ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

खेल-खिलाड़ी

अंतरराष्ट्रीय किक्रेट कौंसिल और युनिसेफ ने शुरु किया स्वच्छता अभियान

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

१८ जनवरी २०१६

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने खेल के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने तथा क्रिकेट के प्रति अपनी वचनबद्धता की पुष्टि करते हुए युनिसेफ के साथ एसेासिएशन में अपने सीएसआर प्रोग्राम क्रिकेट फॉर गुड का लॉन्च किया है। इसी श्रृंखला में क्रिकेट की विशाल पहुंच और शक्ति का इस्तेमाल करने के उद्देश्य के साथ क्रिकेट फॉर गुड के तत्वावधान में आईसीसी और युनिसेफ के बीच सहयोग के मद्देनज़र टीम स्वच्छ  की धारणा भी पेश की गई है। स्वच्छता एवं शौचालय के इस्तेमाल को बढ़ावा देना तथा भारत में खुले में शौच की समस्या का समाधान करना इसके पीछे मुख्य दृष्टिकोण है। इस पांच वर्षीय विश्वस्तीय साझेदारी की घोषणा अक्टूबर 2015 में न्यूयॉर्क में की गई और इसका इस्तेमाल भारत एवं उन देशों के बच्चों को जागरुक बनाने के लिए आईसीसी के मंच के रूप में किया जाएगा जहाँ क्रिकेट एक लोकप्रिय खेल है।


लॉन्च के अवसर पर अपने विचार अभिव्यक्त करते हुए डेविड रिचर्डसन ने कहा, ‘‘हम ऐसी पहलों पर युनिसेफ के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं जो बच्चों में स्वास्थ्य, शिक्षा, पोषण, सुरक्षा एवं स्वच्छता के स्तर में सुधार लाएंगी, जोकि हम सभी के लिए बेहद महत्वपूर्ण है।’’ ‘‘आईसीसी और युनिसेफ अगले पांच सालों के दौरान होने वाले आईसीसी कार्यक्रमों के माध्यम से बच्चों एवं किशारों को सशक्तीकरण के लिए लोकप्रिय क्रिकेट समुदाय का इस्तेमाल करेंगी। इसके तहत कोचों, क्रिकेटरों एवं क्रिकेट जगत की लोकप्रिय हस्तियों के सहयोग से विभिन्न आउटरीच कार्यक्रमों एवं अभियानों का संचालन किया जाएगा।’’ अगले महीने आईसीसी वर्ल्ड ट्वेन्टी-20 इण्डिया 2016 के तहत आठ मेजबान शहरों का दौरा शुरू हो जाएगा, इस दौरान स्कूली बच्चों को प्रेरित के लिए रोचक क्रिकेट आधारित सेनिटेशन एवं हाइजीन खेलों का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम के दौरान हिस्सा लेने वाली टीमों के साथ कोचिंग क्लिनिक भी आयोजित किए जाएंगे।’’ शुरूआत में भारत में विशेष रूप से सेनिटेशन यानि साफ-सफाई में सुधार लाने पर ध्यान केन्द्रित किया जाएगा। बड़ी संख्या में लोग आज भी खुले में शौच जाते हैं (564 मिलियन से ज़्यादा) जिसके कारण देश में सेनिटेशन की स्थिति बहुत बुरे स्तर पर है।

यह डायरिया का मुख्य कारण है, जिसके कारण हर दिन भारत में पांच साल से कम कम्र के तकरीबन 300 बच्चों की मृत्यु हो जाती है। यह साझेदारी युनिसेफ-वॉश युनाईटेड अलायन्स के द्वारा पेश की गई अवधारण टीम स्वच्छ के माध्यम से देश में स्वच्छता को बढ़ावा देगी। टीम स्वच्छ  जमीनी स्तर पर लोगों को प्रेरित करने तथा समाज में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए प्रयास करेगी। यह हर वर्ग, लिंग, आयु, धर्म से जुड़ी शहरी एवं ग्रामीण आबादी को एक ऐ स्वच्छ राष्ट्र के निर्माण के लिए प्रोत्साहित करेगी, जहाँ हर व्यक्ति शौचालय का इस्तेमाल करे।


पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर स्वच्छता अभियान में बच्चों से मिलते हुए।

टीम एवं खेल का मूल दृष्टिकोण है टीम स्वच्छ पहल। और इसकी शुरूआत क्रिकेट टीम एवं आईसीसी वर्ल्ड ट्वेन्टी-20 इण्डिया 2016 की क्षमता के साथ होगी। अभियान को कामयाब बनाने के लिए सभी सदस्यों- विभिन्न खिलाड़ियों, कोचों, डॉक्टरों को इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए एकजुट होकर काम करना होगा।  क्रिकेट आइकन एवं युनिसेफ गुडविल अम्बेसडर सचिन तेंदुलकर ने बताया, ‘‘खुले में शौच की समस्या का समाधान करने तथा भारत में सबके लिए सेनिटेशन को सुनिश्चित करने के लिए- सरकार से लेकर खुले में शौच लाने वाले लोगों तक, रोल मॉडलों से लेकर अन्तरराष्ट्रीय विकास साझेदारों तक-सभी को एक टीम के रूप में मिलकर काम करना होगा।’’ बीसीसीआई (बोर्ड ऑफ काउन्सिल फॉर क्रिकेट इन इण्डिया) के सचिव अनुराग कुमार ने बताया, ‘‘टीम स्वच्छ एक ऐसा रचनात्मक एवं सहयोगात्मक प्लेटफॉर्म पेश करती है जो देश भर में इस आंदोलन को तेज़ गति प्रदान करेगा। आईसीसी वर्ल्ड ट्वेन्टी-20 इण्डिया 2016 के माध्यम से बीसीसीआई, आईसीसी और युनिसेफ इस मिशन की दिशा मेंएक साथ मिलकर प्रयास करेंगे।’’


‘‘मुझे विश्वास है कि कोचिंग क्लिनिक, जिनमें दुनिया भर के अग्रणी क्रिकेटर बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेंगे, मेरे साथी भारतीय नागरिकों को इस अनूठी पहल में योगदान देने के लिए प्रोत्साहित करेगी।’’ दक्षिणी एशिया के लिए युनिसेफ के क्षेत्रीय निदेशक करीन हुलशोफ ने बताया, ‘‘युनिसेफ बच्चों के जीवन और भविष्य को बचाने के लिए दुनिया के लोकप्रिय खेल क्रिकेट की क्षमता का इस्तेमाल करने हेतु तत्पर है।’’



जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
देश में बढ़ती आतंकी घटना और सीमापार से पाकिस्तान की तरफ से हो रही गोलाबारी की घटना मोदी सरकार की नाकामी है...
जी हां बिल्कुल मोदी सरकार की नाकामी है।
कोई नाकामी नहीं है।
कह नहीं सकते।
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.