ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

बातें मीडिया की

प्रसारण सेवा पोर्टल की शुरूआत, प्रसारण क्षेत्र में क्रांतिकारी पहल
केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने किया उद्घाटन

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 4 अप्रैल 2022

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण तथा युवा कार्यक्रम और खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने 4 अप्रैल को नई दिल्ली में प्रसारण सेवा पोर्टल का शुभारंभ किया और इसके साथ ही प्रसारण क्षेत्र में ‘व्यवसाय में आसानी’ का एक नया अध्याय शुरू हुआ। प्रसारण सेवा पोर्टल एक ऑनलाइन पोर्टल समाधान है, जिसके तहत प्रसारकों द्वारा विभिन्न प्रकार के लाइसेंसों, अनुमतियों, पंजीकरणों आदि के लिए आवेदनों को शीघ्रता से दाखिल किया जा सकेगा और इन आवेदनों की जांच भी तेजी से पूरी की जा सकेगी। 
इस अवसर पर अनुराग ठाकुर ने कहा कि सरकार ने प्रणाली में पारदर्शिता लाने एवं इसे और अधिक जवाबदेह बनाने के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग किया है। प्रसारण सेवा पोर्टल आवेदनों पर अंतिम निर्णय लेने में लगनेवाले समय को कम करेगा और आवेदकों को आवेदन की प्रगति की जानकारी प्राप्त करने में भी सहायता प्रदान करेगा। यह पोर्टल आवेदकों की उपस्थिति की आवश्यकता को कम करेगा, जो पहले आवश्यक था और इस प्रकार मंत्रालय की क्षमता निर्माण में वृद्धि करेगा। यह व्यवसाय में आसानी की दिशा में भी एक बड़ा कदम सिद्ध होगा।

ठाकुर ने यह भी कहा कि सभी प्रकार के (360 डिग्री) डिजिटल समाधान; हितधारकों को अनुमति लेने, पंजीकरण के लिए आवेदन करने, आवेदनों पर नज़र रखने, शुल्क की गणना करने और भुगतान करने की सुविधा प्रदान करेंगे। यह पोर्टल निजी उपग्रह टीवी चैनलों, टेलीपोर्ट संचालकों, एमएसओ, सामुदायिक और निजी रेडियो चैनलों आदि से जुड़े सभी हितधारकों को डिजिटल इंडिया के व्यापक प्रयासों के तहत अपनी सेवाएं प्रदान करेगा।

ठाकुर ने कहा “यह पोर्टल माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 'न्यूनतम सरकार, अधिकतम शासन' के मंत्र को साकार करने में एक महत्वपूर्ण कदम सिद्ध होगा; क्योंकि सरल और उपयोगकर्ता-अनुकूल यह वेब पोर्टल, प्रसारकों को शुरुआत से अंत तक (एंड-टू-एंड) के सभी समाधान केवल एक क्लिक पर प्रदान करता है। यह पोर्टल 900 से अधिक सैटेलाइट टीवी चैनलों, 70 टेलीपोर्ट संचालकों, 1700 मल्टी-सर्विस संचालकों, 350 सामुदायिक रेडियो स्टेशनों (सीआरएस), 380 निजी एफएम चैनलों और अन्य को सीधे लाभ पहुंचाकर कारोबारी माहौल को बढ़ावा देगा और पूरे प्रसारण क्षेत्र को सशक्त बनाएगा।”

मंत्री ने उपस्थित लोगों को बताया कि पोर्टल के परीक्षण को अंतिम उपयोगकर्ताओं से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है। जल्द ही पोर्टल को राष्ट्रीय एकल खिड़की प्रणाली से जोड़ा जाएगा। यदि उद्योग जगत को कोई अन्य सुधार आवश्यक लगता है, तो मंत्रालय ऐसे सुधारों को शामिल करने के लिए भी तैयार है। सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सचिव अपूर्व चन्द्र ने कहा कि नए पोर्टल में पिछले संस्करण की तुलना में कई सुधार किये गए हैं और इसमें एक महीने की परीक्षण अवधि के दौरान हितधारकों से प्राप्त सुझावों को भी शामिल किया गया है।

पोर्टल से इकोसिस्टम में पारदर्शिता, जवाबदेही और तत्परता आयेगी तथा सभी प्रकार की जानकारी एक ही डैशबोर्ड पर उपलब्ध होगी। 

इस कार्यक्रम में मौजूद प्रसारकों ने पोर्टल के शुभारंभ का स्वागत किया और कहा कि यह आवेदन में लगने वाले समय में कमी लायेगा और आवेदन प्रक्रिया के लिए जरूरी प्रयास को आसान बनाएगा। यह ध्यान देने योग्य है कि भारत के कारोबारी माहौल में सुधार, भारत सरकार की प्राथमिकताओं में से एक है। प्रसारण सेवा पोर्टल, व्यवसाय करने में आसानी के लिए तथा प्रसारण क्षेत्र को सशक्त बनाने के लिए सरकार की प्रतिबद्धता का उदाहरण है।








जरा ठहरें...
भारत का सबसे बड़ा मीडिया सम्मेलन माउंट आबू में आयोजित
दिल्ली सरकार का सूचना प्रसारण विभाग में जमकर व्याप्त है भ्रष्टाचार - आसिफ
आल इंडिया रेडियो कैजुअल अनाऊंसर एंड कम्पीयर्स यूनियन को मिला मजदूर संघ का समर्थन
दिल्ली में इन पत्रकारों को दिया गया नारद सम्मान पुरस्कार
गौरव बंसल बने रेलवे बोर्ड के निदेशक जनसंपर्क विभाग
सरकार ने भारत विरोधी 35 समाचार चैनलों को प्रतिबंधित किया
पत्रकार के साथ मारपीट करने वाले को गाजियाबाद पुलिस का संरक्षण
दत्तोपंत ठेंगड़ी की स्मृति में केंद्रीय संचार मंत्री ने डाक टिकट जारी किया
एक साप्ताहिक अखबार के मालिक को प्रेस कौंसिल ऑफ इंडिया ने भेजा नोटिस
आपदा के जोखिम को कम करने में मीडिया की भूमिका पर जोर’ विषय पर सेमिनार आयोजित
आपदा के जोखिम को कम करने में मीडिया की भूमिका पर गोलमेज सम्मेलन 13 को दिल्ली में
देश का नया चैनल संसद चैनल शुरू, प्रधानमंत्री, उपराष्ट्रपति और लोकसभा अध्यक्ष ने किया उद्घाटन
सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने पत्रकार कल्याण योजना से संबंधित समिति गठित की
विदेशी पत्रकारिता नकारात्मक मूल्यों पर आधारित – संजय द्विवेदी, महानिदेशक आईआईएमसी
भाष्कर और भारत समाचार ने खबर छापी तो सरकार ने उन पर छापा डलवा दी
ABP News छोड़कर बोली कुमकुम बिनवाल बोली बड़े बड़े पत्रकार अब डरते हैं
देश का नागरिक सोशल मीडिया पर शिकायत करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई न हो – सर्वोच्च न्यायालय
बालाकोट हमले की जानकारी इस पत्रकार को पहले से ही थी...!
अर्णब गोस्वामी की मुश्किलें बढ़ीं, कोर्ट से नहीं मिली राहत
चीन की जासूसी के आरोप में पत्रकार राजीव शर्मा गिरफ्तार
भारत द्वारा पबजी समेत 224 एप प्रतिबंधित किए जाने से बौखलाया चीन!
प्रधानमंत्री की गूगल के सीईओ से महत्वपूर्ण बातचीत
नेपाल ने भारतीय समाचार चैनलों को किया प्रतिबंधित किया
बर्बाद हो रहे मीडिया की और ध्यान दे प्रधानमंत्री : आसिफ
मोदी सरकार का बड़ा फैसला, चीन के 59 साफ्टवेयर भारत में प्रतिबंधित
सीबीआई के 'निशाने' पर आए DAVP के अधिकारी, जांच के दायरे में फंसे कई अखबार!
सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म्स के गाइडलाइंस को रिवाइज किया जाएगा – रविशंकर प्रसाद
मुख्यमंत्री योगी ने भी नहीं सुनी एक पत्रकार की फरियाद
उ.प्र. में योगी राज में पत्रकार के घर पर गुंडों और दबंगों का कब्जा!
5 करोड़ यूजर्स के फेसबुक डेटा हैक की खबर से पूरी दुनिया में मचा हड़कंप
सरकार पत्रकारों को पेंशन दे - साक्षी महाराज
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Third Eye World News: वीडियो
22 मार्च 2022 से...
Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.