ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

क्या आप जानते हैं

अनिल कुमार लहोटी बने रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष, जानिए कौन हैं लहोटी!

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 1 जनवरी 2023

अनिल कुमार लाहोटी ने आज रेलवे बोर्ड (रेल मंत्रालय) के नये अध्‍यक्ष एवं मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) का पदभार ग्रहण किया। मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने दिनांक 01.01.2023 से अनिल कुमार लाहोटी की अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, रेलवे बोर्ड के पद पर नियुक्ति को मंजूरी दी है । उन्होंने दिनांक 17.12.2022 को रेलवे बोर्ड में सदस्य, इंफ्रास्ट्रक्चर  के रूप में पदभार संभाला था। अनिल कुमार लाहोटी,  इंडियन रेलवे सर्विस ऑफ इंजीनियर्स के 1984 बैच के अधिकारी हैं। इन्हें भारत सरकार द्वारा अनुमोदित इंडियन रेलवे मेनेजमेंट सर्विस की लेवेल-17 की पहली पेनल में शामिल किया गया। उन्होंने माधव इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस, ग्वालियर से सिविल इंजीनियरिंग में गोल्ड मेडल के साथ स्नातक किया है और रुड़की विश्वविद्यालय (आईआईटी, रुड़की) से मास्टर ऑफ इंजीनियरिंग (स्ट्रक्चर्स) किया है। रेलवे में अपने 36 वर्षो से अधिक के सेवा काल के दौरान, उन्होंने मध्य, उत्तर, उत्तर मध्य, पश्चिम और पश्चिम मध्य रेल और रेलवे बोर्ड में विभिन्न पदों पर कार्य किया है।
इससे पूर्व, वह मध्य रेल के महाप्रबंधक के पद पर कार्यरत थे और कई महीनों तक पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक का अतिरिक्त प्रभार भी संभाला था। महाप्रबंधक के रूप में उनके कार्यकाल में सबसे अधिक संख्या में किसान रेल चलाने और  राजस्व  के मामले में उन्हें अब तक का सबसे अधिक माल और पार्सल यातायात (टन में) प्राप्त करने का श्रेय प्राप्त है। उन्होंने गैर-किराया, स्क्रैप की बिक्री और व्यापक टिकट जांच अभियान द्वारा राजस्व में रिकॉर्ड सुधार का कार्य भी किया है। उन्होंने मुंबई में वातानुकूलित उप-नगरीय सेवाओं के विस्तार के जटिल मुद्दे का सफलतापूर्वक परिचालन और समाधान किया है। उनके कार्यकाल के दौरान, मध्य रेल ने बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के निष्पादन और कमीशनिंग में बड़े स्तर पर सुधार किया तथा मुंबई में दिवा और ठाणे के बीच लंबे समय से प्रतीक्षित 5वीं और 6वीं लाइन की शुरुआत की।

लाहोटी ने मंडल रेल प्रबंधक, लखनऊ, उत्तर रेलवे के पद पर भी कार्य किया, जहां उन्होंने भीड़-भाड़ वाले गाजियाबाद-प्रयागराज-डीडीयू मार्ग के विकल्प के रूप में लखनऊ-वाराणसी-डीडीयू मार्ग पर माल ढुलाई में सुधार के लिए कई पहल की हैं । उन्होंने लखनऊ मंडल के स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं और स्वच्छता मानकों में सुधार के विशेष कार्य किये । उन्होंने लंबे समय से चली आ रही बाधाओं को दूर करने सहित बुनियादी ढांचे के उन्नयन के लिए कई कार्य किए और भविष्य में यातायात में वृद्धि के लिए नेटवर्क क्षमता के विस्तार के महत्वपूर्ण कार्यों की मंजूरी के लिए व्यापक योजना बनाई।

उत्तर रेलवे में मुख्य प्रशासनिक अधिकारी (निर्माण) और मुख्य इंजीनियर (निर्माण) के रूप में लाहोटी ने बुनियादी ढाँचे के विकास के लिये नई लाइनों, ट्रैक के दोहरीकरण और मल्टी-ट्रैकिंग, यार्ड रीमॉडेलिंग, महत्वपूर्ण पुलों, स्टेशन निर्माण आदि के कई कार्यों का निष्पादन किया। दिल्ली में आनंद विहार टर्मिनल’ और नई दिल्ली स्टेशन के प्रतिष्ठित ‘अजमेरी गेट’ साइड स्टेशन भवन की योजना और निर्माण उनके द्वारा किया गया है। आप विश्व स्तर के स्टेशन के रूप में नई दिल्ली स्टेशन के पुनर्विकास और वाणिज्यिक विकास की योजना से भी जुड़े रहे।

उन्होंने  स्ट्रैटेजिक मेनेजमेंट (सामरिक प्रबंधन) और लीडरशिप प्रोग्राम (नेतृत्व कार्यक्रम) में कार्नेगी मेलॉन यूनिवर्सिटी, पिट्सबर्ग, यूएसए; बोकोनी स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, मिलान, इटली; और इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस, हैदराबाद से प्रशिक्षण लिया है। उन्होंने हांगकांग, जापान, ब्रिटेन, जर्मनी और स्विटजरलैंड में स्टेशनों के विकास एवं रेलवे भूमि पर वाणिज्यिक विकास का अध्ययन किया है। उन्होंने ट्रैक प्रौद्योगिकी और ट्रैक अनुरक्षण मशीनों के विकास के सिलसिले में कई देशों का दौरा भी किया है।








जरा ठहरें...
वाराणसी मंडल के छपरा-बलिया रेल खण्ड के दोहरीकरण का निरीक्षण किया गया
राज्य सहकारिता मंत्रियों का राष्ट्रीय सम्मेलन, गृहमंत्री ने किया सम्मेलन का उद्घाटन
केंद्र ने ई-कॉमर्स खाद्य व्यवसाय ऑपरेटरों को दिया निर्देश
दक्षिण भारत में विकास की नई आधार शिला रखेंगे प्रधानमंत्री
उ.प्र.रामपुर बना देश का पहला अमृत सरोवर, उद्घाटन केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी करेंगे
भारत ने दुबई को भेजा कटहल और हरी मिर्च
महत्वपूर्ण खबर, आज यदि पैन से आधार नहीं जोड़े, तो बढ़ेंगी मुश्किलें
देश का पहला पॉड रिटायरिंग रूम मुंबई रेलवे स्टेशन पर
यात्रियों को आरक्षित और अनारक्षित टिकट के लिए रेलवे ने उठाए कई कदम
हवाई जहाज से भी महंगा हुआ रेल किराया, आम आदमी की जेब पर भारी रेल टिकट
2014 से 2021 की अवधि के दौरान रद्द किए गए 4.28 करोड़ फर्जी राशन कार्ड
रेलवे चलाएगी लीक से हटकर 190 रेलगाड़ियां जिनका नाम होगा भारत गौरव ट्रेन
जोजिला सुरंग का एक महत्वपूर्ण भाग पूरा, दो ट्यूब के खुदाई का काम पूरा हुआ
कर्नाटक के आदिवासी उत्पादों की विश्व व्यापार मेले में धूम, दुनिया के कई देशों में लग चुकी है प्रदर्शनी
मनाली से लेह लद्दाख रेल लाइन का सर्वेक्षण का काम पूरा-आसुतोष गंगल, महाप्रबंधक, उ.रे
भारतीय अधिकारियों ने अफगान महिला सांसद को हवाई अड्डे से वापस लौटाया
रेलवे ने शुरू की गोल्डन चेरियट लग्ज़री ट्रेन - एक यात्रा और कई स्थान
दोबारा विश्व के सबसे अमीर शख्स बने जेफ बेजोस
गजब है देश की न्याय प्रणाली, जिंदा मुर्दा हो गया और 20 साल पहले मरे व्यक्ति को सजा मुक्त कर दिया
55 करोड़ लोगों द्वारा बोली जाने वाली हिंदी संयुक्त राष्ट्र की आधिकारिक भाषा क्यों नहीं..?
गुणों की खान बाजार में आयी लाल भिंडी
गुड़ का सेवन करना कई मामले में सेहत के लिए रामबाण!
वैज्ञानिकों ने माना रामसेतु मानव निर्मित है
30 किलो से ज्यादा वजन के कुत्ते को घोड़ा मानता है रेलवे!
२०५ साल के बाबा, १०५ साल से नहीं खाया एक अन्न भी!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Third Eye World News: वीडियो
इन खूबियों से लैस है...
Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.