ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

धर्म/तीज़-त्यौहार

"राम लला की जो विग्रह शोसल मीडिया पर दिख रही है वो सही नहीं है"
राम मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास ने कहा यदि ऐसा है तो जांच कराई जाएगी

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 21 जनवरी 2024

रामजन्म भूमि में स्थापित राल लला के मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास ने कहा है कि सोशल मीडिया में भगवान राम लला की जो विग्रह (मूर्ति) दिखाई जा रही है। अभी भी भगवान राम की आखों पर पट्टी बधी है। बता दें कि अयोध्‍या में श्रीराम जन्‍मभूमि पर बने राममंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्‍ठा 22 जनवरी 2024 को होनी है। समारोह की तैयारियां जोर शोर से चल रही हैं। इस बीच सोशल मीडिया में रामलला की एक तस्‍वीर वायरल हो रही है जिसमें मूर्ति की आंखें खुली हुई दिख रही हैं। 

श्रीराम जन्‍मभूमि के मुख्‍य पुजारी आचार्य सत्‍येन्‍द्र दास ने इस पर नाराजगी जताते हुए कहा कि प्राण प्रतिष्‍ठा से पहले मूर्ति का ऐसा स्‍वरूप नहीं मिल सकता। यदि ऐसा हुआ है तो इसकी जांच कराई जाएगी। उन्‍होंने कहा कि प्राण प्रतिष्‍ठा से पहले रामलला के नेत्र नहीं खुलेंगे। आचार्य सत्‍येन्‍द्र दास ने कहा कि मूर्ति का ऐसा स्‍वरूप यदि वास्‍तव में  मिला है तो इसकी जांच कराई जाएगी। इसे किसने खोला यह पता लगाया जाएगा। मूर्ति कैसे वायरल हो  गई। इसकी जांच कराई जाएगी। उन्‍होंने कहा कि मूर्ति का पूरा श्र्ंगार किया जाता है लेकिन उसके नेत्र नहीं खोले जाते। वर्तमान में मंत्र, पूजन और अन्‍य कर्मकांड हो रहे हैं।

मुख्‍य पुजारी ने  कहा कि प्राण प्रतिष्‍ठा के नियमों का पालन किया जा रहा है। मूर्ति को खोला नहीं गया है। शरीर को कपड़े से ढंक दिया गया है। जो तस्‍वीर सोशल मीडिया में वायरल हो रही है वो झूठी है। जब मूर्ति तैयार हो जाती है तो उसके नेत्र बंद कर दिए जाते हैं। उसे  स्‍थापित कर दिया जाता है। आंख खुली हुई जो मूर्ति दिखाई जा रही है वो गलत है।



संग्रहित तस्वीर।





जरा ठहरें...
माँ सरस्वती व माँ नर्मदा मईया की पूजा अर्चना, दिन भर होगे धार्मिक अनुष्ठान
अयोध्या में 6 दिन में 15 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने किए राम लला के दर्शन
प्रधानमंत्री ने दिए विरोधियों को जवाब, "प्रभु राम आग नहीं ऊर्जा है "
राम लला की प्राण प्रतिष्ठा महापर्व में सिर्फ अयोध्या में जलाए जाएंगे इतने दिए
राम लला की प्राण प्रतिष्ठा पर रोक के लिए इलाहाबाद उच्च न्यायालय में याचिका दायर
श्रीराम तीर्थ ट्रस्ट अयोध्या धाम ने दुनिया भर के रामभक्तों को दिया यह काम
रावण के वध के बाद प्रभु राम इतने वर्षों तक अयोध्या में राज किए
पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने चांदनी चौक में बांटे भगवान के अक्षत और बांटे दीपक
इन विशेषताओं से परिपूर्ण तैयार हो रहा है प्रभु श्रीराम का दिव्य भव्य मंदिर
राम लला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए प्रधानमंत्री का 12 जनवरी से कठिन अनुष्ठान शुरू
राम मंदिर के लिए खोलकर भक्तों ने दिया दान
‘पतंजलि गुरुकुलम्’ की नई शाखा का हुआ शिलान्यास
योगानंद के जीवनोत्सव पर योगदा सत्संग आत्मसाक्षात्कार के हिंदी में नए पाठमाला का विमोचन एक ऐतिहासिक उपलब्धि: स्वामी ईश्वरानंद
श्री श्री परमहंस योगानन्द के जीवन का विश्व पर अत्यन्त प्रेरक प्रभाव
22 जनवरी 2024 को अयोध्या जी में प्राण प्रतिष्ठा के संदर्भ में अक्षत वितरण
योगावतार के जीवन से अमृतपान - श्री श्री लाहिड़ी महाशय की 195वीं जयंती विशेष
सनातम धर्म सबसे उदार है जो सभी स्वीकार्य है - सलमान खुर्शीद, कांग्रेस नेता
श्रीरामायण यात्रा रेल से करिए पूरे भारत में भगवान राम से जुड़े पवित्र तीर्थ स्थलों का दर्शन
विख्यात कोईरीपुर के शिवालय की अष्टधातु की मूर्ति पुजारी ने ही बेच दी
...ऐसा होगा भव्य भगवान राम का मंदिर जिसे निहारेगी सारी दुनिया...!
आयोध्या पर सर्वोच्च फैसला: सत्यमेव जयते...!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.
Design & Developed By : AP Itechnosoft Systems Pvt. Ltd.