ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

अपराध जगत

हर हालात से निपटने के लिए तैयार हैं हम - महानिदेशक सीआईएसएफ

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली, ८ मार्च २०१९

सीआईएसएफ के महानिदेशक राजेश रंजन ने कहा है कि आज की तारीख में हम हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। वे  सीआईएसएफ के गठन को 50 साल पूरा होने पर पत्रकारों से बात कर रहे थे। 10 मार्च को फोर्स 50 वां सीआईएसएफ दिवस मनाएगी। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुख्य अथिति रहेंगे। मौजूदा समय में सीआईएसएफ 345 महत्वपूर्ण और संवेदनशील जगहों की सुरक्षा कर रहा है। इनमें 61 हवाईअड्डों के अलावा दिल्ली मेट्रो भी शामिल है। उन्होंने कहा कि सीआईएसएफ ने जम्मू कश्मीर में अपनी सभी इकाइयों का सुरक्षा घेरा बढ़ा दिया है और राज्य में अत्यधिक सतर्कता के मद्देनजर अपने जवानों को अतिरिक्त बुलेटप्रूफ बख्तरबंद भी मुहैया कराए हैं।


सीआईएसएफ के महानिदेशक राजेश रंजन, पत्रकारों से बात करते हुए।

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के महानिदेशक राजेश रंजन ने बताया कि जम्मू कश्मीर में बल ने अपनी सभी इकाइयों का सुरक्षा घेरा और मजबूत किया है। नियंत्रण रेखा के पास बांदीपुरा और उरी में महत्वपूर्ण स्थानों की सुरक्षा सीआईएसएफ के जवान संभाल रहे हैं। उन्होंने बताया कि सीआईएसएफ का विशेष सुरक्षा समूह 83  महत्पूर्ण व्यक्तियों को भी सुरक्षा दे रहा है। हालांकि, दिल्ली समेत कुछ हवाई अड्डों की सुरक्षा करने में लगे जवानों की वेतन का मुद्दा अभी भी अटका है। इस मामले में सीआईएसएफ का कहना है कि अगर हमारी रुका वेतन होने में कुछ समय लगा तो ऐसा नहीं है कि हम सिक्योरिटी हटा लेंगे। सीआईएसएफ भविष्य के लिए और मजबूत तैयारी कर रही है। इसमें आधुनिक गैजेट लाने की भी तैयारी है। अपने संवाददाता सम्मेलन में महानिदेशक सीआईएसएफ ने कहा कि पिछले एक साल में दिल्ली मेट्रो ने सिर्फ दिल्ली-एनसीआर के लोगों के लिए यात्रा सुगम नहीं बनाई, बल्कि उनकी जिंदगी की उलझनें भी सुलझाई हैं।

सीआईएसएफ ने 258 महिलाओं को मेट्रो ट्रैक पर कूदकर आत्महत्या की कोशिश से बचाया है। सीआईएसएफ अधिकारियों का कहना है कि इनमें से ज्यादातर महिलाओं को सेकेंड भर के अंतर से भी बचाया गया है। मेट्रो स्टेशन के चप्पे-चप्पे पर तैनात सीसीटीवी कैमरों के जरिए इन महिलाओं की जान बचाई जा सकी। आत्महत्या से रोकने के साथ ही इसके बाद इन महिलाओं की काउंसलिंग भी की गई।


उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वक्त में मेट्रो स्टेशन पर आत्महत्या करने की घटनाओं में वृद्धि हुई है। मेट्रो ट्रैक के सामने कूदकर आत्महत्या की इन घटनाओं को रोकने के लिए सीआईएसएफ ने अपने विभाग को अधिक सतर्क रहने का प्रशिक्षण दिया है। सीआईएसएफ अधिकारियों ने बताया कि मेट्रो स्टेशन पर मौजूद कर्मियों को वह संवेदनशील तरीके से व्यवहार करने का प्रशिक्षण दे रहे हैं।


उन्होंने बताया कि हर साल सीआईएसएफ के कर्मचारी ऐसे लोगों की पहचान सीसीटीवी कैमरे के जरिए करते हैं। कई तनावग्रस्त लोगों की पहचान प्लेटफॉर्म पर उनकी गतिविधि देखकर भी की जाती है। सीआईएसएफ ने तनावग्रस्त व्यक्तियों की पहचान के लिए विशेष ट्रेनिंग प्रोग्राम भी आयोजित कराया है। हर स्टेशन पर सीआईएसएफ कॉन्स्टेबल के साथ महिला कॉन्स्टेबल भी रहती हैं। कुछ वर्दी में स्टाफ नियुक्त किए जाते हैं तो कई सादी वर्दी में भी मौजूद रहते हैं।

उन्होंने जवानों से जुड़े एक महत्वपूर्ण मुद्दे पर प्रकाश डालते हुए बताया कि सीआईएसएफ के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब एक साल में करीब 16 हजार जवानों को प्रमोशन दिए गए हैं। इनमें सिपाही से लेकर सब-इंस्पेक्टर शामिल हैं। प्रमोशन में सीआईएसएफ के डीजी राजेश रंजन की अहम भूमिका रही। उन्होंने सालों से प्रमोशन की राह देख रहे जवानों की सूची तैयार करवाकर उसे गृह मंत्रालय से मंजूर करवाया।



जरा ठहरें...
सीबीआई ने पूर्व गृहमंत्री पी चिदंबरम को हिरासत में लिया
उन्नाव कांड: उच्चतम न्यायालय ने सीबीआई को दो हफ्ते का और समय दिया
कश्मीर की स्थिति पर दखल देने से सर्वोच्च न्यायालय का इंकार
2 जी घोटाला: न्यायालय से ए राजा को राहत नहीं
रेलवे ने अनधिकृत वेंडरों तथा अवैध विक्रेताओं के खिलाफ चलाया अभियान
दिल्ली का खुंखार अपराधी केंद्रीय मंत्री अठावले के पार्टी में शामिल...!
जिसने मेरे खिलाफ जांच की वही आज एनआईए प्रमुख है - गृहमंत्री
दिल्ली पुलिस आयुक्त को गृहमंत्री ने लगाई फटकार
पूरे देश में टिकट दलालों पर रेलवे की कार्रवाई
एसएसबी ने पूर्वोत्तर में चौकसी बढ़ाने के लिए 18 नई चौकियां बनाई!
सरकार गुड़ग्राम के लुटेरे पंचतारा ‘मेदांता’ अस्पताल पर कब कार्रवाई करेगी?
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.