ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

मुख्य समाचार

योगी आदित्यनाथ बने मुख्यमंत्री, दो उप-मुख्यमंत्री भी बनाए गए
४६ मंत्रियों ने ली गोपनीयता की शपथ

लखनऊ

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में नई कैबिनेट ने शपथ ले ली है। राज्यपाल राम नाईक ने मुख्यमंत्री और उनके कैबिनेट व राज्य मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। लखनऊ के पूर्व मेयर दिनेश शर्मा और BJP के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली। यह शपथग्रहण समारोह लखनऊ के कांशीराम स्मृति उपवन में आयोजित किया गया। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और कई केंद्रीय मंत्रियों सहित NDA के कई अन्य मुख्यमंत्री भी मौजूद रहे। परंपरा निभाते हुए प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी नई सरकार के शपथग्रहण समारोह में शिरकत की। मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री को शामिल कर कुल 17 OBC, 6 अनुसूचित जाति (SC), 7 ठाकुर, 8 ब्राह्मण, 8 कायस्थ-वैश्य, 2 जाट और 1 मुस्लिम की UP मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी है।


योगी कैबिनेट में और किन-किन चेहरों को जगह मिली है:

मुख्यमंत्री- योगी आदित्यनाथ
उप मुख्यमंत्री- केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा


कैबिनेट मंत्री
सूर्य प्रताप शाही
सुरेश खन्ना
स्वामी प्रसाद मौर्य
सतीश महाना
राजेश अग्रवाल
रीता बहुगुणा जोशी
दारा सिंह चौहान
धर्मपाल सिंह
एस. पी. सिंह बघेल
सत्यदेव पचौरी
रमापति शास्त्री
जय प्रकाश सिंह
बृजेश पाठक
राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह
ओम प्रकाश राजभर
लक्ष्मी नारायण चौधरी
चेतन चौहान
श्रीकांत शर्मा
सिद्धार्थ नाथ सिंह
मुकुट बिहारी वर्मा
आशुतोष टंडन
नंद गोपाल गुप्ता नंदी





राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार

अनुपमा जायसवाल
सुरेश राणा
उपेंद्र तिवारी
महेंद्र सिंह
स्वतंत्रदेव सिंह
भूपेंद्र सिंह चौधरी
धरम सिंह सैनी
स्वाति सिंह
अनिल राजभर

राज्य मंत्री
गुलाब देवी
बलदेव औलख
अतुल गर्ग
संदीप सिंह
मोहसिन रजा
अर्चना पाण्डे
रणवेंद्र प्रताप सिंह (घुन्नी सिंह)
मन्नु कोरी
ज्ञानेंद्र सिंह
जय प्रकाश निषाद
गिरीश यादव
संगीता बलवंत
नीलकंठ तिवारी
जयकुमार सिंह जैकी
सुरेश पासी


शपथ समारोह में कुल 11 मुख्यमंत्रियों ने शिरकत की। मुलायम सिंह यादव,  अखिलेश यादव नितिन गडकरी, लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, चंद्रबाबू नायडू और गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे। 70,000 से भी ज्यादा लोग नई सरकार का शपथग्रहण देखने पहुंचे। कांशीराम स्मृति उपवन, जहां यह शपथग्रहण हुआ, उसके बाहर कई किलोमीटर तक गाड़ियों का तांता लगा रहा। बड़ी संख्या में आम लोग भी इस कार्यक्रम को देखने और नेताओं की एक झलक पाने के लिए यहां पहुंचे। ना केवल लखनऊ, बल्कि प्रदेश के अन्य हिस्सों से भी आम लोग इस अवसर के साक्षी बने।

BJP ने 14 साल बाद उत्तर प्रदेश की सत्ता में वापसी की है। 403 सीटों की उत्तर प्रदेश विधानसभा में अकेले BJP को 312 सीटें मिली हैं। BJP गठबंधन को कुल मिलाकर 325 सीटें हासिल हुई हैं। इतना बड़े जनमत हासिल करने के बाद UP में बीजेपी की सरकार बनी है। इस ऐतिहासिक मौके की भव्यता को ध्यान में रखते हुए ना केवल BJP, बल्कि NDA और कई विपक्षी दलों के नेताओं को भी समारोह के लिए आमंत्रित किया गया है। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और अरुणाचल के CM भी इस समारोह में शरीक होने पहुंचे।


जरा ठहरें...
उ.प्र को आजादी के बाद मिला है कोई ऐसा नायक!
गुंडे सुधरें या फिर उत्तर प्रदेश से चले जाएं - मुख्यमंत्री योगी
गुंडे सुधर जाएं या उ.प्र छोड़कर चले जाएं – मुख्यमंत्री योगी
नोटबंदी का झटका देना जरूरी था - जेटली
ये लो उमा भारती अब कर्नाटक और तमिलनाडु से चुनाव लड़ेंगी
उत्तर प्रदेश की कमान अब योगी के हाथों में !
सुप्रीम कोर्ट के ७ जजों को १४ करोड़ का मुवाअजा देने का आदेश!
अब बारी भाजपा और मोदी जी की है
उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भाजपा को प्रचंड बहुमत!
एअर इंडिया के विमान को फाइटर ने लैंड करवाया
खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों की नाकामी है IS आतंकी का मारा जाना!
इस बार पट्टी विधानसभा में भारी है मोती सिंह का पलड़ा!
चीन सीमा पर 82 फीसदी सड़क परियोजनाएं अधूरी!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
देश में बढ़ती आतंकी घटना और सीमापार से पाकिस्तान की तरफ से हो रही गोलाबारी की घटना मोदी सरकार की नाकामी है...
जी हां बिल्कुल मोदी सरकार की नाकामी है।
कोई नाकामी नहीं है।
कह नहीं सकते।
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.