ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

क्या आप जानते हैं

केंद्रीय विश्वविद्यालयों में बड़े पैमाने पर भर्ती की तैयारी में सरकार

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

केंद्रीय विश्वविद्यालयों में सरकार ने बड़े पैमाने पर प्रध्यापक, सहायक प्रध्यापक की भर्तियां निकाली हैं। ब्यौरे के मुताबिक 38452 पद हैं। रिक्त पदों के लिए जो वैकेंसी निकाली गयी है। उसमें 13819 पदों की भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किए जा चुके हैं। एक आंकड़े के अनुसार राज्य सरकार में तीन लाख 69 हजार 169 वैकेंसी है। जिसमें से 1 लाख 123 हजार रिक्तियों की भर्ती करनी है। सरकार ने 22599 पदों के लिए अधिसूचना जारी की है।


प्रतीकात्मक तस्वीर। संग्रहित तस्वीर।

केंद्र सरकार ने 90 प्रतिशत रिक्त पदों के लिए अधिसूचना जारी कर दी है। वहीं राज्य अभी 20 प्रतिशत ही रिक्त पदों के लिए ही अधिसूचना जारी किए है। केंद्र राज्य सरकारों के संपर्क में है। जिससे जल्द से जल्द राज्य सरकारें रिक्त पदों को भर सकें। हम बता दें कि यूजीसी ने पहले ही इन भर्तियों के लिए दिशा निर्देश जारी किया हुआ है। यही नहीं केंद्र सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) को 10 प्रतिशत आरक्षण दिए जाने से नए शैक्षणिक सत्र में देशभर के 40 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में 4000 से अधिक पद सृजित होंगे। इसमें अकेले दिल्ली विश्वविद्यालय में ही करीब 3000 हजार पद होंगे।
सूत्रों के अनुसार 40 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में स्वीकृत 17,092 शैक्षिक पदों में से 11,486 पदों को भरा गया है। इसमें 5606 पद पिछले कई वर्षों से खाली हैं। अब जब सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से पिछड़े अभ्यर्थियों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने से इन विश्वविद्यालयों में 4273 सीटों का इजाफा होगा तो ये सीटें विश्वविद्यालयों के विभागों में बढ़ेंगी और इन विश्वविद्यालयों के अंतर्गत सम्बद्ध कॉलेजों में सीटों का इजाफा रोस्टर के हिसाब से किया जाएगा।

देश के सबसे बड़े केंद्रीय विश्वविद्यालय डीयू में नए शैक्षणिक सत्र में प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर और सहायक प्रोफेसर के 1706 स्वीकृत पद हैं। ईडब्ल्यूएस आरक्षण लागू होने के बाद 427 सीटें बढ़ जाएंगी। इसी तरह डीयू से सम्बद्ध कॉलेजों में 10 हजार से अधिक शिक्षक हैं। ईडब्ल्यूएस आरक्षण लागू होने पर इन कॉलेजों में 2500 सीटों की बढ़ोतरी होने की संभावना है। वर्तमान में 5000 शिक्षक तदर्थ रूप में कार्य कर रहे हैं। पिछले एक दशक से शिक्षकों की स्थायी नियुक्ति के न होने से प्रतिवर्ष तदर्थ शिक्षकों की संख्या बढ़ती जा रही है।


केंद्रीय विश्वविद्यालयों में शिक्षकों की सीटों को जल्द से जल्द भरने के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने विश्वविद्यालयों को एक सर्कुलर जारी कर रोस्टर रिकास्ट कर पदों को भरने के निर्देश दिए हैं। यदि सभी केंद्रीय विश्वविद्यालय अपना रोस्टर रिकास्ट करके लायजन ऑफिसर से रोस्टर पास करा लेते हैं तो इन पदों को आगामी शैक्षिक सत्र से पहले विज्ञापित कर भरा जा सकता है।
40 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में जहां सीटें बढ़ेंगी।




जरा ठहरें...
अमेजन और फ्लिपकार्ट की वजह से हजारों दुकानें बंद होने की कगार पर - कैट
भारतीय मूल के अर्थशास्त्री को मिला नोबेल पुरस्कार!
सरकार एसपीजी पाने वाले नेताओं के नियम में बदलाव करेगी
कृषि वैज्ञानिकों ने चने की नई प्रजातियां विकसित की
कैट ने फ्लिपकार्ट और अमेजन द्वारा त्यौहारी कारोबारी में छूट दिए जाने की आलोचना की
सर्वोच्च न्यायालय ने खुद उठाया समान नागरिक संघिता का मामला..!
चालान का कहर: एक लाख ४१ हजार ७०० का कटा चालान!
रेलवे ने आधुनिकता पर दिया जोर, हेड ऑन जनरेशन” प्रणाली का उपयोग!
भारतीय सेना के जवान ने शंख बजाकर बनाया विश्व रिकार्ड...!
चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ होने से हमारी रक्षा क्षमता बढ़ेगी - अमित शाह
देश के किसानों के लिए आज से शुरू हुई ''किसान पेंशन योजना''
भारत ने धारा ३७० खत्म किया, पाक ने भारत से संबंध खत्म किया
बच्चे की मुहं में 32 नहीं 526 दांत निकले...!!!
एक अस्पताल की 36 नर्सें एक साल में गर्भवती हुई...!
अमेरिकी अखबार ने कहा अब तक ११ हजार बार झूठ बोल चुके हैं अमेरिकी राष्ट्रपति
मंगला एक्सप्रेस में गंदे पानी से बनाया जाता है सूप और अन्य चीज
वैज्ञानिकों ने माना रामसेतु मानव निर्मित है
30 किलो से ज्यादा वजन के कुत्ते को घोड़ा मानता है रेलवे!
२०५ साल के बाबा, १०५ साल से नहीं खाया एक अन्न भी!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.