ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

बातें मीडिया की

आपदा के जोखिम को कम करने में मीडिया की भूमिका पर जोर’ विषय पर सेमिनार आयोजित
वक्ताओं ने डिजास्टर मैनेजमेंट पर साझा किये अपने अनुभव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 16 अक्टूबर 2021

अंतर्राट्रीय आपदा न्यूनीकरण  दिवस के मौके पर स्पीफर इंडिया की ओर से एक कार्यशाला का आयोजन इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में किया गया। इस मौके पर आपदा से जुड़े छह प्रमुख विषयगत क्षेत्रों पर प्रकाशित हैंडबुक (छह) जारी किया गया। इस मौके पर ‘आपदा के जोखिम को कम करने में मीडिया की भूमिका पर जोर’ विषयक एक सेमिनार का भी आयोजन किया गया, जिसमें मीडिया क्षेत्र से जुड़े दिग्गजों ने अपने अनुभव साझा किए। 

साथ ही सरकारों की भूमिका पर भी सवाल खडे किए। कार्यक्रम में एनआईडीएम के कार्यकारी निदेशक मेजर जनरल मनोज, स्फीयर इंडिया के सीईओ विक्रांत महाजन, सरबजीत सिंह सहोता (आपातकालीन विशेषज्ञ, डीआरआर अनुभाग, यूनिसेफ इंडिया), प्रो. संतोष कुमार (एनआईडीएम), प्रो अनिल कु. गुप्ता (प्रमुख ईसीडीआरएम/एनआईडीएम) आदि ने अपने अपने विचार रखे। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ पत्रकार ओंकारेश्वर पांडे ने किया। 
एनडीटीबी के सीनियर एडिटर हिमांशु एस. मिश्रा ने वर्ष 2014 में श्रीनगर में आयी आपदा (बाढ) के दौरान हुए अपने अनुभवों को साझा किया और आपदा प्रबंधन के लिए सरकार द्वारा किये जाने वाले प्रबंध को नाकाफी बताया। उन्होंने बताया कि इस घटना के इतने वष्रो के बाद भी मीडियाकर्मियों को आपदा की कबरेज में किस तरह की सावधानियां बरतनी चाहिए के बारे में नहीं बताया जा रहा है। न ही मीडिया स्कूलों में डिजास्टर को किस तरह से कवर करना चाहिए के बारे में ही बताया जाता है।

करीब तीन दशकों से भी ज्यादा समय से पत्रकारिता के क्षेत्र में स्क्रीय और लंबे समय तक डिफेंस कवर करने वाले व आधे दर्जन से अधिक किताब लिख चुके प्रेस क्लब ऑफ इंडिया के पूर्व संयुक्त सचिव संजय सिंह ने मीडिया द्वारा दिल्ली से बाहर होने वाले डिजास्टर को तरजीह नहीं दिये जाने और दिल्ली यमुना के जल स्तर में हल्की भी बढोतरी होने की घटना को जिस तरह से प्रचारित किया जाता है उससे मीडिया के चरित्र सामने आता है। उन्होंने कहाकि मीडिया भी खेमें में बंटा हुआ है और अपने-अपने चश्मे से चीजों को देखते हैं। 

उन्होंने कोरोना के पहले फेज में केरल द्वारा किये गए आपदा प्रबंधन की बढाई की गयी, लेकिन जब दूसरे फेज में वहां कोरोना बेकाबू हुआ है उसे नहीं दिखाया जा रहा है। उन्होंने एक और उदाहरण देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश ने दूसरे फेज में कोरोना का वेहतर प्रबंधन किया है उसे नहीं दिखाया जा रहा है। 
इंडियन फेडरेशन ऑफ यूएन एसोसिएशन के चीफ मीडिया एडवाइजर दीपक पर्वतरियार ने गुजरात में आये भूकंप और मुम्बई में हुए हमले की कवरेज के दौरान आने वाली परेशानियों को बया किया। उन्होंने फेक न्यूज पर भी चर्चा की। राष्ट्रीय सहारा के ब्यूरो चीफ रोशन गौड ने डिजास्टर के समय मीडिया की बेहतर भूमिका की सराहना की और सरकार को मीडिया से दोस्ती करने की सलाह दी। जीफाइल्स के संपादक अनिल त्यागी ने डिजास्टर मैनेजमेंट को एक बड़ा बाजार बतायेंगे। उन्होंने कहा कि बाजार ने कोरोना को भी बेचा है और कमाने वाले कमा रहे हैं। 

उन्होंने कहाकि मीडिया से सरकार जब भी जानकारी छुपाएंगी तो अफवाह फैलेगी। मीडिया का काम भ्रष्टाचार करने वालो को एक्सपोज करना है और उसे करते रहना चाहिए। मेजर जनरल मनोज के बिंदल ने कुशल आपदा जोखिन शमन और प्रबंधन के लिए एक लचीली और भागीदारी समन्वय तंत्र की महत्वपूर्ण भूमिका की बात कही। विक्रांत महाजन ने कहा कि आईडीडीआरआर के अवसर पर स्फीयर इंडिया द्वारा भारत में इन हैंडबुक का लॉन्च एक बड़ा कदम है।








जरा ठहरें...
पत्रकार के साथ मारपीट करने वाले को गाजियाबाद पुलिस का संरक्षण
दत्तोपंत ठेंगड़ी की स्मृति में केंद्रीय संचार मंत्री ने डाक टिकट जारी किया
एक साप्ताहिक अखबार के मालिक को प्रेस कौंसिल ऑफ इंडिया ने भेजा नोटिस
आपदा के जोखिम को कम करने में मीडिया की भूमिका पर गोलमेज सम्मेलन 13 को दिल्ली में
देश का नया चैनल संसद चैनल शुरू, प्रधानमंत्री, उपराष्ट्रपति और लोकसभा अध्यक्ष ने किया उद्घाटन
सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने पत्रकार कल्याण योजना से संबंधित समिति गठित की
विदेशी पत्रकारिता नकारात्मक मूल्यों पर आधारित – संजय द्विवेदी, महानिदेशक आईआईएमसी
भाष्कर और भारत समाचार ने खबर छापी तो सरकार ने उन पर छापा डलवा दी
ABP News छोड़कर बोली कुमकुम बिनवाल बोली बड़े बड़े पत्रकार अब डरते हैं
देश का नागरिक सोशल मीडिया पर शिकायत करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई न हो – सर्वोच्च न्यायालय
बालाकोट हमले की जानकारी इस पत्रकार को पहले से ही थी...!
अर्णब गोस्वामी की मुश्किलें बढ़ीं, कोर्ट से नहीं मिली राहत
चीन की जासूसी के आरोप में पत्रकार राजीव शर्मा गिरफ्तार
भारत द्वारा पबजी समेत 224 एप प्रतिबंधित किए जाने से बौखलाया चीन!
प्रधानमंत्री की गूगल के सीईओ से महत्वपूर्ण बातचीत
नेपाल ने भारतीय समाचार चैनलों को किया प्रतिबंधित किया
बर्बाद हो रहे मीडिया की और ध्यान दे प्रधानमंत्री : आसिफ
मोदी सरकार का बड़ा फैसला, चीन के 59 साफ्टवेयर भारत में प्रतिबंधित
सीबीआई के 'निशाने' पर आए DAVP के अधिकारी, जांच के दायरे में फंसे कई अखबार!
सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म्स के गाइडलाइंस को रिवाइज किया जाएगा – रविशंकर प्रसाद
मुख्यमंत्री योगी ने भी नहीं सुनी एक पत्रकार की फरियाद
उ.प्र. में योगी राज में पत्रकार के घर पर गुंडों और दबंगों का कब्जा!
5 करोड़ यूजर्स के फेसबुक डेटा हैक की खबर से पूरी दुनिया में मचा हड़कंप
सरकार पत्रकारों को पेंशन दे - साक्षी महाराज
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.