ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

मुख्य समाचार

अयोध्या पर फैसले से पहले शीर्ष न्यायाधीश ने उ.प्र. के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक की

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली, ८ नवंबर २०१९

अयोध्या पर फैसला आने में महज चंद दिन बचे हैं। फैसला आने से पहले उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में शांति व्यवस्था बनाए रखने को लेकर तमाम उपाय किए जा रहे हैं। इस बीच सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई फैसला सुनाने से पहले उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आरके तिवारी, डीजीपी ओमप्रकाश सिंह समेत कई वरिष्ठ अफसरों के साथ बैठक की। अयोध्या केस में फैसला आने से पहले प्रदेश की सुरक्षा तैयारियों के लिहाज से इस मुलाकात को अहम बताया जा रहा है।


संग्रहित तस्वीर।

अयोध्या मामले की मुख्य न्यायाधीश की अगुआई वाली 5 जजों की बेंच ने सुनवाई की थी। उत्तर प्रदेश के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक में बेंच के अन्य जज भी मौजूद हैं। इस बीच अयोध्या जिले को चार जोन- रेड, येलो, ग्रीन और ब्लू में बांटा गया है। इनमें 48 सेक्टर बनाए गए हैं। विवादित परिसर, रेड जोन में स्थित है। पुलिस के मुताबिक, सुरक्षा योजना इस तरह बनाई जा रही है कि एक आदेश पर पूरी अयोध्या को सील किया जा सके। प्रशासन ने फैसले का समय नजदीक आने पर, अर्धसैनिक बलों की अतिरिक्त 100 कंपनियां मांगी हैं। इससे पहले दीपोत्सव पर यहां सुरक्षाबलों की 47 कंपनियां पहुंची थीं, जो अभी भी तैनात है। अयोध्या के जिलाधिकारी अनुज कुमार ने कहा कि प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। हालांकि फैसले के मद्देनजर विवादित जगह के आसपास रहने वाले लोग घरों में राशन जमा कर रहे हैं।

हालांकि, उन्हें भरोसा दिलाया गया है कि सामान्य जीवन पर कोई असर नहीं पड़ेगा। फैसले के बाद स्कूलों के खुलने के संबंध में भी बातचीत की जा चुकी है। पुलिस ने सोशल मीडिया पर किसी भी प्रकार के दुष्प्रचार या किसी भी सम्प्रदाय के खिलाफ भड़काऊ कंटेंट के प्रसार पर नजर रखने के लिए जिले के 1600 स्थानों पर 16 हजार वॉलंटियर तैनात किए हैं। गड़बड़ी रोकने के लिए 3000 लोगों को चिह्नित करके उनकी निगरानी की जा रही है।





जरा ठहरें...
दिल्ली, उत्तराखंड, उ.प्र. और गुजरात में भूकंप के झटके
पूर्व प्रधानमंत्री ने मोदी सरकार को बताए मंदी दूर करने के उपाय!
आतंकवादियों और नक्सलियों के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई करे सीआरपीएफ - गृहमंत्री
राहुल के खिलाफ पूरे देश में होगा भाजपा का प्रदर्शन - भूपेंद्र यादव
सर्वोच्च न्यायालय: "चौकीदार चोर है", राहुल को मिली मांफी!
भाजपा के ऑपरेशन लोटस की नैतिकता पर गंभीर सवाल - सिंघवी
महाराष्ट्र में राष्ट्रपति, पर सरकार बनेगी भाजपा की ही.?
महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन, विधानसभा निलंबित!
भाजपा और शिवसेना में दूरिया बंढ़ी, शिवसेना का केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा
आयोध्या पर सर्वोच्च फैसला: सत्यमेव जयते...!
आयोध्या पर ऐतिहासिक फैसला: राममंदिर वहीं, मस्जिद को दूसरी जगह देने को आदेश
ब्रेकिंग न्यूज़: सुप्रीम कोर्ट अयोध्या पर कल फैसला सुनाएगा
K-4 द्वारा हिंदुस्तान का दुश्मन पर प्रहार..!
पाक अधिकृत कश्मीर को भारत के नक्शे में दिखाए जाने से बौखलाया पाकिस्तान
सरकार को घेरने के लिए विपक्षी दल होने लगे लामबंद
सरकार ने देश का नया नक्शा जारी किया...!
जम्मू कश्मी: आज से इतिहास और भूगोल दोनों बदल गए
केंद्र सरकार का फैसला, बीएसएनएल और एमटीएनएल का होगा विलय!
'भारत उच्च मानक वाला बुलेटप्रूफ जैकेट बनाने वाला विश्व का चौथा देश बना'
सैन्यबलों के सम्मान के लिए धारा ३७० हटाया - गृहमंत्री
IAS, IPS और IFS के ढांचे को बदलने जा रही है सरकार...?
हर साल रेलवे में यात्रा के दौरान १७ हजार चोरियां...!
योगी के उ.प्र. में पत्रकार की जमीन कब्जा करने वाले दंबगों की अंजाम भुगतने की धमकी
मुख्यमंत्री योगी ने भी नहीं सुनी एक पत्रकार की फरियाद, दबंगों का हो गया कब्जा
उ.प्र. में योगी राज में पत्रकार के घर पर गुंडों और दबंगों का कब्जा!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.