ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

क्या आप जानते हैं

राज्य सहकारिता मंत्रियों का राष्ट्रीय सम्मेलन, गृहमंत्री ने किया सम्मेलन का उद्घाटन
“नई सोच के साथ आगे बढ़ रहा है गुजरात का सहकारिता क्षेत्र”

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 8 सितंबर 2022

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह की उपस्थिति में राजधानी में राज्य सहकारिता मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया। गुजरात के उद्योग एवं सहकार मंत्री जगदीश  विश्वकर्मा (पंचाल) भी विभिन्न राज्यों के सहकारिता मंत्रियों समेत इस आयोजन में हिस्सा लिया। अपने संबोधन में गुजरात के मंत्री ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं गृहमंत्री अमित शाह के इंडिया को सहकारिता का ब्रांड बनाने के लक्ष्य को दोहराते हुए कहा, “सहकारिता, सिर्फ वैधानिक और संवैधानिक प्रावधान नहीं है बल्कि सहकारिता एक स्पिरिट है, एक संस्कार है। माननीय मुख्यमंत्री भूपेंद्र  पटेल के नेतृत्व में गुजरात भी कृषि और सहकारिता को साथ लाने के लिए कई प्रयत्न कर रहा है क्योंकि हमारी नीति सदैव ‘फार्मर फर्स्ट’ की रही है”।  
 
मंत्री ने सहकारिता के क्षेत्र में राज्य की उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए कहा, “गुजरात में तकरीबन 85000 से ज्यादा सहकारी समितियां कार्यरत है जिसमें एक करोड़ 70 लाख से ज्यादा सभासद जुड़े हुए हैं। गुजरात में सहकारी ढांचे की बदौलत गुजरात के किसानों को 0% ब्याज पर अल्पकालिक कृषि ऋण मिल रहा है जिसका फायदा लाखों किसानों को हो रहा है यही है सरल और सक्षम सहकारिता”। गुजरात के दुग्ध क्षेत्र में अमूल के योगदान के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा, “अमूल का वार्षिक टर्नओवर 62,000 करोड़ है और गुजरात की लाखों महिला पशुपालक अमूल की नींव हैं जो सहकारिता के क्षेत्र में "नारी सशक्तिकरण" का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण प्रस्तुत करती हैं। आज अमूल पूरे देश और विश्व के लिए रोलमोडल है”। सहकारिता के क्षेत्र में गुजरात की भविष्य की नीतियों पर बात करते हुए माननीय मंत्री ने बताया कि इसी साल फरवरी में हुए सहकारिता विभाग के चिंतन शिविर में अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श करके एक रोडमैप तैयार किया गया है जिसके तहत गुजरात का सहकारी क्षेत्र परंपरागत ढांचे से ऊपर उठकर नई सोच के साथ नई सहकारिता प्रस्थापित करने का प्रयास कर रहा है। पूरे एशिया में सबसे पहले रजिस्टर हुइ "ढुंढी सौर उर्जा उत्पादक सहकारी समिति" गुजरात के खेड़ा ज़िले में है।

गोबर उत्पादक सहकारी समिति, घरेलू गैस सहकारी समिति, चाइल्ड केयर सहकारी समिति, कम्प्यूटर जॉब वर्क सहकारी समिति जैसी कई इनोवेटिव सहकारी समितियां गुजरात में सहकारी क्षेत्रको नए आयाम दे रही है। गुजरात में हर क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए सहकारिता एक बड़ा प्लेटफार्म बनी है जो उनकी शक्तियों को ट्रांसफॉर्म  करके उनके विकास को कन्फर्म कर रही है। के एम भीमाजियानी, सचिव, सहकारिता एवं  बी.एम. जोशी, अपर रजिस्ट्रार, एडमिन ने सम्मेलन में भाग लिया



गृहमंत्री ने किया अध्यक्षता।





जरा ठहरें...
केंद्र ने ई-कॉमर्स खाद्य व्यवसाय ऑपरेटरों को दिया निर्देश
दक्षिण भारत में विकास की नई आधार शिला रखेंगे प्रधानमंत्री
उ.प्र.रामपुर बना देश का पहला अमृत सरोवर, उद्घाटन केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी करेंगे
भारत ने दुबई को भेजा कटहल और हरी मिर्च
महत्वपूर्ण खबर, आज यदि पैन से आधार नहीं जोड़े, तो बढ़ेंगी मुश्किलें
देश का पहला पॉड रिटायरिंग रूम मुंबई रेलवे स्टेशन पर
यात्रियों को आरक्षित और अनारक्षित टिकट के लिए रेलवे ने उठाए कई कदम
हवाई जहाज से भी महंगा हुआ रेल किराया, आम आदमी की जेब पर भारी रेल टिकट
2014 से 2021 की अवधि के दौरान रद्द किए गए 4.28 करोड़ फर्जी राशन कार्ड
रेलवे चलाएगी लीक से हटकर 190 रेलगाड़ियां जिनका नाम होगा भारत गौरव ट्रेन
जोजिला सुरंग का एक महत्वपूर्ण भाग पूरा, दो ट्यूब के खुदाई का काम पूरा हुआ
कर्नाटक के आदिवासी उत्पादों की विश्व व्यापार मेले में धूम, दुनिया के कई देशों में लग चुकी है प्रदर्शनी
मनाली से लेह लद्दाख रेल लाइन का सर्वेक्षण का काम पूरा-आसुतोष गंगल, महाप्रबंधक, उ.रे
भारतीय अधिकारियों ने अफगान महिला सांसद को हवाई अड्डे से वापस लौटाया
रेलवे ने शुरू की गोल्डन चेरियट लग्ज़री ट्रेन - एक यात्रा और कई स्थान
दोबारा विश्व के सबसे अमीर शख्स बने जेफ बेजोस
गजब है देश की न्याय प्रणाली, जिंदा मुर्दा हो गया और 20 साल पहले मरे व्यक्ति को सजा मुक्त कर दिया
55 करोड़ लोगों द्वारा बोली जाने वाली हिंदी संयुक्त राष्ट्र की आधिकारिक भाषा क्यों नहीं..?
गुणों की खान बाजार में आयी लाल भिंडी
गुड़ का सेवन करना कई मामले में सेहत के लिए रामबाण!
वैज्ञानिकों ने माना रामसेतु मानव निर्मित है
30 किलो से ज्यादा वजन के कुत्ते को घोड़ा मानता है रेलवे!
२०५ साल के बाबा, १०५ साल से नहीं खाया एक अन्न भी!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.