ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

शिक्षा/संस्कृति/पर्यटन

कक्षा 7 के विद्यार्थी ने पूर्ण की 900 किमी. मैराथन

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली, १३ फरवरी 2020

जबलपुर से दिल्ली तक मैराथन दौड़ रहा केन्द्रीय विद्यालय क्र 2, जीएसएफ जबलपुर का विद्यार्थी हर्ष पंडित बुधवार को नई दिल्ली स्थित इंडिया गेट पहुंच गया। हर्ष ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर 26 जनवरी 2020 को जबलपुर से यह मैराथन प्रारंभ की थी और 18 दिनों में लगभग 900 किमी की दूरी तय करते हुए प्लास्टिक मुक्त भारत और जल संरक्षण का संदेश दिया। केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ अपने कार्यालय में हर्ष पंडित से मिले और पर्यावरण संरक्षण के पुनीत कार्य हेतु जबलपुर से दिल्ली तक दौड़ने पर बधाई दी।


उन्हों हर्ष और उसके परिवार को भविष्य में भी प्लास्टिक मुक्त भारत और जल संरक्षण के लिए कार्य करते रहने के लिए प्रेरित किया। निशंक ने देश के सभी विद्यार्थियों से अपील की कि पर्यावरण संरक्षण की दिशा में जनजागरण लाने के लिए वे अपने-अपने स्तर पर प्रयास करें और एक स्वच्छ, संुदर देश बनाने में योगदान दें। केन्द्रीय विद्यालय संगठन के आयुक्त श्री संतोष कुमार मल्ल एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने इंडिया गेट की अमर जवान ज्योति पर हर्ष की अगवानी की। उन्होंने मैराथन के माध्यम से प्लास्टिक मुक्त भारत और जल संरक्षण जैसे विषय को समाज के समक्ष उजागर करने के लि हर्ष और उनके परिवार को शुभकामनाएं दीं। अमर जवान ज्योति पर विभिन्न केन्द्रीय विद्यालयों के विद्यार्थियों और शिक्षकों अति उत्साह के साथ करतल ध्वनित से हर्ष का स्वागत किया। इतनी कम उम्र में 18 दिन के कठोर परिश्रम के उपरांत यह उपलब्धि प्राप्त करने पर हर्ष पंडित भी अत्यंत प्रभुल्लित नजर आए। हर्ष के पिता श्री हिमांशु पंडित भी अपने बेटे के साथ-साथ दौड़ रहे थे। अपने अंतिम पड़ाव तक पहुंचने के लिए हर्ष ने प्रतिदिन औसतन 50 किमी की दौड़ लगाई।

इतनी लंबी मैराथन के पीछे अपने उद्देश्यों की चर्चा करते हुए हर्ष ने कहा ‘मुझे प्लास्टिक मुक्त भारत और जल संरक्षण के बारे में जागरूकता लाने की प्रेरणा मिली। इस लक्ष्य को प्राप्त करने में मेरे पिता ने बेहद सहयोग किया। मैं अपने शिक्षकों और प्राचार्य का भी आभार व्यक्त करता हूं जिन्होंने मुझे यहां तक पुहंचने के लिए नैतिक बल प्रदान किया।’ हर्ष का नाम गिनीज बुक और लिमका बुक ऑफ रिकार्ड के लिए नामित किये जाने की संभावना है।





जरा ठहरें...
परीक्षा पर चर्चा के तहत प्रधानमंत्री ने छात्रों के सवालों का दिया जवाब
सूचना को साझा करने के लिए सोशल मीडिया एक प्रभावी साधन है: रमेश पोखरियाल
देश में बनेगा पहला संस्कृत विश्वविद्यालय!
नोएडा इंटरनेशनल लिटरेचर का हुआ समापन
भारत अपनी प्रतिभा की लोहा मनवाने के लिए 2021 की पिसा प्रतियोगिता में हिस्सा लेगा - निशंक
2020 तक IIT में छात्रों की भर्ती संख्या बढ़ाकर एक लाख करने की योजना
भारतीय पुरातत्व विभाग की नई इमारत धरोहर का उद्घाटन किया प्रधानमंत्री मोदी ने
रोमानिया में पढ़ाया जाता है रामायण और महाभारत के अंश
कौन है आज का प्रेमचंद? हिंदी साहित्य का अमर साहित्यकार मुंशी प्रेमचंद
रामचरित मानस की दुर्लभ प्राचीन पांडुलिपि बरामद
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.