ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

विज्ञान एवं रक्षा तकनीकि

सीमा सुरक्षा बल ने मनाया ‘विश्व अंगदान दिवस

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली १३ अगस्त २०१८

भारत की पहली रक्षा पंक्ति में तैनात सीमा सुरक्षा बल भारत-पाक तथा भारत-बांग्लादेश सीमाओं की अभेद्य सुरक्षा कर रहा है। इसके साथ ही यह अन्य सामाजिक कार्यों में भी लगातार अपना योगदान देता रहता है। इसी क्रम में सीमा सुरक्षा बल ने आज दिनांक 11 अगस्त 2018 को बल मुख्यालय परिसर में ’विश्व अंगदान दिवस’ पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया।


इस अवसर पर बल के महानिदेशक श्री के.के. शर्मा जी ने कहा कि शारीरिक अंगों की मांग दुनिया भर के दाताओं की तुलना में बहुत अधिक है। जिसके चलते कितने ही रोगी निवार्य रोग होने के बावजूद अंगों के अभाव में अपना दम तोड़ रहे हैं। मांग और आपूर्ति के बीच के इस अंतर को खत्म करने के लिए हमें अभी लंबा रास्ता तय करना है। वहीं इस संदर्भ में सीमा सुरक्षा बल देश की सीमाओं की जिम्मेदारी निभाने के साथ-साथ अपने सामाजिक दायित्वों को भी नहीं भूला है। बल द्वारा समय-समय पर अपनी तैनाती वाले सीमावर्ती इलाकों में ब्लड डोनेशन कैंप, नि:शुल्क चिकित्सा शिविर, नि:शुल्क दवाई वितरण आदि चिकित्सकीय कार्य किये जाते रहे हैं। वहीं National Organ and Tissue Transplant Organization (Notto) संस्था में अंगदानार्थ पंजीकृत बल कार्मिकों की अगर बात की जाए तो उनकी संख्या लगातार बढ़ रही है।

महोदय ने बताया कि शारीरिक रूप से असक्षम लोगों के अंधेरे जीवन में रोशनी की अलख जलाने वाला यह कार्य निश्चित ही मन को खुशी देने वाला है। जिससे प्रेरित होकर मैं और मेरा परिवार पहले ही इस मुहिम से जुड़कर अंगदान का प्रण ले चुके हैं। वर्ष 2016 में भी ’ विश्व अंगदान दिवस’ पर बहुत कम समय के नोटिस पर सीमा सुरक्षा बल परिवार के सदस्यों ने स्वेच्छा से ग्यारह हजार शपथ पत्र अंगदान के लिये समर्पित किये थे।





जरा ठहरें...
२०१९ आम चुनावों का मुख्य मुद्दा बनेगा राफेल
राफेल सौदा: राहुल के बयान पर फ्रांस ने दी यह सफाई
सेना के औरंगजेब का आंतकियों ने किया अगवा
सेना के इस सबसे तेज तर्रार अधिकारी को उत्तरी कमान सर्वे सर्वा बनाया गया
राफेल में बड़ा हेराफेरी, राहुल ने फिर मोदी पर साधा निशाना!
रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट हैक हुई
भारत में टिकाऊ जैव ईंधन पर वैश्विक सम्मेलन का आयोजन
सैन्य अधिकारी के पिता ने एफआईआर रद्द कराने के लिए सर्वोच्च न्यायालय पहुंचे!
गोपनीय राफेल: जानकारी सार्वजनिक नहीं की जा सकती है - रक्षा मंत्री!
रक्षा मंत्री सीतारमण ने सुखोई -३० में भरी उड़ान
अग्नि पांच मिसाइल का सफल परीक्षण
सशस्त्र बलों की आधुनिकीकरण की प्रक्रिया काफी सुस्त है - नौसेना प्रमुख
सुखोई से सफलतापूर्वक दागी गयी ब्रह्मोस, देश को मिली नई ताकत
भारतीय नौसेना को मिला एक और घातक युद्धपोत 'किलर'
युद्ध की खतरा देख सेना ने मांगी सरकार से २० हजार करोड़
नौसेना की नई ताकमौसम की सटीक जानकारी के लिए 400 करोड़ रुपये की योजना : हर्ष वर्धन
ऑटोमोबाइल क्षेत्र के लिए BS-5 और BS-6 मानदंडों की अधिसूचना
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.