ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

धर्म/तीज़-त्यौहार

सरकार ने कहा रामसेतु को नष्ट नहीं किया जाएगा

नई दिल्ली

१७ मार्च २०१८

केंद्र सरकार ने शुक्रवार को सर्वोच्च न्यायालय को बताया कि उसने भारत के पूर्वी और पश्चिमी तटों के बीच नौवहन को सुगम बनाने के लिए शुरू की गई सेतुसमुद्रम परियोजना के लिए राम सेतु को राष्ट्रहित में नष्ट नहीं करेगी। केंद्रीय जहाजरानी मंत्रालय की ओर से प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए. एम. खानविलकर और न्यायमूर्ति डी. वाई. चंद्रचूड़ को सूचित किया गया कि उसने पूर्व की सेतुसमुद्रम समुद्री मार्ग परियोजना का विकल्प तलाशने का फैसला किया है।


केंद्र ने अदालत में दाखिल एक हलफनामे में कहा, "भारत सरकार राष्ट्रहित में रामसेतु को बगैर क्षति पहुंचाए पूर्व की सेतुसमुद्रम समुद्री मार्ग परियोजना का विकल्प ढूंढना चाहती है।" सरकार की ओर से अतिरिक्त महाधिवक्ता पिंकी आनंद केंद्र की ओर उपस्थित हुई थी। उन्होंने कहा कि सेतुसमुद्रम परियोजना के विरूद्ध भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी की जनहित याचिका को अब खारिज किया जा सकता है। स्वामी ने पीआईएल दाखिल करते हुए कहा था कि राम सेतु को क्षति नहीं पहुंचाना चाहिए।





जरा ठहरें...
शाही स्नान के साथ प्रयागराज में शुरू हुआ महापर्व कुंभ
महामण्डलेश्वर बोले हनुमान जी मुसलमानों के भी पूर्वज हैं!
अध्यात्म के माध्यम से व्यक्ति अपनी क्षमताओं को बढ़ा सकता है - सद्गुरू जग्गी वासुदेव
दिल्ली में जुटे लाखों लोग, एक स्वर में की राममंदिर निर्माण की मांग
श्रीराम मंदिर के लिए सरकार संसद में कानून लाए - विहिप
राम जन्मभूमि पर विश्वविद्यालय बनाने की बात कहने वाले सिसौदिया माफी मांगे - तिवारी
रविवार को दिल्ली में उमड़ेगा राम भक्तो का जनसैलाब : डॉ सुरेंद्र जैन
अध्यादेश की नौबत आयी तो काशी मथुरा भी लेंगे - संत समाज
राम मंदिर के निर्माण को लेकर विहिप का प्रतिनिधि मंडल हर्ष वर्धन से मिला
मंदिर निर्माण से कम कुछ भी स्वीकार नहीं - साधु संत
राममंदिर के लिए जो किया कांग्रेस ने किया! भाजपा सिर्फ राम"-राम" गाती रही?
दिल्ली के गुरूद्वारों के खाने सरकारी मापदंड पर उम्दा उतरे
आखाड़ा परिषद ने दो और बाबाओं को फर्जी घोषित किया
पतांजलि के बाद श्रीश्री तत्वा बाजार में जल्द
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.