ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

मुख्य समाचार

अफगानिस्तान में भूकंप से भारी तबाही

काबुल

22 जून 2022

अफगानिस्‍तान और पाकिस्‍तान में बुधवार अल सुबह आए भीषण भूकंप से भारी तबाही मची है। रिक्‍टर पैमाने पर 6.1 की तीव्रता वाले इस भूकंप से अफगान‍िस्‍तान में 1000 लोगों के मारे जाने की खबर है। वहीं 600 से ज्‍यादा लोग घायल हो गए हैं। सबसे ज्‍यादा प्रभावित पाकटीका और खोस्‍त इलाके हुए हैं। यहां कई गांव खंडहर में बदल गए हैं। पाकिस्‍तान में भी अफगानिस्‍तान से सटे कई इलाकों में बर्बादी हुई है। अमेरिकी जिओलॉजिकल सर्वे की रिपोर्ट के मुताबिक इस भूकंप का केंद्र दक्षिणी पूर्वी अफगानिस्‍तान के खोस्‍त शहर से 44 किमी दूर था।

अफगानिस्‍तान की न्‍यूज एजेंसी बख्‍तार ने इस भारी तबाही की सूचना दी है। एजेंसी ने बताया कि बचावकर्मी हेलिकॉप्‍टर से इलाके में पहुंच गए हैं। तालिबान सरकार के उप प्रवक्‍ता बिलाल करीमी ने कहा, 'पाकटीका प्रांत में 4 जिलों में भीषण भूकंप आया है। इसमें सैकड़ों की तादाद में लोग मारे गए हैं और दर्जनों घर तबाह हो गए हैं। हम सभी सहायता देने वाली एजेंसियों से अनुरोध करते हैं कि वे अपने दल को इलाके में भेजें ताकि और ज्‍यादा विनाश से बचा जा सके।'

अफगान मीडिया के मुताबिक खोस्‍त में भारी तबाही की तस्‍वीरें सामने आ रही हैं। पाकिस्‍तान में भी खैबर पख्‍तूनख्‍वा प्रांत में एक व्‍यक्ति के मारे जाने की खबर है। बताया जा रहा है कि भूकंप से घर की छत गिर गई जिससे इस व्‍यक्ति की मौत हो गई। पाकिस्‍तानी समयानुसार सुबह 1:54 मिनट पर यह भूकंप आया था। पाकिस्‍तान में पेशावर, इस्‍लामाबाद, लाहौर और पंजाब तथा खैबर पख्‍तूनख्‍वा प्रांत के अन्‍य हिस्‍सों और भारत तक इस जोरदार भूकंप के झटके महसूस किए गए।

अफगान इलाकों से आ रही तस्‍वीरों में दिख रहा है कि भूकंप की वजह कई इलाके बर्बाद हो गए हैं। यूरोपीय भूकंप केंद्र का अनुमान है कि इसके झटके करीब 500 किलोमीटर के इलाके में महसूस किए गए। भूकंप के झटके बाद लोग दहशत में आ गए और सड़कों पर निकल आए। इससे पहले पिछले शुक्रवार को पाकिस्‍तान के कई शहरों में रिक्‍टर पैमाने पर 5 की तीव्रता वाला भूकंप आया था।








जरा ठहरें...
श्रीलंका में ईंधन और नकदी की कमी की वजह से स्कूल बंद
देश में कोरोना के एक दिन में 6 हजार से ज्यादा मामले
देश में कोरोना के एक दिन में 8 हजार से ज्यादा मामले दर्ज
गत आठ साल में स्वास्थ्य क्षेत्र में विकास का प्रयास किया - प्रधानमंत्री मोदी
इस बार देश में अनुमान से ज्यादा बारिश की उम्मीद
केरल इस बार मानसून तीन दिन पहले पहुंच गया
ईडी ने फारूख अब्दुल्ला को पूछताछ के लिए बुलाया
वंशवाद लोकतंत्र के लिए खतरनाक - प्रधानमंत्री
सीएनजी के दामों में फिर बढ़ोत्तरी, दिल्ली में 73 रूपए किलो पहुंची सीएनजी
देश में कोरोना के लगभग 23 सौ नए मामले दर्ज
गेहूं और चावल से ज्यादा दूध का उत्पादन - मोदी
बांद्रा और जयपुर के बीच विशेष ग्रीष्मकालीन रेलगाड़ी का संचालन किया जाएगा
उत्तर रेलवे ने इन गाड़ियों में पर्दे और लेनिन की सुविधा बहाल की
नागपुर आरएसएस मुख्यालय में मॉक ड्रिल
रेलवे गाड़ियों में लेनिन देने के लिए ओवरटाइम काम कर रहा है - राजीव जैन, महानिदेशक, जनसंपर्क, रेलमंत्रालय
जापान के प्रधानमंत्री भारत के दो दिवसीय दौरे पर
पाकिस्तान में भारतीय मिसाइल गिरने की घटना गलती के अलावा और कुछ नहीं लगता - अमेरिका
लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला बुधवार को मध्य प्रदेश के दौरे पर
यूक्रेन में रहने वाले बिहार वासियों को स्वदेश लाने के लिए बिहार सरकार प्रयासरत
गाजियाबाद सबसे प्रदूषित शहर
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Third Eye World News: वीडियो
22 मार्च 2022 से...
Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.