ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख

जम्मू कश्मीर में पर्यटकों पर लगी रोक हटी, सरकार ने जारी की एडवाइजरी!

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

श्रीनगर और नई दिल्ली से एक साथ, १० अक्टूबर २०१९

जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने गुरुवार से पर्यटकों पर जम्मू-कश्मीर जाने की रोक हटा दी। राज्य में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद एहतियातन राज्य में पर्यटकों की आवाजाही बंद कर दी गई थी, जिसे आज एक बार फिर से शुरू कर दिया गया। जम्मू कश्मीर के गृह विभाग ने इस संबंध में एक सुरक्षा एडवाइजरी भी जारी की है जिसमें कहा गया कि राज्य में जाने के इच्छुक पर्यटकों को सभी आवश्यक सहायता और सहायता प्रदान की जाएगी। 7 अक्तूबर को जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक की अध्यक्षता में एक उच्च-स्तरीय सुरक्षा समीक्षा बैठक बुलाई गई थी जिसमें यह निर्णय लिया गया कि 10 अक्तूबर से पर्यटकों से जुड़ी एडवाइजरी को हटा दिया जाएगा। पर्यटन क्षेत्र से जुड़े लोगों ने इस कदम का स्वागत किया है और उम्मीद जताई है कि इस घोषणा के बाद और अधिक पर्यटक घाटी आएंगे।


जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने आर्टिकल 370 खत्म किए जाने के बाद से हिरासत में लिए गए तीन नेताओं को गुरुवार को रिहा कर दिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यावर मीर, नूर मोहम्मद और शोएब लोन को विभिन्न आधारों पर रिहा किया गया है। मीर राफियाबाद विधानसभा सीट से पूर्व विधायक रह चुके हैं, जबकि लोन ने कांग्रेस के टिकट से उत्तर कश्मीर से चुनाव लड़ा था जिसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। उन्होंने बाद में कांग्रेस छोड़ दी थी। उन्हें पीपुल्स कॉन्फ्रेंस प्रमुख सज्जाद लोन का करीबी माना जाता है। नूर मोहम्मद नेशनल कॉन्फ्रेंस के कार्यकर्ता हैं। रिहा किए जाने से पहले नूर मोहम्मद एक शपथ पत्र पर हस्ताक्षर कर शांति बनाए रखने एवं अच्छे व्यवहार का वादा करेंगे। इससे पहले राज्यपाल प्रशासन ने पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के इमरान अंसारी और सैयद अखून को स्वास्थ्य कारणों से 21 सितंबर को रिहा किया था।

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को समाप्त करने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के केंद्र सरकार के पांच अगस्त के फैसले के बाद नेताओं, अलगाववादियों, कार्यकर्त्तार्ओं और वकीलों समेत हजार से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया था। इनमें तीन पूर्व मुख्यमंत्री- फारुख अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती शामिल हैं। करीब 250 लोग जम्मू-कश्मीर के बाहर जेल भेजे गए। फारुक अब्दुल्ला को बाद में लोक सुरक्षा कानून के तहत हिरासत में लिया गया जबकि अन्य नेताओं को दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) के तहत हिरासत में लिया गया।




जरा ठहरें...
पुलवामा मुठभेड़ में लश्कर के 2 आतंकी ढेर, 1 जवान घायल
उधमपुर-श्रीनगर-बारामुला रेल लिंक समय से पूरा हो – मनोज सिन्हा
सिविल सेवा का टॉपर राजनीति छोड़ फिर प्रशासनिक सेवा में लौटने की तैयारी में…!
पूर्व केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा बने जम्मू कश्मीर के नए उपराज्यपाल
लद्दाख में चीन ने पीछे किए अपने कदम...!
लेह में प्रधानमंत्री ने भरी हुंकार, लेह भारत का मस्तक...!
जाना था रक्षामंत्री को, लेकिन अचानक लद्दाख के अग्रिम मोर्चे पर पहुंचे प्रधानमंत्री
चीन को जवाब देने के लिए वायुसेना ने शुरू की आपात हवाई पट्टी का निर्माण
जम्मू कश्मीर में प्रीपेड मोबाइल सेवाएं शुरू
जम्मू-कश्मीर: आज से इतिहास और भूगोल दोनों बदल गए
कुलगाम में बड़ा आतंकी हमला, पांच मजदूरों की आतंकियों ने निर्मम हत्या की!
कश्मीर घाटी में सोमवार से सभी पोस्टपेड मोबाइल फोन चालू
जम्मू कश्मीर में बंद पड़े ५० हजार मंदिरों को खोलने की तैयारी में सरकार!
अभूतपूर्व मोदी सरकार: जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक राज्यसभा से पास!
आज के इस ऐतिहासिक फैसले को हमने साल भर पहले ही ब्रेक कर दी थी..!
जम्मू कश्मीर को तीन हिस्सों में बांटने की सरकार की तैयारी...?
कठुआ सामूहित नाबालिक दुष्कर्म कांड में आरोपियों को मिली आजीवन कारावास की सजा
जम्मू कश्मीर से धारा ३७० और ३५ ए हटाई जाए - भाजपा
जम्मू कश्मीर से ३५ ए हटना मुमकिन नहीं...?
पुलवामा के मास्टर माइंड को सेना ने मार गिराया
मोदी सरकार सज्जाद लोन की सरकार चाहती थी जो मुझे मंजूर नहीं था - राज्यपाल
जम्मू कश्मीर विधानसभा भंग की गयी
आतंक प्रभावित दक्षिण कश्मीर के चार जिलों में भाजपा का क्लीन स्वीप
जम्मू कश्मीर को तीन हिस्सों में बांटने की तैयारी में मोदी सरकार!
जवानों को सियाचीन बेस पर पहुंचने के लिए बीआरओ ने बनाया पुल
कश्मीर में एनएसजी कमांडो तैनात!
एशिया की सबसे बड़ी सुरंग का प्रधानमंत्री ने किया शिलान्यास
निर्मल को हटाकर कवींद्र को बनाया उपमुख्यमंत्री
यासीन मलिक पुलिस हिरासत में लिए गए!
कठुवा दुष्कर्म मामले की सुनवाई पर सर्वोच्च न्यायालय ने रोक लगाई
सीआरपीएफ जवानों पर हमले से पूर्व आतंकियों ने वीडियो जारी किया
राज्य में हिंसा में कमी आई- महबूबा
भाजपा अपना हित साधने के लिए सहारा ले रही है
मेरा यह दौरा जवानों को समर्पित है - राष्ट्रपति
लश्कर तोइबा के शीर्ष कमांडर दुजाना को सुरक्षा बलों ने मार गिराया
पत्थरबाजों का उस्ताद और अलगाववादी कश्मीरी शब्बीर शाह गिरफ्तार
कश्मीर में हिंसा और तनाव जारी हैं
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.