ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

विज्ञान एवं रक्षा तकनीकि

भारतीय सेना के जवान ने शंख बजाकर बनाया विश्व रिकार्ड...!
नायक शंभू कुमार का नाम लिम्का बुक में दर्ज, जल्द ही गिनीज बुक में..?

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

भारतीय सेना के जवान शंभू कुमार के नाम एक बार में 53 मिनट लगातार शंख बजाने का विश्व रिकार्ड बनाने की उपलब्धि हासिल है। इस उपलब्धि से शंभू कुमार ने हिंदुस्तान और भारतीय सेना के नाम को रोशन किया है। शंभू कुमार भारतीय सेना में लगभग 15 साल से तैनात हैं और देश की सेवा कर रहे हैं। बिहार के रहने वाले शंभू कुमार भारतीय सेना के 16 राजपूत में तैनात हैं। 16 राजपूत सेना की लड़ाकू ईकाई है जो दुश्मन के दांत खट्टा करने के लिए जानी जाती है।
 
सेना के लड़ाकू दस्ते के सदस्य शंभू कुमार को शंख बजाने में महारत हासिल हो चुकी है। शंभू कुमार ने थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ से बात करते हुए बताया कि इसके लिए रोजाना वे शंख बजाने के लिए कई घंटे का अभ्यास करते हैं। हम बता दें कि शंख बजाना कोई आसान काम नहीं होता है। शंख बजाने के लिए सांसों को रोके रखना अनिवार्य होता है जो सबके बस की बात नहीं होती है। क्योंकि शंख में जब सांस यानि हवा छोड़ी जाती है तो शरीर की पूरी ताकत लगती है जो लंबे समय तक अभ्यास करने के बाद ही संभव हो पाती है। यहां उल्लेख करना अनिवार्य है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब 2019 में दोबारा देश के प्रधानमंत्री चुने गए तो वे अपनी संसदीय क्षेत्र वाराणसी गए जहां गंगा आरती के दौरान एक पंड़ित ने लगातार लगभग तीन मिनट शंख बजाकर सबको आश्चर्य चकित कर दिया था। बाद में कार्यक्रम की समाप्ति के बाद प्रधानमंत्री ने उस पुजारी के पास जाकर इसके लिए धन्यवाद दिया था।


जबकि सेना के नायक शंभू कुमार के नाम बिना रूके 53 मिनट का लंबा शंखनाद करने का विश्व रिकार्ड है। शंभू कुमार ने पहला रिकॉर्ड लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में 33 मिनट लगातार शंख बजाने का हासिल किया है। उनसे पहले दक्षिण भारत के एक व्यक्ति ने लिम्का बुक में 10 मिनट शंख बजाने का रिकॉर्ड बनाया था। उसके बाद उन्होंने भारत वर्ल्ड रिकॉर्ड में 53 मिनट का रिकार्ड बनाया। शंख बजाने के लिए उनका नाम इंडिया स्टार बुक ऑफ रिकॉर्ड में भी दर्ज है।

उनकी इस प्रतिभा से प्रभावित होकर कुछ समय पहले 16 राजपूत के कमांडिंग अधिकारी ने सैनिक सम्मेलन में शंभू कुमार को 11000 की राशि से पुरस्कृत किया था। उनकी इसी प्रतिभा के लिए सेना की सेंट्रल कमांड लखनऊ द्वारा प्रशंसा पत्र प्रदान किया गया। शंभू कुमार गिनीज बुकऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड के लिए तैयारी कर रहे हैं जिसके लिए उन्होंने अप्लाई किया है। इसके लिए एक वीडियो बनाकर गिनीज बुक को भेजना है। जिसकी तैयारी में जुटे हैं।


यहां यह भी उल्लेखनीय है कि हिंदू धर्म में शंख का बहुत पवित्र महत्व है। शुभ कार्यों और पूजा त्यौहारों, मंदिरों में शंख बजाया जाता है। मान्यता यहां तक है कि शंख की ध्वनि जहां तक जाती है वहां तक नकारात्मक ऊर्जा का नाश हो जाता है। इसके अलावा वैज्ञानिक दृष्टि से भी शंख का बड़ा महत्व बताया जाता है। शंख बजाने से अनेक बीमारियां भी दूर होती हैं जैसे हकलापन, दम्मा से सम्बंधित रोग, गले का रोग, उदर विकार जैसे अनेक प्रकार के रोग शंख बजाने से दूर होते हैं। शंभू कुमार कहते हैं कि शंख की ध्वनि से हानिकारक जीवाणु नष्ट हो जाते हैं एवं शंख ध्वनि से वातावरण शुद्ध हो जाता है।




जरा ठहरें...
राफेल की अभी सिर्फ पूजा हुई है, उड़ने में लगेंगे तीन साल...!
नौसेना की नई ताकत है INS खंडेरी शामिल
इस बार भारत अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव का आयोजन कोलकाता में
दुश्मनों का काल! अमेरिकी अपाचे, भारतीय वायुसेना का बना हिस्सा
पाकिस्तानी धमकी के बीच सेना प्रमुख पहुंचे कश्मीर के सीमावर्ती इलाकों में
सेना मुख्‍यालय को पुनर्गठित करने के लिए रक्षा मंत्री ने दी मंजूरी
भारत का परमाणु हमला भविष्य की परिस्थितियों पर निर्भर होगा - राजनाथ सिंह
बालाकोट हमले के अंजाम देने वाले वायुसेना के जांबाजों को वीर पुरस्कार से सम्मानित
चंद्रयान दो की सफलता ने आशा से अधिक सफल रहा - कै शिवन, इसरो प्रमुख
रूस से जो भी एस-400 खरीदेगा अमेरिका उसके खिलाफ है
जब अपनी ही मिसाइल का शिकार हो गया वायुसेना का हेलीकॉप्टर....?
वायुसेना ने वीर चक्र से "अभिनंदन" की 'अभिनंदन' किए जाने की सिफारिश की!
राफेल: शौरी, भूषण और सिन्हा कागजात के लिए दोषी हैं - सरकार
राफेल के आते ही वायुसेना मिग-२१ विमानों को अपने बेड़े से बाहर कर देगी
एनटीआरओ का दावा बालाकोट में ३ सौ मोबाइल फोन सक्रिय थे!
सेना का काम है लक्ष्य को तबाह करना, गिनती करना हमारा काम नहीं - वायुसेना प्रमुख
पाकिस्तान की हर गतिविधियों पर है इसरो की नज़र
पाकिस्तान का झूठ बेनकाब, एफ-१६ का मलबा सामने आया
सरकार ने सेना को पाकिस्तान पर खुली कार्रवाई की छूट दी
इसरो ने भावी योजनाओं का किया खुलासा, पहला अंतरिक्ष अभियान २०२० से शुरू
बीएसएफ ने सेना को पछाड़कर बनाया विश्व रिकार्ड!
भारत को एस-400 के रूप में मिला अभेद्द्य रक्षा कवच!
भारतीय वायुसेना के उपाध्यक्ष ने उड़ाया राफेल को
भारतीय नौसेना को मिला एक और घातक युद्धपोत 'किलर'
ऑटोमोबाइल क्षेत्र के लिए BS-5 और BS-6 मानदंडों की अधिसूचना
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.