अमरनाथ यात्रा में आने वाले यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए - बजरंग दल
तीज और राखी के अवसर पर आयोजित समारोह में विदेशी राजदूतों ने हिस्सा
योग ध्यान ही गीता का सार मर्म़ है’’- डा नागेन्द्र
अमरनाथ यात्रा शुरू हुई
योग को बढ़ावा देने के लिए सरकार पार्कों का निर्माण करेगी - श्रीपद एसो नाइक
योग दिवस कार्यक्रम लखनऊ के रमाबाई मैदान में होगा
रोमामिया में ११वीं में पढ़ाया जाता है रामायण और महाभारत के अंश
अयोध्या में रामलीला का मंचन आज से शुरू
यमुना इतनी ही नाजुक थी तो उत्सव की इजाजत क्यों दी : श्री श्री रविशंकर
पूरे नौ दिन संतोषी मां के मंदिर में छाया रहा भक्तों का तांता
भाजपा राम मंदिर कभी नहीं बनाएगी - शंकराचार्य
'पूजास्थलों में महिलाओं के प्रवेश पर रोक नहीं लगेगी'
देश में कोई जनजाति महिषासुर की पूजा नहीं करती!
साल के अंत तक राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा
पाताल भुवनेश्वर की गुफा, धर्म, रहस्य और रोमांच का संगम है
मस्जिद कभी भी तोड़ी जो सकती है - स्वामी
किसने लिखा जन-जन की आरती ओम जय जगदीश हरे...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें