ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

क्या आप जानते हैं

आरटीआई से खुलासा, २८० से ज्यादा पौधों और जानवरों की प्रजातियां विलुप्त होने की कगार पर
समाजसेवी रंजन तोमर के प्रयासों की पीएमओ ने संज्ञान में लिया

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली, २० दिसंबर २०१८

आर टी आई से यह खुलासा हुआ है कि 16 राज्यों और 2 केंद्र शाषित क्षेत्रों द्वारा पर्यावरण और वन मंत्रालय और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय को दी गई जानकारी के अनुसार देश में 280 से ज़्यादा पौधे एवं जानवरों की प्रजातियां विलुप्त होने की कगार पर हैं। अथवा उनपर जल्द ही विलुप्त होने की श्रेणी में आने का अंदेशा है। जैव विविधता प्राधिकरण द्वारा समाजसेवी रंजन तोमर द्वारा पिछले कुछ समय पहले जैव विविधता प्राधिकरण में लगाई गई जानकारी के अनुसार केरल में 26 पौधे एवं 13 पशु प्रजाति इस लिस्ट में हैं।


प्रतीकात्मक चित्र फाइल उपयोग के लिए।

तमिल नाडु में 23 पौधे एवं 16 पशु प्रजाति , उत्तराखंड में 16 पौधे एवं 15 पशु प्रजाति इसमें शामिल हैं, उत्तर प्रदेश में मात्र एक पौधे की प्रजाति इस लिस्ट में शामिल हुई है। इसी प्रकार बिहार ,गोवा ,हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, मणिपुर, मिजोरम, मेघालय , उड़ीसा, पंजाब, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल समेत अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह, एवं दमन एवं दिउ की जानकारी भी उपलब्ध करवाई गई थी।

यह खबर राष्ट्रीय स्तर पर खूब चर्चा में रही और कई राष्ट्रीय समाचार पत्रों ने इसे प्रमुखता से छापा। इस दौरान रंजन तोमर ने इस खबर को खबर ही न रह जाए की नीति के कारण प्रधानमंत्री को पत्र लिख कुछ कानूनी सुझाव , एक्ट में बदलाव आदि की बात कही थी , अब प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा यह जानकारी दी गई है के इन बातों एवं सुझावों पर अमल किया जाएगा।


ऐसे में पर्यावरण प्रेमियों में इस बाबत ख़ुशी की लहर दौड़ गई है के विलुप्त होती प्रजातियों के लिए कुछ ठोस कदम उठाये जायेंगे। हाल ही में तोमर की आर टी आई से यह खुलासा भी हुआ था के पिछले दस साल में  384 शेर मारे गए हैं ,जो लगभग सभी समाचार पत्रों और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर प्रसारित हुआ और जिससे शेरों के प्रति जागरूकता को फिर से प्रोत्साहन मिला है। तोमर ने प्रधानमंत्री का इस बाबत धन्यवाद भी दिया जिस तरह उनकी बात का संज्ञान लिया गया है।


गौरतलब है के बढ़ते प्रदुषण एवं जलवायु परिवर्तन के कारण यह घटनाएं घटित हो रही हैं , इंसान की लोलुपता का असर यह है के अन्य प्रजातियां विलुप्त हो भी चुकी हैं और होती जा रही हैं। तोमर का यह आर टी आई लगाने का उद्देश्य भी यह ही था के आम जनता तक यह जानकारी पहुंचे के किस प्रकार उनकी छोटी छोटी गलतियों और लालच के कारण ही हमारा ग्रह धीरे धीरे अपने वास्तविक व्यवस्था को खोता जा रहा है।



जरा ठहरें...
2020 तक 8 करोड़ लोगों को मुफ्त गैस कनेक्शन - इंडियन ऑयल
विश्व पुस्तक मेला नई दिल्ली में ५ जनवरी से
प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के अधीन 14712 लोगों को मिला 103 करोड़!
देश के हर डाकघर में पासपोर्ट केंद्र खोले जाने की तैयारी
दिल्ली की हवा बेहद खराब, ९० प्रतिशत ने माना उन्हें दिक्कत हो रही है
मोदी की राष्ट्रीय नीति से परेशान मास्टर कार्ड ने ट्रंप से की शिकायत!
भारत की सारी खुफिया एजेंसियां फेल, प्रधानमंत्री मोदी की जान खतरे में?
दिल्ली में पैदल चलना हुआ बेहद खतरनाक
पूरी दुनिया की ख़बर रखने वाले इंंटरपोल के मुखिया ही हो गए गायब!
रेलवे ने मेल और एक्सप्रेस रैक्स के उन्नयन के लिए ’प्रोजेक्ट उत्कृष्ट’ शुरू किया
रंजन गोगोई बने देश के नए मुख्य न्यायाधीश
अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कर्मियों के पदोन्नति में आरक्षण का मामला राज्यों पर निर्भर - सर्वोच्च न्यायालय
मोदी कैबिनेट का बड़ा फैसला तीन तलाक पर अध्यादेश जारी
जापान में सौ साल की उम्र पार करने वाले ६५ हजार से ज्यादा
राष्ट्रपति ने राज्यसभा के लिए चार हस्तियों को किया मनोनीत
क्नॉट प्लेस बना दुनिया का 9वां सबसे महंगा वाला कार्यालय क्षेत्र!
बिना इंजन की ट्रेन-18 जल्द मिलेगी लोगों को सफर करने के लिए!
वैज्ञानिकों ने माना रामसेतु मानव निर्मित है
30 किलो से ज्यादा वजन के कुत्ते को घोड़ा मानता है रेलवे!
मानव मांस का शौकीन था ब्रिटिश राजघराना
२०५ साल के बाबा, १०५ साल से नहीं खाया एक अन्न भी!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.