ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

शिक्षा/संस्कृति/पर्यटन

रोमानिया में पढ़ाया जाता है रामायण और महाभारत के अंश

९ मई २०१७

भारत और रोमानिया के बीच बेहद करीबी और मजबूत संबंधों को रेखांकित करते हुए रोमानिया के राजदूत राडू ओक्टावियन डोबरे ने बताया कि दोनों देशों के करीबी सांस्कृतिक संबंध हैं और इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि हमारे यहां 11वीं कक्षा में बच्चों को रामायण और महाभारत के अंश पढ़ाये जाते हैं।


भारत में रोमानिया के राजदूत डोबरे ने ‘भाषा’ से विशेष बातचीत में कहा, ‘‘ दोनों देशों के पहले से चले आ रहे मजबूत संबंध हाल के वषरे में काफी प्रगाढ़ हुए हैं। दोनों देशों के लोगों के बीच सम्पर्क पहले से ज्यादा बढ़े हैं । दोनों देशों के बीच करीबी सांस्कृतिक संबंध हैं ।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हमारे संबंध काफी करीबी हैं और इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि रोमानिया में 11वीं कक्षा में बच्चों को रामायण और महाभारत के अंश पढ़ाये जाते हैं। इंटरनेशनल कल्चर खंड में बच्चों को यह पढ़ाया जाता है। ’’ राडू ओक्टावियन डोबरे ने कहा कि हमारे देश में दो बालीवुड चैनल 24 घंटे प्रसारित होते हैं । हम दोनों देशों के बीच संबंधों को और मजबूत बनाना चाहते हैं। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की स्थायी सदस्यता की भारत की दावेदारी के बारे में एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि रोमानिया, भारत को सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्य के रूप में देखना चाहता है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच संबंधों को बढ़ावा देने में पर्यटन का महत्वपूर्ण स्थान है और हम रोमानिया को भारत के पर्यटन के नक्शे पर देखना चाहते हैं।





जरा ठहरें...
नोएडा इंटरनेशनल लिटरेचर का हुआ समापन
भारत अपनी प्रतिभा की लोहा मनवाने के लिए 2021 की पिसा प्रतियोगिता में हिस्सा लेगा - निशंक
केंद्राय मानव संशाधन मंत्री ने देश में नए नवोदय विद्यालयों का किया उद्घाटन!
नई शिक्षा नीति: मानव संशाधन विकास मंत्री की रंगराजन और श्रीधर से मुलाकात
आरुषि निशंक साल भर में १० लाख पौधारोपण करने की बात कही
कांग्रेस की शिक्षा व्यवस्था से हमारे कार्यकाल में कहीं बहुत बेहतर हुआ काम!
2020 तक IIT में छात्रों की भर्ती संख्या बढ़ाकर एक लाख करने की योजना
भारतीय पुरातत्व विभाग की नई इमारत धरोहर का उद्घाटन किया प्रधानमंत्री मोदी ने
हुमायूं के मकबरे से मिला बेशकीमती खजाना!
कुंभमेला यूनेस्को के सांस्कृतिक विरासत में शामिल, मोदी बोले गर्व की बात!
कौन है आज का प्रेमचंद? हिंदी साहित्य का अमर साहित्यकार मुंशी प्रेमचंद
रामचरित मानस की दुर्लभ प्राचीन पांडुलिपि बरामद
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.