ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

कारोबार-समाचार

कैट ने वित्त मंत्री से जीएसटी वार्षिक रिटर्न की तारीख बढ़ाने को कहा!

आकाश श्रीवास्तव

नई दिल्ली

७ दिसंबर २०१८

कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने आज केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली को एक पत्र भेजकर जीएसटी की वार्षिक रिटर्न दाखिल करने की अंतिमतारीख 31 दिसम्बर 2018 को बढ़ाकर 31 मार्च 2019 करने का आग्रह किया है। जेटली को भेजे अपने पत्र में कैट ने जेटली का ध्यान वर्ष 2017 -18 की वार्षिक जीएसटी रिटर्न जिसको दाखिल करने की अंतिम तारीख 31 दिसम्बर 2018 की तरफ दिलाते हुए कहा की अभी तक जीएसटी पोर्टल पर वार्षिक रिटर्न दाखिल करने का प्रारूप अथवा विकल्प आया ही नहीं है।


जिसके चलते देश भरमें जीएसटी पोर्टल से पंजीकृत 1 करोड़ से अधिक व्यवसायियों का रिटर्न भरना मुश्किल है। जीएसटी की वार्षिक रिटर्न दाखिल करने बेहद महत्वपूर्ण हैं क्योंकिइस रिटर्न को दाखिल करते समय सम्बंधित वर्ष की पूर्व में भरी हुई रिटर्न को संशोधित करने का यह आखिरी विकल्प है। कैट ने यह भी कहा की क्योंकि वैटअथवा बिक्री कर में वार्षिक रिटर्न भरने का कोई प्रावधान नहीं था इस दृष्टि से बड़ी संख्यां में देश भर में व्यापारियों को अभी यह जानकारी भी नहीं है की उन्हें वार्षिक रिटर्न भी भरनी है। कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.सी.भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने कहा की क्योंकि जीएसटी के लागू होने का 2017 -18 पहला वर्ष है इसनाते से जीएसटी से सम्बंधित अनेक विषयों से देश भर में व्यापारी अनभिज्ञ है। व्यापारियों को यह मालूम ही नहीं है की वार्षिक रिटर्न उनके लिए क्योंमहत्वपूर्ण हैं और यदि यह रिटर्न नहीं भरी गई तो उसके क्या परिणाम होंगे।

एक तरफ इस रिटर्न के द्वारा व्यापारी अपनी रिटर्न संशोधित कर सकते हैं जिससेउन्हें इनपुट क्रेडिट की हानि न हो और उनके ऊपर कर की कोई बकायेदारी न आ जाये। इस दृष्टि से जीएसटी की वार्षिक रिटर्न भरना प्रत्येक व्यापारी के लिएमहत्वपूर्ण एवं जरूरी है।





जरा ठहरें...
बाबा रामदेव ने रेडीमेड कपड़े के क्षेत्र में रखा क्रांतिकारी कदम!
मोदी की राष्ट्रीय नीति से परेशान 'मास्टर कार्ड' ने ट्रंप से की शिकायत
सीबीआई के बाद आरबीआई! उर्जित पटेल देंगे इस्तीफा?
चुनाव आयोग राजनैतिक दलों के घोषणा पत्र पर लगाम लगाए - कैट
तेल उत्पादक देश तेल की कीमतें पूरी जिम्मेदारी से तय करें - भारत
मोबाइल ट्रैफिक रेट जल्द बढ़ेंगे
डी एल के प्रकाशन द्वारा “14 वें हॉस्पिटलिटी इंडिया का आयोजन
शेयर बाजार में कोहराम, निवेशको के लिए ब्लैक फ्राइडे: ९ लाख करोड़ डूबे
सरकार का तेल का खेल, वसूली दो लाख करोड़ की, राहत महज कुछ हजार करोड़ की!
टीएचडीसीआईएल के सहयोग से दवाइयों का वितरण संपन्न
दिल्ली का क्नाट प्लेस दुनिया का ९वां सबसे मंहगा कार्य स्थल बना
विजय गोयल टीएचडीसीआईएल के निदेशक बने!
पांच साल में 11 नहीं, 61 हजार करोड़ का महाघोटाला हुआ, आरबीआई ने दी जानकारी!
यदि गैस खुद लेने जाएं तो एजेंसी से अपना साढे उन्नीस रूपए भी लें!
दुनिया का सबसे भव्य मैदान होगा देश का प्रतीक प्रगति मैदान
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.