ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

मुख्य समाचार

शिक्षक दिवस के मौके पर राष्ट्रपति ने ४६ शिक्षकों को पुरस्कृत किया

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

५ सितंबर २०१९

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने आज नई दिल्ली में एक समारोह में देश के 46 शिक्षकों को उनके असाधरण योगदान के लिए पुरस्कार प्रदान किए। इस अवसर पर मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ और मानव संसाधन विकास राज्यव मंत्री धोत्रे संजय शामराव भी उपस्थित थे। इस अवसर पर राष्ट्रिपति ने कहा कि चरित्र निर्माण की आधारशिला स्कूजलों में रखीजाती है। शिक्षा का मुख्यट उद्देश्यक विद्यार्थियों को अच्छा इंसान बनाना है। उन्होंने कहा कि शिक्षक यह कार्य विद्यार्थियों में ईमानदारी और अनुशासन का महत्व बताकर करते हैं।


इन मूल्‍यों वाला बेहतर इंसान प्रत्येक क्षेत्र में अच्छा साबित होगा। शिक्षक विद्यार्थियों को अच्छां इंसान बनाकर राष्ट्रं निर्माण प्रक्रिया में योगदान करते हैं। राष्ट्रंपति ने कहा कि आज विश्व  सूचना के युग से ज्ञान के युग में बढ़ रहा है, लेकिन केवल ज्ञान से ही मानव सभ्यकता की सुरक्षा सुनिश्चित नहीं होगी। ज्ञान के साथ-साथ विवेक आवश्यिक है। जब ज्ञान का विवेक के साथ मेल होगा तभी समस्याुयें सुलझाई जा सकती हैं। राष्ट्रपति ने कहा कि इस वैश्विक र्स्प्धी विश्व में हमें आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस तथा मानव करूणा और डिजिटल विद्या और चरित्र निर्माण के बीच संतुलन बनाना होगा। केवल ऐसे विवेकसंगत ज्ञान के आधार पर ही हम जलवायु परिवर्तन, प्रदूषण और हिमनद के पिघलने जैसी वर्तमान चुनौतियों से निपट सकते हैं।

उन्होंने कहा कि शिक्षक विद्यार्थयों को जल संरक्षण का महत्व  बता कर जल संरक्षण के राष्ट्रीय अभियान में महत्वदपूर्ण योगदान कर सकते हैं। राष्ट्रनपति ने शिक्षकों से ज्ञान और विवेक से सम्प्न्नि नई पीढ़ी तैयार करने का आग्रह किया ताकि नई पीढ़ी सभी समकालीन चुनौतियों का सफल समाधान कर सके।





जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.