ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

कारोबार-समाचार

सरकार व्यापारियों के लिए तुरंत आर्थिक पैकेज की घोषणा करे – कैट

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली, 29 अप्रैल 2020

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीथारमन से कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने देश भर के व्यापारिक समुदाय के लिए एक आर्थिक पैकेज की मांग मजबूती से उठाई हैं। कैट ने कहा की अब देश के व्यापारी और अधिक इंतज़ार नहीं कर सकते और अब वह समय आ गया है जब सरकार को व्यापारियों के लिए एक आर्थिक पैकेज की घोषणा तुरंत करनी चाहिए। देश भर में व्यापारी वर्ग ही ऐसा है जो कोरोना से बुरी तरह प्रभावित हुआ है। कैट ने कहा कि सरकार ने अर्थव्यवस्था के अन्य वर्गों केलिए कई पैकेजों की घोषणा की है, लेकिन व्यापारिक समुदाय जिसे अक्सर भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी कहा जाता है उसकी हालत बेहद पतली हो गई है।


कैट ने यह भी कहा कि अगर व्यापारियों को पर्याप्त पैकेज नहीं दिया जाता है, तो देश में घरेलू व्यापार काफी हद तक ध्वस्त हो सकता है। देश में कृषि के बाद खुदरा व्यापार सबसे बड़ा रोजगार प्रदाता है, इस क्षेत्र को राहत प्रदान करना बहुत आवश्यक है। व्यापारियों की सभी आशाएँ और आँखें अब उत्सुकता से वित्त मंत्री पर टिकी हैं। कैट ने आगे कहा कि जब देश में अकाल पड़ता है तब हमेशा सरकार ने किसानों को पैकेज दिया है ! कोरोना देश भर के व्यापारियों के लिए एक अकाल ही है जिसको देखते हुए सरकार को व्यापारियों के लिए एक आर्थिक पैकेज तुरंत देना चाहिए। कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.सी.भारतिया और राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने वित्त मंत्री निर्मला सीथारमन से आग्रह किया है की यह संतोष की बात है कि कोरोना महामारी के इस विकट समय में देश भर के लगभग 45 लाख व्यापारियों ने आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति श्रृंखला को प्रभावी ढंग से बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई और पूरे देश में किसी भी सामग्री की कोई कमी कहीं नहीं हुई।

व्यापारियों ने अपने जीवन को जोखिम में डाला और भारत के नागरिकों की सेवा की है। उन्होंने कहा कि अगर व्यापारियों को कोई पैकेज नहीं दिया जाता है, तो भारत में खुदरा व्यापार व्यवसाय अपने सबसे बुरे दिन देखेगा और बड़ी संभावनाएं इस बायत की हैं। की देश भर में बड़ी संख्या में व्यापारी खुद को दिवालिया घोषित करने के लिए मजबूर हो जाएंगे। व्यापारियों को उम्मीद थी कि सरकार द्वारा 14 अप्रैल के आसपास व्यापारियों को एक पैकेज दिया जाएगा, लेकिन लगभग 14 और दिन बीत चुके हैं और अब तक पैकेज के बारे में कोई शब्द नहीं है जो व्यापारियों को चिंतित कर रहा है और व्यापारी अपने भविष्य को लेकर बेहद आशंकित है।





जरा ठहरें...
‘मृत्यु शैया पर जाने से पहले ही अर्थव्यवस्था खड़ी हो जाएगी’- कैट
लॉकडाउन के कारण खुदरा व्यापार को 5.50 लाख करोड़ का नुक़सान – कैट
ईकामर्स कंपनियों को पछाड़ने के लिए कैट जल्द लांच करेगा “भारत ई मार्केट डॉट इन” वेबसाइट
सरकार द्वारा ई-कॉमर्स कंपनियों को छूट दिए जाने पर कैट ने जतायी नाराजगी!
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के कर्मचारियों ने किए १०० करोड़ दान
कोरोना से भारत के खुदरा क्षेत्र को 15 दिन में ढाई लाख करोड़ के व्यापार का नुकसान – कैट
कोरोना वायरस ने मुकेश अंबानी की एशिया के सबसे धनी शख़्स का तमगा छीना
प्रधानमंत्री मोदी के प्रशंसक होने के बावजूद व्यापारियों का सरकार से हो रहा मोहभंग - भारतीय व्यापार संघ
अमेज़न एवं फ्लिपकार्ट भारत के ई कॉमर्स व्यापार को निजी सम्पत्ति बनाने के खेल में हैं – कैट
डेबिट और क्रेडिट कार्ड बंद करने की तैयारी में एसबीआई
ओयो ने दिल्ली में अपने नए इनोव8 सेंटर का ऐलान किया
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.