ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

प्रमुख समाचार

कांग्रेस ने कहा बुलेट ट्रेन का समझौता 2013 में ही हुआ था, मोदी देश को बरगला रहे हैं!
कांग्रेस ने बुलेट ट्रेन को लेकर किए जा रहे प्रचार पर भाजपा और मोदी से 10 सवाल पूछे हैं!

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

15 सितंबर 2017

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे का भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ गुजरात में रोड शो और फिर अगले दिन बुलेट ट्रेन के प्रोजेक्ट का शिलान्यास करना बड़ा सियासी मुद्दा बन गया है। कांग्रेस को लगता है कि जापान के पीएम का सीधे गुजरात जाना, वहां रोड शो करना, फिर अहमदाबाद में शिलान्यास करना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सियासी चाल है। इसके जरिये मोदी दो महीने बाद होने वाले विधानसभा चुनाव को जीतना चाहते हैं। कांग्रेस ने यह याद दिलाना भी नहीं भूली कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को शिंजो आबे ने ही अगस्त 2014 में जापान का सर्वोच्च नागरिक सम्मान दिया था। ऐसे में कांग्रेस के समय से ही भारत के जापान से अच्छे रिश्ते रहे हैं।


दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय में लोकसभा में कांग्रेस के नेता और पूर्व रेल मंत्री मल्लिकार्जुन खड़गे के साथ पूर्व गृह राज्य मंत्री आरपीएन सिंह मीडिया से मिले। जापान के प्रधानमंत्री की यात्रा और बुलेट ट्रेन योजना का स्वागत किया और फिर मोदी पर ताबड़तोड़ हमले कर दिए। अहमदाबाद के रोड शो पर तंज कसते हुए पहले कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि जापान के पीएम को पहले देश की राजधानी दिल्ली आना चाहिए था। तमाम सवालों की झड़ी लगाकर पीएम मोदी और बीजेपी से 10 सवाल दाग दिए।

1- 2005 से ही हाई स्पीड की ट्रेन लाने का काम चल रहा है. कई रूटों पर यह ट्रेन चलाने की योजना पहले से है। आज मोदी बुलेट ट्रेन के नाम से प्रचार हो रहा है। मुम्बई जो की आर्थिक राजधानी है उसकी बजाए अहमदाबाद में शिलान्यास किया गया। सिर्फ इसलिए क्योंकि यहां चुनाव है?


2- कांग्रेस ने कहा कि मोदी बोलते हैं कि 0.1 परसेंट ब्याज पर ऋण दिया। कोई देश फ्री में कुछ नहीं देता है। सब तो वही बनायेगा, उसमें कितना कमीशन जायेगा किसको पता? गुमराह कर लोगों को क्यों बेवकूफ बना रहे हैं?


3- कांग्रेस ने कहा हाई स्पीड ट्रेन के लिए मनमोहन सरकार ने 2013 में ही जापान से समझौता किया था। यह भी यूपीए का ही प्रोजेक्ट है। तो यह प्रोजेक्ट साढ़े 3 साल बाद क्यों शुरू हो रहा है? सिर्फ इसलिए क्योंकि गुजरात में विधानसभा चुनाव हैं?

4- कांग्रेस ने कहा यहां 12 स्टेशन बनाये गए हैं, जबकि 1 या 2 स्टेशन ही होते हैं बुलेट ट्रेन में। अनुमान है कि इसकी रफ़्तार राजधानी से भी कम होगी। ये सिर्फ चुनावी फायदे के लिए नहीं है क्या?

5- ये प्रोजेक्ट आर्थिक रूप से व्यवहारिक नहीं है क्योंकि हवाई जहाज का किराया 2 हजार से शुरू होता है। 1 लाख लोग अगर बुलेट ट्रेन में रोज़ ट्रैवल करेंगे तब ही फायदा रहेगा नहीं तो नुकसान होगा।

6- इसमें कौन गरीब बैठेगा? 2800 रुपये देकर कौन गरीब बैठेगा?

7- कांग्रेस ने कहा हर चीज़ का टारगेट 2020 या 22 का रखते हैं, 2019 की बात क्यों नहीं करते? क्या इसलिए ताकि अगला चुनाव भी जीत जाएं?

8- वाराणसी को भी क्योटो बना रहे थे शिंजो को लाकर क्या हुआ? अब बुलेट ट्रेन बनाएंगे। मोदी भाषण देकर क्यों भूल जाते हैं?

9- जिन स्टेशनों पर राजधानी भी नहीं रुकती वहां बुलेट ट्रेन को क्यों रोका जा रहा है. बुलेट ट्रेन के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर की तैयारी मौजूदा दौर में पर्याप्त है क्या? अभी तो ज़मीन का अधिग्रहण तक नहीं हुआ?

10. सामान्य रेल पर सरकार का ध्यान नहीं है, एक साल में 19 दुर्घटनाएं हुई हैं. प्राथमिकता रेलवे में सेफ्टी की होनी चाहिए न कि बुलेट ट्रेन की. रेलवे सुरक्षा के लिए जरूरी पैसा सरकार क्यों नहीं दे रही? 3 लाख खाली पद रेलवे में अब तक क्यों नहीं भरे जा रहे?


जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें