ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

धर्म/तीज़-त्यौहार

नवरात्रि के मौके पर दिल्‍ली के हरिनगर में प्रसिद्ध सिद्धेश्‍वरी संतोषी माता के मंदिर में उत्सव

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 4 अप्रैल 2022

चैत्र नवरात्रों के पावन पर्व के अवसर पर राजधानी दिल्‍ली के हरिनगर में स्‍थित प्रसिद्ध सिद्धेश्‍वरी  संतोषी माता के मंदिर के प्रांगण में प्रेम, संतोष , क्षमा, खुशी और आशा की प्रतीक माँ संतोषी का पावन पर्व का 100वॉं नवरात्र मेला उत्‍सव का आयोजन दिनांक 2 अप्रैल, 2022से 10 अप्रैल, 2022 तक मंदिर प्रांगण में संचालक एवं संरक्षक अमित सक्‍सेना जी के तत्‍वावधान में ज्‍योति प्रज्‍जवलित कर चैत्र नवरात्रों को श्रीगणेश किया जाएगा। नवरात्रों के समापन बेला पर मॉं भगवती जागरण कार्यक्रम आयोजित होगा । 
  
भक्‍तजनों की इच्‍छाओं को पूर्ण करने वाली, दुखों को हरने वाली, सुख एवं समृद्धि प्रदान करने प्रसिद्ध सिद्धेश्‍वरी मॉं संतोषी के इस पावन  मंदिर से आपको नवरात्रों के परिप्रेक्ष्‍य में ज्ञात कराया जा रहा है। जैसा कि हमारी चेतना के अंदर सतोगुण, रजोगुण और तमोगुण तीनों प्रकार के मन व्‍याप्‍त हैं । प्रकृति के साथ इसी चेतना के उत्‍सव को नवरात्रि कहा जाता  है। मॉं संतोषी को मॉं दुर्गा के सबसे शांत, कोमल और विशुद्ध रूपों में से एक माना जाता है । संतोषी मां कमल के फूल पर विराजमान  है । मॉं का रूप इस बात का प्रतीक है कि भले ही संसार स्‍वार्थियों और कठोर लोगों से भरा हो, भ्रष्‍टाचार व्‍याप्‍त हो परन्‍तु मॉं संतोषी अपने भक्‍तों के  हृदय  में  हमेशा  अपने शांत और सौम्‍य रूप में विराजमान रहती हैं । जिन भक्‍तजनों के हृदय में कोई कपट नहीं है और माता के प्रति सच्‍ची श्रद्धा है वहॉं मॉं संतोषी निवास करती हैं ।   

संतोषी माता के दर्शन हेतु भक्‍तों के लिए पूजापाठ,उपवास रखने वाले भक्‍तों के लिए विशेष व्‍यवस्‍था का प्रबंध किया जाता है । मंदिर के द्वार भक्‍तों के लिए 24 घंटे खुले रहते हैं तथा मंदिर में भकतों के लिए भंडारे की विशेष व्‍यवस्‍था सांय 4.00बजे से रात्रि 10 बजे तक की जाती है जिसमें लगभग 10 हजार भक्‍तों को प्रसाद वितरण किया जाता है । भक्‍तों को किसी प्रकार की असुविधा न हो, उनके लिए क्‍लॉक रूम, रात्रि विश्राम तथा सुरक्षा आदि की व्‍यवस्‍था समुचित रूप से की जाती   है । मॉं संतोषी के मंदिर में दिन का शुभारम्‍भ मॉ भगवती के भजनों से प्रारम्‍भ होता है तथा साथ ही दुर्गा सप्‍तशती पाठ, हनुमान चलीसा, भजन संध्‍या, रंगमंच कलाकरों द्वारा आयोजन किया जाता है ।

प्रसन्‍नता का विषय है कि नवरात्रे मेला पिछले 50 वर्षों से विधिपूर्वक मनाया जा रहा है जिसमें देश-विदेश के विभिन्‍न भागों से भक्‍तजन अपनी-अपनी मनोकामनाएं लेकर आते है । अरदास तथा निस्‍वार्थ सेवा-भाव से ही भक्‍तों की मनोकामना, बीमारी और कष्‍ट दूर होते हैं । सभी भक्‍तजनों को प्रसिद्ध सिद्धेश्‍वरी संतोषी माता के संचालक एवं संयोजकों की पावन पवित्र नवरात्रे की हार्दिक शुभकामनाएं । 



फाइल फोटो।





जरा ठहरें...
श्रृंगार गौरी और ज्ञानवापी मामले पर अगली सुनवाई 26 मई को
22 फरवरी से शुरू होगी रामायण डीलक्स ट्रेन यात्रा अपने आप में अनोखी ट्रेन है रामायण डीलक्स
कुतुब बिहार छठ तालाब स्थिति काली माता मंदिर में कीर्तन महोत्सव का आयोजन
श्रीरामायण यात्रा रेल से करिए पूरे भारत में भगवान राम से जुड़े पवित्र तीर्थ स्थलों का दर्शन
विश्व की पहली रामायण यात्रा रेलगाड़ी की शुरूआत 7 नवंबर से
अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि की रहस्यमयी मौत बनी एक पहेली
विख्यात कोईरीपुर के शिवालय की अष्टधातु की मूर्ति पुजारी ने ही बेच दी
36 से 40 महीने में बनकर तैयार हो जाएगा राम मंदिर : चम्पत राय
...ऐसा होगा भव्य भगवान राम का मंदिर जिसे निहारेगी सारी दुनिया...!
आयोध्या पर सर्वोच्च फैसला: सत्यमेव जयते...!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Third Eye World News: वीडियो
22 मार्च 2022 से...
Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.