ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

पश्चिम बंगाल

जब सीबीआई को पुलिस ने लिया हिरासत में

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

४ जनवरी २०१९

नई दिल्ली। इतिहास में शायद पहली बार हुआ है जब सीबीआई को पुलिस ने ही हिरासत में ले लिया गया। जी हां शारदा घोटाले में कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से पूछताछ करने पहुंची सीबीआई टीम को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इस बीच ममता बनर्जी ने मीडिया के सामने आयी और बोली कि मोदी तानाशाह हैं उन्हें हटाना पड़ेगा। ममता ने आरोप लगाया कि मोदी, शाह और डोभाल के इशारे पर सीबीआई काम कर रही है। उन्होंने कोलकाता में धरने पर बैठने की घोषणा कर दी


इससे पहले सीबीआई के जॉइंट डायरेक्टर को गिरफ्तार करने के लिए उनके घर कोलकाता पुलिस पहुंच गई। वहीं, दूसरी ओर पश्चिम बंगाल के डीजीपी कमिश्नर राजीव कुमार के आवास में पहुंच गए, जहां पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अधिकारियों के साथ मीटिंग करने पहुंचीं। कोलकाता मेयर फिरहाद हाकिम भी पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर पहुंचे। मीटिंग के बाद ममता बनर्जी ने मीडिया के सामने कहा, 'मुझ पर बहुत दबाव डाला गया। देश नरेंद्र मोदी से परेशान है।' उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र हम पर दबाव बना रहा है। पूछताछ के लिए जब टीम कमिश्नर आवास पहुंची तभी वहां कुछ देर बाद कोलकाता पुलिस और सीबीआई अफसरों के बीच हाथापाई की नौबत भी आ गई। इसके बाद बिधाननगर पुलिस ने सीबीआई के दफ्तर सीजीओ कॉम्प्लेक्स पर कब्जा कर लिया। सीबीआई टीम को हिरासत में लेने के बाद उसे पुलिस स्टेशन ले जाया गया। पुलिस टीम द्वारा सीबीआई अफसरों को कस्टडी में लेने की घटना के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आनन-फानन में पुलिस कमिश्नर के घर पहुंचीं और वहां पुलिस अधिकारियों के साथ मीटिंग की।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी रोज वैली और शारदा पोंजी घोटाले जैसे मामलों में सीबीआई की ओर से तलब किए गए कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के बचाव में उतर आईं। उन्होंने बीजेपी पर बदले की भावना वाली राजनीति करने का आरोप लगाया। ममता ने कहा कि कोलकाता पुलिस कमिश्नर दुनिया के सबसे अच्छे लोगों में से एक हैं। उनकी ईमानदारी और बहादुरी निर्विवाद है। वह 24x7 काम कर रहे हैं और हाल ही में केवल एक दिन की छुट्टी ली है।


ममता ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, ‘बीजेपी नेतृत्व राजनीतिक बदले की ओछी भावना से काम कर रहा है। न सिर्फ राजनीतिक दल उनके निशाने पर हैं बल्कि पुलिस को नियंत्रण में लेने और संस्थानों को बर्बाद करने के लिए वे सत्ता का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। हम इसकी निंदा करते हैं।’ गौरतलब है कि राजीव कुमार 1989 बैच के पश्चिम बंगाल काडर के आईपीएस अधिकारी हैं। पिछले सप्ताह वह निर्वाचन आयोग के अधिकारियों के साथ बैठक में भी शामिल नहीं हुए थे। इस पूरे मामले में खास बात यह है कि सीबीआई टीम रेलवे के इन्स्पेक्टर जनरल तमल बासु के अलावा कोलकाता अडिशनल कमिश्नर विनीत कुमार गोयल से भी पूछताछ करना चाहती है।


मीडिया रिपोर्ट्स में इस पूरे मामले को लेकर एक और अहम बात सामने आई है कि पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर पहुंची सीबीआई टीम के पास पूछताछ के सभी दस्तावेज मौजूद थे। इसके बावजूद सीबीआई टीम को चारों ओर से घेरकर हिरासत में ले लिया गया। टीएमसी के नेता डेरेन ओ ब्रायन ने कहा, 'बीजेपी संवैधानिक तख्तापलट की योजना बना रही है? कोलकाता पुलिस कमिश्‍नर के घर को 40 सीबीआई अफसरों ने घेर रखा है। संस्थानों का विनाश बिना किसी रोकटोक के चल रहा है। सोमवार को हम संसद में अपनी मांग उठाने जा रहे हैं। मोदी सरकार जा रही है। लोकतंत्र को बचाने के लिए सभी विपक्षी दलों को आगे आने होगा।'


जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.