ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

विज्ञान एवं रक्षा तकनीकि

सरकार ने सेना को पाकिस्तान पर खुली कार्रवाई की छूट दी

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

२८ फरवरी २०१९

पाकिस्तान के बुधवार सुबह किए गए दुस्साहस को भारत ने गंभीरता से लिया है। दिनभर घटनाक्रम तेजी से बदलते रहे। गहमागहमी के बीच शाम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों सेना प्रमुखों के साथ अहम बैठक की। मीटिंग में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और खुफिया विभाग के प्रमुख भी मौजूद थे। पुलवामा आतंकी हमले के बाद प्रधानमंत्री ने खुलेतौर पर सेना को आतंकियों के खिलाफ ऐक्शन की छूट दे दी थी लेकिन इस बार पाकिस्तान को और भी करारा जवाब मिल सकता है। प्रधानमंत्री की बैठक के बाद आधिकारिक सूत्रों ने इस बात के स्पष्ट संकेत दिए हैं।


बताया जा रहा है कि सुबह 9.45 पर भारतीय रेडार पर पाकिस्तान के रावलपिंडी, सरगोधा और इस्लामाबाद एयर बेसों से लड़ाकू विमानों की हरकत देखी गई। 9.50 पर पाकिस्तानी एयरफोर्स के 10 जेट फॉर्मेशन के सीमा की तरफ बढ़ने के संकेत मिले। पाक जेट्स पाकिस्तान के उत्तरी क्षेत्रों की तरफ बढ़ रहे थे, जिससे साफ हो गया कि वे जम्मू एवं कश्मीर में भारतीय ठिकानों पर हमला करना चाहते थे। इस बीच भारतीय वायुसेना का एयर डिफेंस नेटवर्क फौरन ऐक्टिव हो गया और 2 मिग 21 और 3 सुखोई-30 ने अवंतिपोरा और श्रीनगर एयरफील्ड्स से उड़ान भरी। सरकारी सूत्रों ने बताया है कि पाकिस्तानी जेट्स भारतीय सेना के ब्रिगेड मुख्यालय को निशाना बनाना चाहते थे। जवाबी कार्रवाई में भारतीय जेट ने पाकिस्तान के एक एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया। हालांकि इस ऑपरेशन में भारत का एक मिग-21 भी गिर गया और पायलट लापता हो गए। बाद में पाकिस्तान ने खुद ही तस्वीरें और विडियो जारी कर दावा किया कि भारतीय पायलट उसकी हिरासत में हैं।

इधर, भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के कार्यवाहक उच्चायुक्त को तलब कर कड़ा विरोध दर्ज कराया। भारत ने स्पष्ट कहा है कि पाक की हिरासत में मौजूद भारतीय पायलट को नुकसान नहीं पहुंचना चाहिए। वहीं, पाक पीएम इमरान खान ने शांति की बात कही है। उन्होंने कहा कि एक बार युद्ध शुरू हुआ तो उसे न इमरान और न ही पीएम मोदी रोक पाएंगे।


प्रधानमंत्री आवास, 7 लोक कल्याण मार्ग पर यह बड़ी बैठक करीब डेढ़ घंटे तक चली। सूत्रों ने बताया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान की हरकत को देखते हुए साफ कह दिया है कि वह पड़ोसी मुल्क के दबाव में नहीं झुकेंगे। उन्होंने तीनों सेनाओं को अपने हिसाब से पूरी तैयारी के साथ जवाब देने को कहा है। इसके लिए सेना को पूरी तरह से छूट दे दी गई है कि वे समय, जगह और तरीका सुनिश्चित कर पलटवार करें।


आपको बता दें कि एक दिन पहले भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान और पाक अधिकृत कश्मीर में आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया था। भारत ने इसे आम लोगों या पाक सेना के खिलाफ नहीं बल्कि आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई बताया था, जो भारत में पुलवामा जैसे बड़े हमले की साजिश रच रहे थे। हालांकि एक दिन बाद ही बुधवार सुबह पाकिस्तान ने भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों पर हमले की नीयत से अपने लड़ाकू विमान रवाना कर दिए।



जरा ठहरें...
दुश्मनों का काल! अमेरिकी अपाचे, भारतीय वायुसेना का बना हिस्सा
पाकिस्तानी धमकी के बीच सेना प्रमुख पहुंचे कश्मीर के सीमावर्ती इलाकों में
भारतीय सेना के जवान ने शंख बजाकर बनाया विश्व रिकार्ड...!
सेना मुख्‍यालय को पुनर्गठित करने के लिए रक्षा मंत्री ने दी मंजूरी
भारत का परमाणु हमला भविष्य की परिस्थितियों पर निर्भर होगा - राजनाथ सिंह
बालाकोट हमले के अंजाम देने वाले वायुसेना के जांबाजों को वीर पुरस्कार से सम्मानित
चंद्रयान दो की सफलता ने आशा से अधिक सफल रहा - कै शिवन, इसरो प्रमुख
रूस से जो भी एस-400 खरीदेगा अमेरिका उसके खिलाफ है
जब अपनी ही मिसाइल का शिकार हो गया वायुसेना का हेलीकॉप्टर....?
वायुसेना ने वीर चक्र से "अभिनंदन" की 'अभिनंदन' किए जाने की सिफारिश की!
राफेल: शौरी, भूषण और सिन्हा कागजात के लिए दोषी हैं - सरकार
राफेल के आते ही वायुसेना मिग-२१ विमानों को अपने बेड़े से बाहर कर देगी
एनटीआरओ का दावा बालाकोट में ३ सौ मोबाइल फोन सक्रिय थे!
सेना का काम है लक्ष्य को तबाह करना, गिनती करना हमारा काम नहीं - वायुसेना प्रमुख
पाकिस्तान की हर गतिविधियों पर है इसरो की नज़र
पाकिस्तान का झूठ बेनकाब, एफ-१६ का मलबा सामने आया
इसरो ने भावी योजनाओं का किया खुलासा, पहला अंतरिक्ष अभियान २०२० से शुरू
बीएसएफ ने सेना को पछाड़कर बनाया विश्व रिकार्ड!
भारत को एस-400 के रूप में मिला अभेद्द्य रक्षा कवच!
भारतीय वायुसेना के उपाध्यक्ष ने उड़ाया राफेल को
भारतीय नौसेना को मिला एक और घातक युद्धपोत 'किलर'
ऑटोमोबाइल क्षेत्र के लिए BS-5 और BS-6 मानदंडों की अधिसूचना
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.