ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

क्या आप जानते हैं

मनाली से लेह लद्दाख रेल लाइन का सर्वेक्षण का काम पूरा-आसुतोष गंगल, महाप्रबंधक, उ.रे
उत्तर रेलवे अगले महीने रेलवे बोर्ड को सौंपेगा रिपोर्ट - आसुतोष गंगल, महाप्रबंधक, उ.रे

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 17 अक्टूबर 2021

लद्दाख को हर मौसम में जोडऩे वाली सामरिक महत्व की बिलासपुर-मनाली-लेह रेल लाइन का सर्वेक्षण का काम लगभग पूरा हो गया है और उत्तर रेलवे अगले महीने पूरी रिपोर्ट रेलवे बोर्ड को सौंप देगा। इस बारे में उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आसुतोष गंगल ने थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ से कहा कि सर्वे का काम लगभग पूरा हो चुका है और अगले महीने इसे रेलवे बोर्ड को सौंप दिया जाएगा।

इस मार्ग पर रेललाइन न केवल सुरंगों से गुजरेगी, बल्कि सैलानियों को शिवालिक, हिमालय और जांस्कर पर्वत श्रृंखलाओं में मनाली, रोहतांग दर्रा और लाहुल-स्पीति का सुरम्य वादियों का दिलकश नजारा मिल सकेगा। समुद्र तल से 4700 मीटर तक ऊंचाई वाली इस रेलवे लाइन का लगभग 55 प्रतिशत भाग यानी करीब पौने तीन सौ किलोमीटर सुरंगों से होकर गुजरेगा। इसके बनने के बाद राष्ट्रीय राजधानी से लेह के बीच यात्रा का समय आधा घट कर करीब 20 घंटे रह जाएगा।

सामरिक महत्व को देखते हुए सरकार इस परियोजना को जल्द से जल्द पूरा करना चाहती है। इसलिए संभव है कि रेललाइन के निर्माण के लिए पांच से दस पैकेज बना कर ठेका दिया जाएगा, ताकि सभी पर एक साथ काम शुरू हो और किसी भी दशा में इसी दशक में यह काम पूरा हो जाए।

उधर उत्तराखंड में रेल नेटवर्क को और बेहतर करने के लिहाज़ से ऋषिकेश-कर्णप्रयाग के बीच नई ब्रॉड गेज रेल लाइन का काम ज़ोरों पर चल रहा है. वास्तव में, चार धाम यात्रा को और आसान बनाने के लिए इस रेल लाइन प्रोजेक्ट को अहम माना जा रहा है। 



आसुतोष गंगल, महाप्रबंधक, उ.रे।





जरा ठहरें...
रेलवे चलाएगी लीक से हटकर 190 रेलगाड़ियां जिनका नाम होगा भारत गौरव ट्रेन
जोजिला सुरंग का एक महत्वपूर्ण भाग पूरा, दो ट्यूब के खुदाई का काम पूरा हुआ
कर्नाटक के आदिवासी उत्पादों की विश्व व्यापार मेले में धूम, दुनिया के कई देशों में लग चुकी है प्रदर्शनी
भारतीय अधिकारियों ने अफगान महिला सांसद को हवाई अड्डे से वापस लौटाया
रेलवे ने शुरू की गोल्डन चेरियट लग्ज़री ट्रेन - एक यात्रा और कई स्थान
दोबारा विश्व के सबसे अमीर शख्स बने जेफ बेजोस
गजब है देश की न्याय प्रणाली, जिंदा मुर्दा हो गया और 20 साल पहले मरे व्यक्ति को सजा मुक्त कर दिया
55 करोड़ लोगों द्वारा बोली जाने वाली हिंदी संयुक्त राष्ट्र की आधिकारिक भाषा क्यों नहीं..?
गुणों की खान बाजार में आयी लाल भिंडी
गुड़ का सेवन करना कई मामले में सेहत के लिए रामबाण!
वैज्ञानिकों ने माना रामसेतु मानव निर्मित है
30 किलो से ज्यादा वजन के कुत्ते को घोड़ा मानता है रेलवे!
२०५ साल के बाबा, १०५ साल से नहीं खाया एक अन्न भी!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.