ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

विज्ञान एवं रक्षा तकनीकि

सिंगापुर से भारतीय वायुसेना के विमान आक्सीजन लेकर उड़ान भरी

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 24 अक्टूबर 2021

इस समय पूरा देश कोरोना की भयानक चपेट में। कोरोना की दहशत और प्रकोप से पूरा देश कराह रहा है। अस्पतालों में आक्सीजन की भारी किल्लत है। आक्सीजन की कमी से अस्पतालों में लोग मर रहे हैं। आक्सीजन की किल्लत से निपटने के लिए भारतीय वायुसेना  देश के विभिन्न हिस्सों में ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए चार क्रायोजेनिक टैंकर सिंगापुर से विमान से मंगाए जा रहे हैं। बता दें कि भारतीय वायुसेना के गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस से ही C17 एयरक्राफ्ट रवाना हुआ और सुबह 7 बजकर 45 मिनट पर सिंगापुर के चांगी एयरपोर्ट पर पहुंच गया. और वहां से आक्सीजन का कंटेनर लोड करके देश के लिए रवाना हो गए।


अधिकारियों के अनुसार आक्सीजन के कंटेनर भारतीय वायुसेना के एक मालवाहक विमान से लाया जा रहा है। ऑक्सीजन की बढ़ती मांग को देखते हुए जल्दी में विदेश से मंगवाने की व्यवस्था की गई है. साथ ही सिंगापुर के चांगी एयरपोर्ट पर एयरक्राफ्ट में लोडिंग किए जाने की फोटो भी ट्वीट की. वहीं केंद्र सरकार ने अपने ट्वीट में जानकारी दी कि भारतीय वायुसेना के C17 एयरक्राफ्ट क्रायोजिक ऑक्सीजन के 4 कंटेनर्स को लोड करने के बाद आज शाम पानागढ़ पर उतरेगा. इसके बाद वहां से ही इन कंटेनर्स को लेकर अपने गंतव्य तक सड़क मार्ग या फिर हवाई मार्ग से पहुंचाया जाएगा शुक्रवार को गृह मंत्री अमित शाह ने एक्सपर्ट ग्रुप को कई निर्देश दिया था कि मेडिकल मे इस्तेमाल होने वाले ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर गृह मंत्रालय के अधिकारियों को उन्होंने केंद्रशासित प्रदेशों में ऑक्सीजन की सप्लाई और बढ़ाने को कहा है।

सूत्रों के मुताबिक इसमें रेलवे के जरिए अलग-अलग प्रदेशों को भेजे जाने वाली ऑक्सीजन के साथ-साथ निजी और सरकारी कंपनियों को जाने वाली सप्लाई की व्यवस्था पर अधिकारियों को निगाह रखने को गया है. खासकर ऑक्सीजन या मेडिकल से जुडें हुए सामानों के ट्रक की आवाजाही के लिए स्पेशल अरेंजमेंट करने को कहा गया है. स्थानीय प्रशासन पुलिस के सहयोग से कंटेनर्स की आवाजारी पर विशेष निगरानी रखने को कहा गया है. इसके लिए अलग से ग्रीन कोरिडोर में कंटेनर्स को गंतव्य तक पहुंचाने का आदेश दिया है.





जरा ठहरें...
वायुसेना ने देश में आक्सीजन की कमी को दूर करन के लिए कमर कसी
"हमारे देश में रक्षा व्यय को एक भारी भरकम व्यय समझने की भ्रांति विकसित हो रही है"
चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सी. डी. एस.) पद-स्थापना की प्रथम वर्षगांठ
भारतीय वायुसेना में शामिल होंगे 83 तेजस लड़ाकू विमान, 48 हजार करोड़ का सौदा
पाकिस्तान, चीन मिलकर भारत के लिए खतरा: जनरल नरावणे
हम हर चुनौती से निपटने के लिए तैयार हैं – एडमिरल करमबीर सिंह
इसरो का पराक्रम: EOS01 के साथ दूसरे देशों के 9 उपग्रहों को किया लॉन्च
चीन सीमा से सटे, बीआरओ ने तैयार किए रिकार्ड समय में 45 पुल...!
नौसेना द्वारा विकसित पीपीई सूट ‘नवरक्षक’ निजी कपंनी को हस्तांतरित की गयी
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Third Eye World News: वीडियो
चौकिए मत यह भारत का...
Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.