ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

कारोबार-समाचार

इस बार दिवाली पर चीनी वस्तुओं की बिक्री 60 प्रतिशत घटी - कैट

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

१ नवंबर २०१९

देश भर के व्यापारियों के लिए इस वर्ष की दिवाली पिछले 20 वर्षों में सबसे ज्यादा खराब रही लेकिन निश्चित रूप से इस त्योहार के दौरान हुए बिक्री ने चीन को भी बड़ा झटका दिया है। आम तौर पर दिवाली के त्योहार के दौरान चीनी सामान जो भारी मात्रा में बेचा जाता है, में पिछले वर्षों की तुलना में इस वर्ष लगभग 60% की गिरावट दर्ज की गई है, जो चीन के लिए एक खतरनाक संकेत देता है क्योंकि चीन अपने उत्पादों के दुनिया भर में भारत को सबसे बड़ा बाज़ार मानता है और अपने उत्पादों के सहारे लगातार भारतीय खुदरा बाज़ार पर अपना एकाधिकार करने की चेष्टा कर रहा है।


चीनी उत्पादों की बिक्री में 60 प्रतिशत की गिरावट का आंकड़ा कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) द्वारा हाल ही में दिवाली त्यौहार के दौरान देश के 21 शहरों में किये गए एक सर्वे के आधार पर निकल कर आया है। एक अनुमान के मुताबिक, दिवाली के दौरान 2018 में बेचे जाने वाले चीनी सामानों का मूल्य लगभग 8000 करोड़ रुपये था, जबकि इस साल दीपावली के त्योहार पर चीनी सामानों की बिक्री लगभग 3200 करोड़ रुपये की हुई। कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कि चीनी उत्पादों की बिक्री में यह जबरदस्त गिरावट भारतीय व्यापारियों की खरीदी मानसिकता एवं भारतीय उपभोक्ताओं के बदलते खरीद व्यवहार को दर्शाता है। कैट ने पिछले साल चीनी उत्पादों के बहिष्कार का एक राष्ट्रव्यापी अभियान चलाया था जिससे चीनी सामानों की बिक्री में लगभग 30% की गिरावट देखी गई थी।

खंडेलवाल ने बताया की इस साल हमने दीवाली के त्योहार पर चीनी उत्पादों का बहिष्कार करने के लिए जुलाई के महीने में ही देश भर के व्यापारियों और आयातकों को अग्रिम सलाह दी थी और परिणामस्वरूप आयातकों ने चीन से बेहद कम मात्रा में माल आयात किया और दूसरी तरफ व्यापारियों ने भी स्वदेशी सामान खरीदने पर ज्यादा जोर दिया और यही कारण था की इस वर्ष दिवाली त्यौहार में चीनी उत्पादों की उपलब्धता बेहद कम थी। कैट के सर्वेक्षण के अनुसार चीनी उत्पादों की बिक्री में बड़ी गिरावट ख़ास तौर पर गिफ्ट आइटम, इलेक्ट्रिकल गैजेट्स, फैंसी लाइट्स, बरतन और रसोई उपकरण, प्लास्टिक आइटम, भारतीय देवताओं और मूर्तियों, घर की सजावट के सामान, खिलौने, इलेक्ट्रॉनिक आइटम, दिवार हैंगिंग, लैंप, होम फर्निशिंग आइटम, फुटवियर, गारमेंट्स और फैशन गारमेंट आदि में मुख्य रूप से हुई सर्वेक्षण के दौरान लगभग 85% व्यापारियों ने कहा कि उन्होंने इस दिवाली त्योहार के दौरान चीनी उत्पादों की बिक्री में गिरावट देखी है जबकि बाकी 15% व्यापारियों का मानना था कि भारत में अभी भी चीनी सामान का बाजार है।


कैट के सहयोगी संगठन कैट रिसर्च एंड ट्रेड डेवलपमेंट सोसाइटी द्वारा 24 अक्टूबर से 29 अक्टूबर के बीच किए गए चीनी उत्पादों की बिक्री की वास्तविकता जानने का सर्वेक्षण देश के 21 प्रमुख शहरों दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, बेंगंलुरु, हैदराबाद, रायपुर, नागपुर, पुणे, भोपाल, जयपुर, लखनऊ, कानपुर, अहमदाबाद, रांची, देहरादून, जम्मू, कोयम्बटूर, भुवनेश्वर, कोलकाता, पांडिचेरी और तिनसुकिया में किया गया।




जरा ठहरें...
देश भर में अमेज़न एवं फ्लिपकार्ट का विरोध - कैट
देश में न्यूनतम प्रणाली मूल्य लागू हो - कैट
कैट ने बहुराष्ट्रीय एवं रीटेल कम्पनियों के उत्पादों के बहिष्कार की धमकी दी
देश भर के व्यापारी दिवाली पर भी कर रहे आर्थिक मंदी का सामना
टीम कैशलेस अभियान का पीयूष गोयल और एमएस धोनी ने किया लांच
अमेजन और फ्लिपकार्ट पर दिए जा रहे छूट से बौखलाया कैट!
अमेज़न और फ्लिपकार्ट के साथ कैट की बैठक बेनतीजा
दिवाली निकट है लेकिन बाजार से ग्राहक गायब - कैट
7 करोड़ व्यापारी 2 अक्तूबर से प्लास्टिक थैलों का उपयोग नहीं करेंगे - कैट...!
भारत और अफगानिस्तान का संयुक्त विश्व व्यापार मेला दिल्ली में शुरू
सरकार को अर्थ व्यवस्था को गति देने की घोषणा, शेयर बाजार को लगे पंख
जानी मानी इलेक्ट्रानिक कंपनी शार्प ने भारत में अपने नए घरेलू उत्पाद उतारा!
अमेरिका का भारत के साथ बिगड़ते व्यापारिक रिश्ते से खुद अमेरिका चिंतित
ऑटो क्षेत्र में गिरावट के लिए बीएस-६ मॉडल जिम्मेदार - वित्त मंत्री
केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री प्रधान खाड़ी देशों की यात्रा पर
ऑटो क्षेत्र में मंदी की कहर, मारूति ने बंद किया उत्पादन!!
वित्त मंत्री की बड़ी घोषणा, १० बैंकों को मिलाकर बने ४ बैंक
बेहिचक पीजिए रेलनीर, गुणवत्ता और स्वास्थ्य से नहीं होता समझौता!
वित्त मंत्री ने अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए कई उपायों की घोषणा की
डेबिट और क्रेडिट कार्ड बंद करने की तैयारी में एसबीआई
ओयो ने दिल्ली में अपने नए इनोव8 सेंटर का ऐलान किया
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.