ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

सेहत की बातें

गाय के दूध से आसान हो सकता है शिशुओं में एड्स का उपचार

न्यूयॉर्क

एजेंसी

१६ नवंबर २०१४

सामान्यत: एड्स से बचाव और उपचार में प्रयोग की जाने वाली वाली एंटी-रेट्रोवायरल दवाएं पानी में बहुत घुलनशील नहीं होती हैं। लेकिन इन एंटी-रेट्रोवायरल दवाओं से युक्त दूध बच्चों को एचआईवी संक्रमण से बचाने और उपचार में बेहतर मदद कर सकता है। शोधकर्ताओं की एक टीम ने गाय के दूध में एक प्रोटीन की संरचना में फेरबदल कर इसमें एंटी-रेट्रोवायरल दवा को घुलनशील बनाने का नया तरीका खोजा है।


नवजात बच्चे अधिकांश एंटी-रेट्रोवायरल दवाएं सहन नहीं कर पाते। एचआईवी से बचाव और उपचार में प्रयोग की जाने वाली सबसे सामान्य दवा रिटोनावीर के बहुत सारे दुष्प्रभाव भी हैं। अमेरिका की नसिल्वानिया स्टेट यूनिवर्सिटी में खाद्य विज्ञान के सहायक प्रोफेसर फेटेरिको हार्ट ने बताया, "यह भौतिक-रासायनिक गुण शिशुओं की व्यवस्था को चुनौती देते हैं।" इस समस्या को सुलझाने के लिए हार्ट ने गाय के दूध में पाए जाने वाले एक प्रोटीन समूह 'केसिंस' पर प्रयोग करके देखा। स्तनपाइयों के दूध में पाए जाने वाले केसिंस प्रोटीन, मां से बच्चे में एमिनो एसिड और कैल्शियम वितरण की प्राकृतिक व्यवस्था है। हार्ट ने सोचा कि यह रिटोनावीर दवा के अणुओं को भी वितरित कर सकते हैं। दूध को अति-उच्च दाब में समरूप करने से केसिंस के गुणों की बाइंडिंग बढ़ी।

हार्ट ने बताया, "अणुओं की बढ़ी बाइंडिंग के परिणाम के बाद, हमने माना कि पानी बहुत न घुलने वाली दवा को बच्चों में पहुंचाने के लिए रिटोनावीर युक्त दूध का पाउडर प्रयोग किया जा सकता है।" उन्होंने बताया, "अभी हम परीक्षण कर रहे हैं और प्रयोग के अंतिम चरणों में हैं, जिसमें हमने सुअर के बच्चों में तीन अलग-अलग प्रयोग किए हैं।" यह शोध ऑनलाइन जर्नल 'फार्मास्यूटिकल रिसर्च' में प्रकाशित हुआ।





जरा ठहरें...
'अंतरा' है नया गर्भ निरोधक उपाय
कई बीमारियों में लाभाकारी है दालचीनी
अच्छी नींद से घटता है तनाव
तंबाकू का सेवन नाबालिगो में 54 प्रतिशत तक घटा : नड्डा
प्राथमिक स्कूलों में भी अब सिखाया जाएगा योग
खाली पेट लीची खाना खतरनाक हो सकता है
कम सोना दिल के लिए खतरनाक हो सकता है
एड्स के खिलाफ सरकार ने नीतिगत फैसले किए - नड्डा
भारतीय वैज्ञानिकों ने तुलसी के जीनोम को डिकोड किया
दांत चमकाने के घरेलू उपायों को पहले परख लें
सेक्स दिल और सेहत को रखता है सेहतमंद
मां बनने की कोई उम्र सीमा नहीं होती है!
विटामिन बी घटाता है हृदयाघात का जोखिम
पानी पीने से बढ़ती है बुद्धिमत्ता!
नीम से कैंसर का इलाज ढूंढने में लगे वैज्ञानिक
मधुमेह, दिल की बीमारी ने बढ़ाई जैतून तेल की मांग
खुश रहना है तो खूब फल और सब्जियां खाएं
हरी चाय यानि ग्रीन टी से अपना याददाश्त बढ़ाइए
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.