ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

क्या आप जानते हैं

वेस्ट मैनजमेंट और ड्रेनेज सिस्टम मेरी प्राथमिकता में होगी: ललित
ललित जायसवाल पिछले कई सालों से सामाजिक गतिविधियों में सक्रिय हैं

आकाश श्रीवास्तव

६ अगस्त २०१७

हर युग में निःस्वार्थ समाज सेवा करने वालों का सम्मान होता रहा है। समाज सेवा परोपकार का काम तो है ही इसके जरिये भगवान के करीब जाने का भी मौका मिलता है। हर समाज में ऐसे लोग मिल जायेंगे जो दूसरों की मदद को अपना कर्तव्य समझते हैं। ऐसे लोंगो को न तो किसी एवार्ड की जरूरत होती है, न ही किसी तरह के बाहरी आडंबर की। फिर भी हम सबका यह कर्तव्य है कि हम-आप ऐसे लोंगो के सराहनीय प्रयासों को अपने-अपने तरीके से ‘सैल्यूट’ दें।


इसी कड़ी में हमने आज गाजियाबाद के समाजसेवी ललित जायसवाल को चुना है। ललित जायसवाल गाजियाबाद का एक ऐसा जाना-पहचाना नाम है जिनके बिना गाजियाबाद में किसी कार्यक्रम की कल्पना नहीं की जा सकती है। भले ही कुछ लोगों को ललित एक समाजसेवी दिखते हों, लेकिन उनका मित्रवत् व्यवहार बच्चे-बूढ़े सबका दिल जीत लेता है। जायसवाल शहर में होने वाले तमाम सांस्कृतिक और सामजिक कार्यक्रमों की शान कहलाते हैं। ललित वर्षो से अपनी सोच के बल पर और क्रियाकलापों के माघ्यम से गाजियाबाद की गंगा-जमुनी संस्कृति को नईं ऊंचाइयां देने का काम कर हैं। जायसवाल करीब 32 सालों से समाज सेवा के क्षेत्र में सक्रिय हैं। बात ललित के शहरवासियों के साथ जुड़ाव की कि जाये तो ललित जायसवाल सिविल डिफेन्स के पूर्व चीफ वार्डन के रूप में अपनी सेवांए दे चुके हैं। इसके साथ-साथ आप धर्मिक रामलीला समिति, कविनगर, कविनगर रेजिडेण्ट्स फेडरेशन और जायसवाल समाज के अध्यक्ष भी हैं। परमार्थ समिति, आरडब्यूए गाजियाबाद, हिन्दी भवन समिति, अखिल भारतीय योग संस्थान जैसी संस्थाएं ललित जायसवाल के संरक्षण में कार्य कर रही हैं। अंजुमन वतन परस्त के महासचिव होने के साथ ही जायसवाल ठाकुरद्वारा बालिका विद्यालय के कार्यकारिणी सदस्य, इंद्रप्रस्थ इंजीनीयरिंग कॉलेज साहिबाबाद और कृष्णा इंजीनियररिंग कॉलेज मोहन नगर के ट्रस्टी भी हैं। ललित से अक्सर यह सवाल पूछा जाता है कि आप सियासत के मैदान में क्यों नहीं कूदते हैं। वह भी तो समाज सेवा का ही एक सशक्त माध्यम है। इस पर ललित जायसवाल कहते हैं कि हॉं यह सच है कि राजनीति के जरिये समाजसेवा का कार्य और भी कर्मठता के साथ किया जा सकता है। पेश है समाजसेवी ललित जायसवाल से हुई बातचीत के महत्वपूर्ण अंश।











प्रश्नः आप आगामी नगर निकाय चुनाव में मेयर पद की दावेदार होंगे?

ललितः जी हां, मैं गाजियाबाद नगर निगम में मेयर पद की दावेदारी पेश कर रहा हूं। मुझे कुछ लोगों ने राय दी कि आप लंबे समय से समाजसेवा के क्षेत्र में सक्रिय हैं। ऐसे में आप भी कुछ सियासी पावर लो, यदि पावर होगी तो समाजसेवा में बढ़ोत्तरी हो सकती है। इसलिए ख्याल आया मेयर बनकर पांच साल शहर और शहरवासियों के लिए कुछ किया जा सकता हैं। मैने भाजपा के कई नेतओें को लड़वाया है। मैं हमेशा से ही भाजपा का कर्मठ कार्यकर्ता रहा हूं। अगर पार्टी मुझे चुनाव लड़ने का मौका देती है तो मैं हर कसौटी पर खरा उतरने का प्रयास करूंगा।


प्रश्नः मेयर बनने पर आपकी प्राथमिकताएं क्या रहेगी?

ललितः यदि मैं मेयर बनता हूं वेस्ट मैनजमेंट और ड्रेनेज सिस्टम पर कार्य करूंगा। शहर के यह दो सिस्टम सुधार जाते हैं तो शहर की बहुत सी समस्याएं अपने आप ही हल हो जाएगी। इसके साथ ही मैने कई समस्याओें के निराकरण के लिए खाका तैयार कर रखा है। जिनको समय आने पर पूरा किया जाएगा।


प्रश्नः आप बीजेपी से टिकट चाहते हैं, लेकिन योगी सरकार के काम संतोषजनक नहीं लग रहे है ?

ललितः यह सब विपक्ष का प्रोपोगंडा है। प्रदेश की योगी सरकार ने जनकल्याण की जो योजनाएं बनाई हैं, वो अभूतपूर्व है। योगी सरकार निरंतर प्रदेश को विकास और खुशहाली के रास्ते पर ले जाने का कार्य  कर रही है। योगी सरकार ‘सबका साथ, सबका विकास’ के संकल्प से जरा भी नहीं डिगी है। सरकार बिना किसी भेदभाव के सभी वर्गों के लिए काम कर रही है। भोजन, आवास, सड़क, पेयजल, और शौचालय जैसी मूलभूत जरूतों के साथ कानून व्यवस्था को चाक चौबंद करने के  लिए सरकार  सतर्क है। युवाओं की शिक्षा, रोजगार के लिए ठोस प्रयास किए गए है,जिसके परिणाम जल्द दिखाई देने लगेंगे।


प्रश्नः और बढ़ते अपराध पर क्या कहना चाहेंगे ?

ललितः किसी भी समस्या का समाधान अचानक से नहीं हो सकता है। अभी तक अफसरों के कार्य करने की एक अलग कार्यप्रणाली थी, लेकिन अब कार्य करने की संस्कृति बदली है। ऐसे में भी अफसरों को बदलने में थोड़ा समय लगेगा। योगी जी, भ्रष्टाचार और भय मुक्त समाज की स्थापना करने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। अपराध और अपराधियों पर हर हाल में लगाम लगेगी,जो कानून तोड़ रहे हैं,वह छुट्टा घूम नहीं रहे हैं। उनको जेल की सलाखों के पीछे डाला जा रहा है।


प्रश्नः आपको कुछ लोग प्रकृति प्रेमी भी मानते हैं ?

ललितः खूबसूरत प्रकृति हमारे लिये भगवान की एक अनमोल देन है। इसकी खूबसूरती बनी रहे, इसके लिये हम क्या मोदी और योगी सरकार भी प्रयासरत् है। मैं पर्यावरण को बढ़ावा देने के लिये पौधारोपण के कार्य में विशेष रूप से सक्रिय रहता हॅू और लोंगो में इसके लिये जागरूकता पैदा करता हॅू। नए पौधे लगाने की जरूरत हमेशा रहती है। जितने ज्यादा पौधे लगेंगे, वातावरण उतना ज्यादा ही प्रदूषण मुक्त होगा। हमने अभी हाल में जीडीए के माध्यम से पौधरोपण कार्यक्रम किया था। साथ ही हम लगातार पौध वितिरत कर रहे हैं। जो भी व्यक्ति या संस्था पौधे लगाना चाहती हैं हमसे ले जा सकता है।


जरा ठहरें...
सरकार ने 2017-2018 के खाद्यान्नों के उत्पादन का आंकडा पेश किया
मोहन भागवत की दो टूक, हम भाजपा को नहीं नियंत्रित करते!
वैवाहिक रिश्ते में शारीरिक संबंध दुष्कर्म नहीं हो सकता - सरकार
पेट्रोल पंप वसूलते हैं आपसे शौचालय कर!
अयोध्या में मस्जिद कहीं नहीं बनने देंगे - विश्व हिंदू परिषद
दुग्ध उत्पादन में भारत दुनिया में अव्वल
अपने फर्नीचर का विशेष ध्यान रखे मानसून के मौसम में
चोटियां काटने वालों का सुराग नहीं रहस्य से भरा मामला
आईएस की दरिंदगी की इंतहा थी वो रातें, रोंगटे खड़े करने वाली दांस्तान सुनाई
कोर्ट ने केजरीवाल को चेतावनी दी कहा जेटली को अपशब्द न कहें
राम मंदिर के निर्माण के साथ २०१९ के चुनाव में उतरेगी भाजपा
माइनस 9 डिग्री में रचाई शादी!
दिल्ली सरकार ने शुरू की ई-आरटीआई सेवा
राजमार्गों का उपयोग ऑप्टिक फाइवर के लिए हो - गड़करी
चालीस साल लिव-इन में रहे अब जाकर शादी की
नासा एलिएंस पर बड़ा खुलासा जल्द करेगा
४० की उम्र में ६९ बच्चों का जन्म दिया
जहां ६० की उम्र में भी जवान दिखती हैं औरतें!
देश में 60 हजार से लापता बच्चों का कुछ अता-पता नहीं!
30 किलो से ज्यादा वजन के कुत्ते को घोड़ा मानता है रेलवे!
प्राकृतिक अपदाओ में मुफ्त में मदद नहीं करती भारतीय सेना
२८ साल की महिला ने १० बच्चों को जन्म दिया
मानव मांस का शौकीन था ब्रिटिश राजघराना
२०५ साल के बाबा, १०५ साल से नहीं खाया एक अन्न भी!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें