ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

मुख्य समाचार

योगी के उ.प्र. में पत्रकार की जमीन कब्जा करने वाले दंबगों की अंजाम भुगतने की धमकी
दबंगों के साथ धमकी देने वाले में गांव का पूर्व प्रधान केदार चौरसिया भी शामिल

प्रतापगढ़ संवाददाता

साथ में थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज टीम नई दिल्ली

मुख्यमंत्री योगी के राज्य में पत्रकार की जमीन पर कब्जा करके निर्माण कर लेने वाले दबंगों ने अब खुले आम चुनौती दी है कि लगा लो जितनी ताकत नहीं बनने देंगे तुम्हारी बाउंड्री की दीवार। मामला उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले के पट्टी तहसील के रामपुरबेला गांव का है। पत्रकार आकाश श्रीवास्तव और उनके परिवार की आबादी की जमीन पर दबंगों ने जबरन कब्जा करके सैकड़ों साल पुराना रास्ता बंद करके निर्माण कर लिया है। अफसोसजनक बात यह है कि संबंधित जिले के सारे अधिकारियों को बार-बार आवेदन पत्र देने के बावजूद प्रशासन और पुलिस का किसी तरह का कोई सहयोग आकाश और उनके परिवार को नहीं मिला है। पुलिस उलटा दबंगों का साथ दे रही है।


उ.प्र. के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

दबंगों का साथ और सह देने वालों में गांव का पूर्व प्रधान केदार चौरसिया और वर्तमान प्रधान अशोक उर्फ विषंभर सरोज भी शामिल है। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि वर्तमान ग्राम प्रधान के ऊपर भ्रष्टाचार का बड़ा आरोप लगा है जिसकी जांच होने की बात कजी जा रही है। पूर्व ग्राम प्रधान केदार चौरसिया ने पत्रकार आकाश श्रीवास्तव को पुलिस के सामने खुली चुनौती देते हुए धमकी दी है कि लगा लो जितनी ताकत लखनऊ से लेकर दिल्ली तक तुम्हारी दीवार किसी भी कीमत पर बनने नहीं देंगे। यह कितनी बड़ी बिडंबना है कि उत्तर प्रदेश में पत्रकारों की कोई सुनवाई नहीं हो रही है। थाने में जाने पर पत्रकार को अपनी पीड़ा व्यक्त करने और अपनी बात रखने के लिए संबंधित पुलिस निरीक्षक का घंटो इंतजार करना पड़ता है।

कोई सिपाही बैठने तक नहीं बोलता। जबकि एक पत्रकार पुलिस के साथ कंधा से कंधा मिलाकर काम करता है। उसकी इतनी दयनीय स्थिति योगी राज में होगी कोई सोचा भी नहीं रहा होगा। यह बात उस पत्रकार की हो रही है जो भारत सरकार से मान्यता प्राप्त हैं और लगभग 21-22 साल से राष्ट्रीय राजधानी में पत्रकारिता कर रहे हैं। पड़ोस के दबंगों ने गुंडई के बल पर आकाश के घर के जमीन पर जबरन कब्जा करके निर्माण कर लिया और रास्ता बंद कर दिया। और अभी भी आकाश के घर वालों को धमकी दे रहे हैं। हम यह भी बता दें कि उ.प्र. के वर्तमान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आज से तकरीबन एक दशक पहले संबंधित खबरों को लेकर आकाश की फोन पर अक्सर बात हुआ करती थी।


दिल्ली पुलिस के एक कार्यक्रम में दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी रोबिन हिबू के साथ।

जो अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बिल्कुल याद नहीं होगा। इससे बड़ी बिड़म्बना और क्या हो सकती है। आकाश श्रीवास्तव ने दबंगों से अपनी जमीन की सुरक्षा को लेकर सभी संबंधित अधिकारियों, शासन में बैठे माननीयों को पत्र लिखा लेकिन मौजूदा भाजपा सरकार के किसी अधिकारी ने आकाश के इस गुहार की सुनवाई नहीं की। न ही दबंगों पर किसी तरह की कोई कार्रवाई की गयी।


राष्ट्रपति भवन में कवरेज के दौरान।

इससे बड़ी बात और क्या हो सकती है कि उ.प्र, में योगी सरकार के राज्य में संविधान का चौथा स्तंभ कहे जाने वाले अब पत्रकार उनका परिवार, उनका घर जमीन कुछ भी सुरक्षित नहीं है। न ही कोई सुनवाई है चाहे आप जिससे अपनी बात कह लें। यह मामला उ.प्र. के प्रतापगढ़ जिले के पट्टी तहसील के तहत आने वाले गांव रामपुरबेला का है। जहां दबंगों और गुंडों ने जोर जबरजस्ती से एक पत्रकार के घर की सामने की जमीन पर निर्माण करके कब्जा कर लिया। मामला पत्रकार आकाश श्रीवास्तव के घर का है। जो देश की राजधानी दिल्ली में पिछले लगभग 22 सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं और पीआईबी (मान्यता प्राप्त) पत्रकार हैं।

आकाश श्रीवास्तव के घर पर उनके 75 साल के वृद्ध माता पिता रहते हैं। उनके पड़ोस के रहने वाले अशोक श्रीवास्तव, शीतला प्रसाद श्रीवास्तव, गंगा प्रसाद श्रीवास्तव, काशी प्रसाद श्रीवास्तव, माता प्रसाद श्रीवास्तव, आदित्य श्रीवास्तव जो सभी एक ही परिवार के हैं ने उनके घर की जमीन पर जबरन गुंडई और बाहुबल के जरिए कब्जा कर लिया और निर्माण कार्य करके सैकड़ों साल पुराने रास्ते को अवरुद्ध कर दिया। इस संदर्भ में जब उन सभी को रोकने की कोशिश की गयी तो उपरोक्त सभी लोग गाली गलौज और मार-पीट पर उतारे हो गए। पूरे गुंड़ई और दबंगई के बल पर निर्माण करके कब्जा कर लिया। यह एक दिन की बात नहीं है आए दिन उपरोक्त इस तरह की शांति भंग करते रहते हैं। जबकि जिस जमीन पर दबंगों द्वारा कब्जा किया गया है उसे आकाश के पिता श्री बनवारी लाल श्रीवास्तव ने सन् 1990 में एक तीसरे पक्ष से खरीदा था। जो एक स्टॉम पेपर पर आपसी समझौते के रूप में लिखित तौर पर मौजूद है। दबंगों ने कब्जा करके आकाश श्रीवास्तव के वृद्ध पिता को अपनी जमीन छोड़ने पर मजबूर कर दिया।


इस संदर्भ में पीड़ित और पत्रकार आकाश श्रीवास्तव ने शुरू में प्रतापगढ़ के पुलिस अधीक्षक और जिलाधिकारी से बात करने की कोशिश की लेकिन दोनों अधिकारियों ने बात तक नहीं की। ईमेल और वाट्सअप के जरिए किए गए शिकायत पत्र पर कोई सुनवाई नहीं हुई न ही कार्रवाई की गयी। उसके बाद मामले की शिकायत उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक के कार्यालय और उनके जनसंपर्क अधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक त्रिपाठी से की गयी। वो भी कुछ नहीं किए। बाद में पीआरओ होते हुए भी फोन ही उठाना छोड़ दिया।

वाट्सअप और एसएमएस के जरिए इस बारे में कई बार उ.प्र. के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आनंद कुमार, कानून व्यवस्था से बार बार की गयी लेकिन उन्होंने कोई जवाब आज तक नहीं दिया। उन्हें शिकायत ईमेल, वाट्सअप, के जरिए की गयी लेकिन आज तक उनके तरफ से कोई उत्तर नहीं मिला। उ.प्र. पुलिस और पुलिस महानिदेशक को ट्टविटर हैंडल पर भी इस अराजकता की सूचना दी गयी लेकिन वहां भी शिकायत करने बेकार गया।

इस मामले में पट्टी के तहसीलदार से भी शिकायत की गयी लेकिन उन्होंने भी मामले में किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की। उसके बाद उ.प्र. के मुख्यमंत्री कार्यालय में ट्विटर हैंडल, ईमेल के जरिए शिकायत की गयी वहां भी कोई सुनवाई नहीं हुई। शिकायत की प्रति मुख्यमंत्री कार्यालय को भेजी गयी लेकिन फिलहाल कोई कार्रवाई नहीं हुई है। मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार से भी एक पत्रकार होने के नाते मदद लेने की कोशिश की गयी लेकिन वहां से भी कोई फायदा नहीं मिला। योगी राज में ये हाल उस पत्रकार की है जो देश की राजधानी में पत्रकारिता के जरिए देश की सेवा कर रहा है। 

पीड़ित और पत्रकार आकाश श्रीवास्तव ने अपनी गुहार तहसील और थाने से लेकर जिलास्तर और देश की राजधानी लखनऊ में संबंधित सभी अधिकारियों और शासनाध्यक्षों से करने की कोशिश की लेकिन किसी ने आकाश की पुकार नहीं सुनी।

पत्रकार आकाश से जब बात की गयी तो जबरजस्त तनाव और हताश निराश में लग रहे आकाश श्रीवास्तव ने कहा अब तो बस ऊपर वाले पर ही भरोशा है जो सबसे ऊपर है और सबका मालिक है जो एक दिन इन दबंगों को जरूर सजा देगा। क्योंकि योगी राज में एक पत्रकार ने सभी लोगों के दरवाजे खटखटाए लेकिन किसी ने नहीं सुनी मेरी बात। न ही दबंगों के दबंगई से छुटकारा दिलाने में किसी तरह की मदद की जिससे न्याय मिल सके।


जरा ठहरें...
दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का परिवार भी सुरक्षित नहीं
राफेल की अभी सिर्फ पूजा हुई है, उड़ने में लगेंगे अभी ३ साल!!!
लिचिंग शब्द भारत से नहीं आया - मोहन भागवत
'भारत उच्च मानक वाला बुलेटप्रूफ जैकेट बनाने वाला विश्व का चौथा देश बना'
निचली अदालत ने चिदंबर को जमानत देने से किया इंकार, अब सुप्रीम कोर्ट में गुहार
सैन्यबलों के सम्मान के लिए धारा ३७० हटाया - गृहमंत्री
प्रधानमंत्री लौटे, भव्य स्वागत, बोले अब काम करना है!
IAS, IPS और IFS के ढांचे को बदलने जा रही है सरकार...?
केंद्र प्याज की बढ़ती कीमतों को रोकने के लिए उठाए कई कदम
जम्मू कश्मीर में ५० हजार बंद पड़े मंदिरों को फिर से खोलने की तैयारी में सरकार!
सरकार को अर्थ व्यवस्था को गति देने की घोषणा, शेयर बाजार को लगे पंख
कैबिनेट के अहम फैसले: ई-सिगरेट पर पाबंदी, तो रेल कर्मियों को मिला तोहफा!
पाक अधिकृत कश्मीर एक दिन भारत का हिस्सा बनेगा - एस जय शंकर
अनुच्छेद 370 कश्मीर को विकास की मुख्यधारा से जोड़ने में सबसे बड़ा बाधक था - ईरानी
हिंदी दिवस: गृहमंत्री ने एक राष्ट्र और एक भाषा की, की बात!
ख़ास: मोदी सरकार राष्ट्रपति भवन से लेकर इंडियागेट तक कायाकल्प करने की तैयारी पूरी की!
ऑटो सेक्टर में गिरावट के लिए बीएस-6 मॉ़डल जिम्मेवार - वित्त मंत्री
ऑटो क्षेत्र में मंदी का कहर, मारूति ने बंद किया उत्पादन!
दुश्मनों का काल अपाचे, भारतीय वायुसेना का बना हिस्सा!
... दुनिया के एक अरब से ज्यादा लोगों के सामने भोजन और पानी का संकट..!
पाक की बार -बार धमकी के बीच सेना प्रमुख पहुंचे कश्मीर के सीमावर्ती इलाकों में
वित्त मंत्री की बड़ी घोषणा, १० बैंकों को मिलाकर ४ बैंक बनाए गए
भाजपा के लगभग 7 करोड़ नए सदस्य बने...!
सीआरपीसी तथा आईपीसी में बदलाव वक्त की जरूरत - गृहमंत्री
'मोदी सरकार 50 लाख हेक्टेएर बंजर भूमि को बनाएगी हरा-भरा'
मोदी सरकार की भ्रष्ट अधिकारियों पर बड़ी कार्रवाई...!
कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने माना मोदी की आलोचना ठीक नहीं...?
देश के पूर्व गृहमंत्री चिदंबरम को सीबीआई ने गिरफ्तार किया!
एसबीआई जल्द बंद कर देगा डेबिट और क्रेडिट कार्ड
परमाणु हमला भविष्य की परिस्थितियों पर निर्भर करेगा - रक्षा मंत्री
प्रधानमंत्री की ललकार, हम न समस्याओं को टालेंगे न पालेंगे...!
पाक ने लद्दाख सीमा से सटे अपने लड़ाकू विमान तैनात किए
भारत ने धारा ३७० खत्म किया, पाक ने भारत से संबंध खत्म किया
आज के इस ऐतिहासिक फैसले को हमने साल भर पहले ही ब्रेक कर दी थी..!
मोदी सरकार का जम्मू कश्मीर पर बड़ा फैसला...?
जम्मू कश्मीर को तीन हिस्सों में बांटने की सरकार की तैयारी...?
सारे पर्यटक और अमरनाथ यात्री तुरंत कश्मीर छोड़ें - जम्मू कश्मीर सरकार
उन्नाव कांड: सर्वोच्च न्यायालय को ‘योगी’ और उ.प्र. ‘पुलिस’ पर भरोशा नहीं, मामला दिल्ली स्थांनातरित
उन्नाव कांड: योगी सरकार के मुंहपर 'सर्वोच्च' तमाचा!
अयोध्या में भगवान राम की विश्व की सबसे ऊंची और भव्य प्रतिमा लगाने की मंजूरी
अमेरिका को दो टूक, एस-400 पर नहीं झुकेगा भारत...!
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शीर्ष स्तर के १५ अधिकारियों को किया बर्खास्त
केंद्रीय मंत्री की मौजूदगी में वंदेभारत में परोसा गया सड़ा चावल, मामले में कार्रवाई का आश्वासन
हर साल रेलवे में यात्रा के दौरान १७ हजार चोरियां...!
मुख्यमंत्री योगी ने भी नहीं सुनी एक पत्रकार की फरियाद, दबंगों का हो गया कब्जा
उ.प्र. में योगी राज में पत्रकार के घर पर गुंडों और दबंगों का कब्जा!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.