ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

धर्म/तीज़-त्यौहार

कुतुब बिहार छठ तालाब स्थिति काली माता मंदिर में कीर्तन महोत्सव का आयोजन

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

गोयलाडेरी, दिल्ली, 25 दिसंबर 2021

दक्षिण और पश्चिम दिल्ली के अंतर्गत आने वाली कालोनी, कुतुब बिहार फेज-1 और फेज-दो गोयलाडेरी में चलने वाले 24 घंटे का कीर्तन महोत्सव पूरे उत्साह के साथ आयोजित किया गया है। यह कालोनी दिल्ली के द्वारका सेक्टर 19 से सटा हुआ है। 24 घंटे चलने वाले इस कीर्तन महोत्सव में भंडारे का आयोजन भी किया गया है। भंडारा लगभग 24 घंटे चल रहा है। जो भी श्रद्धालु यहां आ रहे हैं उन्हें प्रसाद के तौर पर बूंदी और खाना खिलाया जा रहा है।
हम बता दें कि कुतुब बिहार फेज 1 में स्थित छठ तालाब जहां विख्यात काली माता मंदिर स्थिति है में कीर्तन का आयोजन किया गया है। इस पूरे धार्मिक समारोह का आयोजन काली माता मंदिर सर्व समाज की तरफ से किया गया है। इस बारे में काली माता मंदिर सर्व समाज के महासचिव उमेश सिंह ने थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क से बात चीत करते हुए कहा कि सन- 2007 से लगातार प्रत्येक वर्ष 25 दिसंबर को यह कीर्तन भजन समारोह का आयोजन किया जाता है। जिसमें प्रमुख रूप से सहयोग देने वालों में डा मनीषा सिंह की अध्यक्षता में इस धार्मिक कार्य क्रम का आयोजन किया जाता है। जिनमें प्रमुख रूप से सहयोग देने वालों में मंदिर के पुजारी परशुराम, महासचिव उमेश सिंह, राम दयाल शर्मा, चंद्र शेखर, चंदन, गुड्डू सिंह और क्षेत्रीय आप नेता शैलेंद्र पांडेय के साथ समस्त कुतुब बिहार कालोनी वासियों का प्रमुख सहयोग रहता है।

आम आदमी पार्टी के नेता शैलेंद्र पांडेय ने कहा इस आयोजन का मुख्य मकसद सनातन हिंदू धर्म को बचाए रखना और समस्त समाज के कल्याण की कामना करते हुए सामाजिक कार्यों को करते रहना है। यह कार्यक्रम 25 दिसंबर को क्यों मनाया जाता है इस प्रश्न के जवाब में उमेश सिंह ने कहा कि सनातन धर्म को बचाए रखने के लिए 25 दिसंबर को इस कीर्तन महोत्सव का आयोजन किया जाता है। 25 दिसंबर को सुबह 6 बजे कीर्तन शुरू हो जाता है और 26 दिसंबर को सुबह होम अनुष्ठान पूरा करने के बाद कीर्तन का समापन होता है। लगभग दो दिन तक चलने वाले इस धार्मिक समारोह में जो भी श्रद्धालु आते हैं उन्हें प्रसाद के तौर भंडारे का खाना खिलाया जाता है। हम बता दें कि कुतुब बिहार में स्थित कालीमाता का यह मंदिर परिसर काफी बड़ा है और यहां आए दिन धार्मिक अनुष्ठान का आयोजन कालोनी वासियों के सहयोग से किया जाता रहता है। 




उमेश सिंह अपने सहयोगियों के साथ।





जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.