ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

कारोबार-समाचार

पांच साल में 11 नहीं, 61 हजार करोड़ का महाघोटाला हुआ, आरबीआई ने दी जानकारी!
न चौकीदार को भनक लगी और न प्रधानसेवक को पता चला!

नई दिल्ली

१७ फरवरी २०१८

इन दिनों पंजाब नेशनल बैंक का 11 हजार करोड़ का घोटाला देश दुनिया में चर्चा का विषय बना हुआ है। कांग्रेस तो कह रही है कि यह घोटाला 21 हजार करोड़ का है। लेकिन अब एक और चौंकाने वाला आंकडा आया है आरबीआई ने सूचना के अधिकार के तहत दिए जानकारी के मुताबिक पिछले पांच सालों में लगभग 61 हजार करोड़ का घोटाला हुआ है। यानि आम आदमी का 61 हजार करोड़ रूपए कुछ लोगों ने जुआड़ करके डकार गए। आम आदमी रोटी, दाल, प्याज के लिए मारा मारी करने में जुटा है। गरीब इसलिए मर रहा है कि उसके पास दवा खरीदने और डाक्टर को दिखाने के लिए पैसा नहीं है।


प्रतीकात्मक तस्वीर।


लगभग चार साल पहले भाजपा के प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था मैं प्रधानमंत्री नहीं प्रधान सेवक बनूंगा। चौकीदार बनूंगा। अब सवाल उठना लाजमी है कि ये कौन सी चौकीदारी है कि देश का 61 हजार करोड़ रूपए चला गया और चौकीदार को भनक ही नहीं लगी। आरोप प्रत्यारोप लगाने से कुछ नहीं होने वाला है। आने वाले समय में जनता पाई-पाई का हिसाब लेगी। अब आइए बताते हैं कि पिछले 5 सालों में लोन फ्रॉड के मामलों में बैंकों ने करीब 8670 केस दर्ज किए हैं। वहीं इन्हीं धोखाधड़ी की वजह से बैंकों को 61 हजार करोड़ की चपत लग चुकी है। और देश के प्रधान सेवक भनक ही नहीं लगी इससे बड़ा आश्चर्य और क्या हो सकता है। इन दर्ज किए गए केसों में पंजाब नेशनल बैंक की तरफ से सबसे ज्यादा केस दर्ज किए गए हैं। पीएनबी ने धोखाधड़ी के तहत अब तक 389 केस दर्ज किए गए हैं।

आरबीआई द्वारा समाचार एजेंसी रायटर्स को सूचना के अधिकार के तहत मिले डाटा के अनुसार सबसे ज्यादा मामले पंजाब नेशनल बैंक ने दर्ज किए। इन मामलों की कुल संख्या 389 है। वहीं दूसरे और तीसरे नंबर पर बैंक ऑफ बड़ौदा और बैंक ऑफ इंडिया का नंबर है। 31 मार्च 2017 तक आरबीआई के पास कुल मिलाकर 9.58 बिलियन डॉलर के लोन फ्रॉड केस दर्ज किए गए हैं।


आइए बताते हैं क्या होता है लोन फ्रॉड केस: भारत में लोन फ्रॉड केस तब दर्ज किया जाता है जब कोई व्यक्ति या फिर कंपनी लोन लेने के बाद उसे वापस न करे। पिछले साल देश के बैंकिंग सेक्टर में 149 बिलियन डॉलर के खराब लोन दर्ज किए गए थे। इस डाटा से साफ होता है कि भारत में बैंकिंग सेक्टर काफी दबाव में काम कर रहा है। इन बैंक घोटालों से साफ हो जाता है कि प्रधानमंत्री मोदी अपने कथन पर खरे नहीं उतर सके हैं। न तो वे प्रधानसेवक बन सके और न देश के चौकीदार बन सके।




जरा ठहरें...
18 लाख युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा – विनय शर्मा
ऑयकर विभाग ने एक लाख बिटकॉयन निवेशकों को नोटिस जारी किया
सावधान: 2 और 3 फरवरी को दिल्ली के सारे दुकान और बाजार बंद रहेंगे!
2016-17 में जीडीपी दर घटकर 7.1 फीसदी हुई
सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सारे बाजार बंद
मंगलवार को दिल्ली के सारे व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे
बाबा रामदेव की कंपनी पतांजलि का ऑनलाइन बाजार में बड़ा धमाका
कोल इंडिया ने कोयले के दामों में की वृद्धि
एलजी, हेयर टेक्नोलोजीज के बीच सेल्फ ड्राइविंग कार के लिए समझौता!
मंत्री ने कहा वाहन उद्योग में आम लोगों तक पहुंचने की क्षमता है
यूक्रेन को व्यापारी को गुजराती व्यापारी ने ठगा, सरकार से मदद की गुहार
जेटली ने कहा जीएसटी में पंजीकृत व्यापारी कर नहीं देते
यदि गैस खुद लेने जाएं तो एजेंसी से अपना साढे उन्नीस रूपए भी लें!
सरकार ने कहा मार्च २०१८ तक जीएसटी को बेहद आसान कर दिया जाएगा!
जीएसटी की अधिकतम दर 18 प्रतिशत होनी चाहिए
दुनिया का सबसे भव्य मैदान होगा देश का प्रतीक प्रगति मैदान
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.