ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

कारोबार-समाचार

ईकामर्स कंपनियों को पछाड़ने के लिए कैट जल्द लांच करेगा “भारत ई मार्केट डॉट इन” वेबसाइट

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली, 1 मई 2020

कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट ने आज देश के सभी खुदरा व्यापारियों के लिए एक राष्ट्रीय ईकामर्स मार्केटप्लेस “भारत ई मार्किट.इन ” के जल्द ही लॉन्च करने की आज घोषणा की। इस ईकॉमर्स मार्केटप्लेस में कैट विभिन्न प्रौद्योगिकी कंपनियों की क्षमताओं को एकीकृत करेगा ताकि वे उपभोक्ताओं को उनके घर पर ही सामान की डिलीवरी सहित लॉजिस्टिक्स और सप्लाई चेन को पूरे देश में इस पोर्टल के माध्यम से एकीकृत कर सके इस ई-कॉमर्स पोर्टल में देश के खुदरा विक्रेताओं जिन्होंने वर्षों से भारतीय उपभोक्ताओं की सेवा की है और कई मामलों में पीढ़ियों तक भी उपभोक्ताओं के साथ संबंध बनाये हुए हैं की राष्ट्रीय स्तर पर भागीदारी होगी ।


कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कि पूरे देश में दूरदराज के क्षेत्रों में भी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में व्यापारियों की शानदार भूमिका को स्वीकार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में किए गए तीन लगातार ट्वीट्स में व्यापारियों के योगदान को रेखांकित किया है। कैट ने प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया और डिजिटल भुगतान के दृष्टिकोण को अमली जामा पहनाने के लिए कैट ने वाणिज्य मंत्रालय के डीपीआइआइटी के शुरूआती सहयोग से इस राष्ट्रीय ई मार्केटप्लेस में भारत के 95% खुदरा व्यापार को व्यापारियों को जोड़ने का बीड़ा उठाया है। इसमें जुड़ने वाले व्यापारी इस पोर्टल के शेयरधारक भी होंगे और यह पोर्टल व्यापारियों द्वारा, व्यापारियों का और व्यापारियों एवं उपभोक्ताओं का ही होगा जिसमें किसी भी प्रकार का विदेशी हस्तक्षेप नहीं होगा। व्यापारियों को ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर लाने के लिए। प्लेटफॉर्म पर प्रत्येक व्यापारी को बोर्ड पर, शेयरधारक होगा।

खंडेलवाल ने आज एक वीडियो प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि पोर्टल डीपीआइआइटी के विभिन्न अनुभवों का एक उप-उत्पाद है जिसके अंतर्गत कैट ने डीपीआईआईटी के साथ काम करते हुए लॉकडाउन की अवधि के दौरान देश भर में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सफलतापूर्वक सुनिश्चित की है। डीपीएआईआईटी के तहत स्टार्टअप इंडिया डिवीजन ने उपभोक्ताओं द्वारा ऑनलाइन ऑर्डर करने के लिए स्थानीय किराना स्टोरों की मदद करने के लिए सप्लाई चेन में काम करने वाली विभिन्न कंपनियों और स्टार्टअप्स के प्रयासों को समन्वित लिया है।


खंडेलवाल ने बताया की “कैट ने पहले इस कार्यक्रम को पायलट के रूप में शुरू किया जिसमें शुरू में 6 शहरों में आवश्यक वस्तुओं का वितरण किया जिसमें प्रयागराज, गोरखपुर, वाराणसी, लखनऊ, कानपुर और बेंगलुरु शहर शामिल थे। इन सभी शहरों में रिटेलर्स और उपभोक्ताओं का जबरदस्तबसहयोग मिला जिससे उत्साहित होकर अब फिलहाल पिछले दो हफ्तों में यह 90 सर अधिक शहरों तक पहुंच गया है। कैट डीपीआइआइटी के सक्रिय समर्थन और मार्गदर्शन के लिए बहुत आभारी हैं, क्योंकि लॉकडाउन अवधि के दौरान देस के विभिन्न शेरोन में उपभोक्ताओं को आवश्यक वस्तुओं के वितरण में उनका बहुत सहयोग प्राप्त हुआ है।




जरा ठहरें...
‘मृत्यु शैया पर जाने से पहले ही अर्थव्यवस्था खड़ी हो जाएगी’- कैट
लॉकडाउन के कारण खुदरा व्यापार को 5.50 लाख करोड़ का नुक़सान – कैट
सरकार व्यापारियों के लिए तुरंत आर्थिक पैकेज की घोषणा करे – कैट
सरकार द्वारा ई-कॉमर्स कंपनियों को छूट दिए जाने पर कैट ने जतायी नाराजगी!
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के कर्मचारियों ने किए १०० करोड़ दान
कोरोना से भारत के खुदरा क्षेत्र को 15 दिन में ढाई लाख करोड़ के व्यापार का नुकसान – कैट
कोरोना वायरस ने मुकेश अंबानी की एशिया के सबसे धनी शख़्स का तमगा छीना
प्रधानमंत्री मोदी के प्रशंसक होने के बावजूद व्यापारियों का सरकार से हो रहा मोहभंग - भारतीय व्यापार संघ
अमेज़न एवं फ्लिपकार्ट भारत के ई कॉमर्स व्यापार को निजी सम्पत्ति बनाने के खेल में हैं – कैट
डेबिट और क्रेडिट कार्ड बंद करने की तैयारी में एसबीआई
ओयो ने दिल्ली में अपने नए इनोव8 सेंटर का ऐलान किया
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.