ताज़ा समाचार-->:

क्या आप जानते हैं

अगले महीने 5 और राफेल पहुंच रहे हैं हिंदुस्तान की आकाश की ताकत बनने

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 12 सितंबर 2020

चीन से तनाव के बीच भारतीय वायुसेना की सामरिक ताकत और बढ़ने जा रही है। अगले महीने यानी अक्टूबर में 5 और राफेल विमान भारत पहुंच रहे हैं। भारत ने फ्रांस के साथ 36 राफेल विमानों की खरीद के लिए सौदा किया था। 36 राफेल विमानों में से 30 लड़ाकू विमान होंगे और छह प्रशिक्षण विमान। प्रशिक्षण विमानों में दो सीट होंगी और उनमें लड़ाकू विमान वाली लगभग सभी विशेषताएं होंगी। राफेल विमान, रूस से सुखोई विमानों की खरीद के बाद 23 वर्षों में लड़ाकू विमानों की भारत की पहली बड़ी खरीद है।


इन विमानों को पश्चिम बंगाल में स्थित कलईकुंडा एयरफोर्स स्टेशन पर तैनात किया जाएगा। जो चीन से लगती पूर्वी सीमा की रखवाली करेंगे। इधर, राफेल विमानों के पहले बैच को बीते गुरुवार को भारतीय वायुसेना में आधिकारिक रूप से शामिल कर लिया गया। चीन से लगती सीमा में चरम तापमान को देखते हुए इस विमान में भारत ने अपने हिसाब से कुछ मोडिफिकेशन भी करवाएं हैं। जिससे कम तापमान में भी यह विमान आसानी से स्टॉर्ट हो सकता है। पहले बैच में भारत पहुंचे 5 राफेल विमानों के 250 घंटे से भी ज्यादा की उड़ान और फील्ड फायरिंग टेस्ट किए जा चुके हैं। इन विमानों को अंबाला में 17 गोल्डन एरो स्क्वाड्रन में शामिल किया गया है।
भारतीय राफेल के मुकाबले में चीन का चेंगदू J-20 और पाकिस्‍तान का JF-17 लड़ाकू विमान हैं। मगर ये दोनों ही राफेल के मुकाबले थोड़ा कमतर हैं। चीनी J-20 का मेन रोल स्‍टील्‍थ फाइटर का है, वहीं राफेल को कई कामों में लगाया जा सकता है। J-20 की बेसिक रेंज 1,200 किलोमीटर है जिसे 2,700 किलोमीटर तक बढ़ाया जा सकता है। J-20 की लंबाई 20.3 मीटर से 20.5 मीटर के बीच होती है। इसकी ऊंचाई 4.45 मीटर और विंगस्‍पैन 12.88-13.50 मीटर के बीच है यानी यह राफेल से खासा बड़ा है। पाकिस्‍तान के पास मौजूद JF-17 में चीन ने PF-15 मिसाइलें जोड़ी हैं मगर फिर भी यह राफेल के मुकाबले में कमजोर है।





जरा ठहरें...
ATM से सुरक्षित निकासी के लिए SBI देश भर में लागू करेगा ओटीपी नियम
करेंसी नोट कोरोना सहित विभिन्न बीमारियां फैला रहे हैं - कैट
प्रणब मुखर्जी: भारतीय इतिहास और राजनीति के अजातशत्रु…!
केंद्रीय गृहमंत्रालय का आदेश, एक राज्य से दूसरे राज्य के आवागमन में पाबंदी न हो
लद्दाख तनाव: भारत के मित्र राष्ट्र जल्द देंगे गोलाबारूद और हथियार..!
गलवान घाटी हमारा, चीन का झूठा दावा कतई मंजूर नहीं - भारत
हमारे जवान मारते मारते शहीद हुए हैं - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
केंद्रीय कैबिनेट ने खरीफ के फसलों पर समर्थन मूल्य ८३ प्रतिशत तक बढ़ाया
रेलवे ने अब तक २१ लाख से ज्यादा श्रमिकों को उनके गंतव्य तक पहुंचाया
संसद भवन के नवनिर्माण का ठेका गुजरात की कंपनी को..!
भारतीय सेना के जवान ने शंख बजाकर बनाया विश्व रिकार्ड...!
वैज्ञानिकों ने माना रामसेतु मानव निर्मित है
30 किलो से ज्यादा वजन के कुत्ते को घोड़ा मानता है रेलवे!
२०५ साल के बाबा, १०५ साल से नहीं खाया एक अन्न भी!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.