ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

चर्चा में

अनुच्छेद 370 हटाकर केन्द्र सरकार ने कश्मीरियत और जमूरियत दोनों का दिल जीता

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली, २२ अक्टूबर २०१९

देश की एकता व अखण्डता को बनाये रखने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ऐतिहासिक निर्णय कश्मीर से सम्बन्धित अनुच्छेद 370 के समाप्त होने पर आज केन्द्रीय मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह, दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता व सांसद हंसराज हंस ने आर जी फार्म हाउस जीटी करनाल रोड पर आयोजित विशाल जनसभा को सम्बोधित किया।


इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य जनसभा के माध्यम से अनुच्छेद 370 के कश्मीर से समाप्त होने पर दिल्ली के लोगों को होने वाले लाभ को जन जागरण अभियान के तौर पर प्रसारित करना था।उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुये केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने कहा कि आज कश्मीर में हर ओर शांति व्यवस्था कायम है और कश्मीर के लोग सरकार के साथ कदम से कदम मिलाकर दोनों हाथों से अनुच्छेद 370 व 35 ए के समाप्त होने का स्वागत कर रहे है। कश्मीर के लोगो को इस बात की खुशी है कि अब वो भी भारत के नागरिक है जम्मू और कश्मीर के नहीं, क्योंकि दो निशान, दो विधान, दो प्रधान होने से वो अपने आप को देश से अलग सा महसूस करते थे। कश्मीरियत और जमूरियत दोनों का दिल जीतने का काम केन्द्र की सरकार ने किया है। इस ऐतिहासिक भूल का ऐतिहासिक सुधार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रबल इच्छाशक्ति और गृहमंत्री अमित शाह की नीति के कारण हो पाया है।

कश्मीर देश का अभिन्न हिस्सा है और अब आगे हमारा उद्देश्य पाक अधिकृत कश्मीर को स्वतंत्र करना है क्योंकि वहां के नागरिकों को बेवजह प्रताड़ना बर्दास्त करनी पड़ती है। कश्मीर पूर्ण रूप से भारत का है और वो इसके लिए किसी भी परिणाम को देखने को तैयार है। पाकिस्तान ने अपनी तमाम कोशिशों से भारत के खिलाफ माहौल बनाने की कोशिश की लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कुशल कूटनीति के आगे उसे मुहं की खानी पड़ी।





जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.