ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

बातें मीडिया की

राज्यपाल के प्राइवेट सेक्रेटरी वीरेंद्र राणा ने कहा, दुर्ग सिंह का साथ दिया तो जान आफत में आ जाएगी।

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

१६ सितंबर २०१८

पत्रकारों से बात करते हुए संदीप चौधरी पूर्व मीडिया इंचार्ज गवर्नर बिहार ने बताया के जब मैंने देखा एक निर्दोष पत्रकार दुर्ग सिंह  पर कैसे झूठा sc / st का केस दर्ज़ कराया गया और किस तरीके से बाड़मेर राजस्थान से लाकर इंडिया न्यूज़ के पत्रकार दुर्ग सिंह को पटना बिहार की जेल में  डाल दिया गया तो मैं चुप नहीं बैठ पाया क्योंकि मुझे पता है दुर्ग सिंह पर क्या बीत रही होगी और उसके परिवार पर क्या बीत रही होगी ये सब महसूस करते हुए मैंने राष्ट्रपति , प्रधानमंत्री , बिहार व राजस्थान के मुख्यमंत्रियों , सुप्रीमकोर्ट , हाई कोर्ट तथा सम्बंधित पुलिस अधिकारियों को मेल किया के कब तक दुर्ग सिंह निर्दोष होने के बाद भी कोर्ट चक्कर काटता रहेगा।


मीडिया को संबोधित करते हुए संदीप चौधरी।

इस केस की जांच रिपोर्ट सबके सामने लायी जाये और जो षड्यंत्रकारी है उनको सजा दी जाये क्योंकि दुर्ग सिंह कभी बिहार नहीं गया था और जिस व्यक्ति राकेश पासवान के नाम से केस किया गया वो दुर्ग सिंह को नहीं जानता न दोनों कभी मिले। मेरा ये मेल बिहार के लगभग सभी पत्रकारों को भी गया इस मेल के कुछ समय बाद ही मेरे पास वीरेंद्र राणा जो के पहले सत्यपाल मालिक का ड्राइवर हुआ करता था अभी राज्यपाल बनने के बाद प्राइवेट सेक्रेटरी बना हुआ है का मुझे व्हाट्स अप कॉल आया इस नंबर 9899996968  से के संदीप आप दुर्ग सिंह वाले मामले से दूर रहो नहीं तो जान आफत में आ जाएगी वो मामला कोर्ट में चला गया है चलने दो जितने साल चले आप दूर रहो बिल्कुल नहीं तो जैसे दुर्ग सिंह बिहार जेल गया वैसे कश्मीर की जेल भी हमारे हाथ में है। इसके बाद मैंने ये महसूस किया के ये लोग अगर दुर्ग सिंह को फंसा सकते है तो मेरे साथ भी कुछ करवा सकते है ये देखते हुए मैंने अपनी समस्या फिर राष्ट्रपति , प्रधानमंत्री व सम्बंधित सभी अधिकारियों को लिखी व मेल के माध्यम से सबको अवगत कराया तथा अपने नजदीकी पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज़ कराने हेतु लिखित शिकायत पत्र दिया।

इसके बाद से मुझे वीरेंद्र राणा के जीजा व राज्यपाल के प्राइवेट असिस्टेंट  कँवर सिंह राणा के बहुत सारे कॉल आये  मिलने के लिए दूसरे एक प्राइवेट असिस्टेंट विशाल श्योकंद ने भी मिलने की बात की लेकिन कोई भी बात फोन पर बात बताने  को तैयार नहीं था  इसलिए मैंने मिलना जरुरी नहीं समझा क्योंकि मुझे लग रहा था के या तो मुझे डराया जायेगा या फिर लालच दिया जायेगा लेकिन मैंने फैसला किया के निर्दोष पत्रकार दुर्ग सिंह को जब तक न्याय नहीं मिलेगा और दोषी जेल नहीं जायेंगे जब तक सच का साथ दूंगा चाहे मुझे इसके लिए अपनी जान भी देनी पड़े और इस केस में हम पुलिस व जांच एजेंसी की मदद करने को तैयार है अगर पुलिस वीरेंद्र राणा 9899996968  व वीरेंद्र राणा के जीजा कँवर सिंह राणा 9310533211 , बाड़मेर की महिला प्रियंका चौधरी , पटना के पुलिस अधिकारी राकेश दुबे  से शक्ति से पूछ ताछ करे तो सारा मामला एक दिन में खुलकर सबके सामने आ जायेगा।





जरा ठहरें...
यौन उत्पीड़न के आरोप में फंसे वजीर को बादशाह ने स्वदेश वापस बुलाया!
5 करोड़ यूजर्स के फेसबुक डेटा हैक की खबर से पूरी दुनिया में मचा हड़कंप
वाट्सअप भ्रामक प्रचार को रोकने के लिए भारत में एक स्थानीय की नियुक्ति करेगा
जीएसटी ने छोटे अखबरों को ही नहीं बड़े अखबारों को भी पहुंचाया बर्बादी पर
फिलहाल समाचार पत्र मालिकों को राहत देने के लिए सरकार तैयार नहीं!
फेसबुक के मालिक जुकबबर्ग दुनिया के तीसरे सबसे अमीर व्यक्ति बने
वेबमीडिया की नियमन की कोई योजना नहीं- राठौर
देश में निजी चैनलों की संख्या पहुंची 877 जिनमें से 389 समाचार चैनल हैं
भारत में इंटरनेट की रफ्तार बदतर, दुनिया में 109 वां स्थान!
जल्द ही डीटीएच पर भी लागू होगा पोर्टबिलिटी
"जिसकी हिंदी को जर्मनी ने अपनाया, उसी को भारत ने ठुकराया!
सरकार पत्रकारों को पेंशन दे - साक्षी महाराज
आने वाला समय डिजिटल मीडिया का : जेटली
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.