ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

देश एवं राजनीति

कोरोना के दौर में आरसीएफ के बेहतर प्रदर्शन की गौड़ा ने किया तारीफ

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली, 11 मई 2020

कोविड-19 लॉकडाउन के कारण पैदा हुई लॉजिस्टिक और अन्य गंभीर चुनौतियों के बावजूद, भारत सरकार के रसायन और उर्वरक मंत्रालयके अधीन पीएसयू, राष्ट्रीय केमिकल्स फ़र्टिलाइज़र्स लिमिटेड(आरसीएफ) ने बेहतर प्रदर्शन करते हुए एनपीके उर्वरक सुफला की बिक्री मेंअप्रैल, 2019 के मुकाबले अप्रैल, 2020 में 35.47 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है। केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने खेती के पोषक तत्वों की जरूरतों को पूरा करने के लिए आरसीएफको बधाई दी।


इससे किसानों को उच्च पैदावार का लाभ मिलेगा। उन्होंने इस बात पर संतोष व्यक्त किया कि उनके मंत्रालय के तहत विभिन्न उर्वरक पीएसयू, कोविड–19 महामारी की रोकथाम के लिए घोषित लॉकडाउन की कठिनाइयों का सामना करने में भारतीय किसानों को सहायता प्रदान करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। गौड़ा ने कहा कि उर्वरक विभाग के अलावा, वे स्वयं केंद्र और राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के कृषि मंत्रालयों / अन्य सम्बंधित विभागों के अपने समकक्षों के साथ संपर्क में हैं, ताकि बुवाई के मौसम के दौरान आवश्यक उर्वरकों के उत्पादन, परिवहन और वितरण की सुविधा प्रदान की जा सके। आरसीएफ के सीएमडी श्रीएससी मुदगेरिकर ने एक ट्वीट में कहा कि कोविड-19 महामारी के इस कठिन समय के दौरान, आरसीएफ नेमहारष्ट्र के कृषि विभाग की मदद से किसानों को उर्वरकों की निरंतर आपूर्ति सुनिश्चित की है। किसानों की सुरक्षा के लिए, उर्वरकों का वितरण खेत की सीमा पर किया जा रहा है। इसके अलावा,आरसीएफकी ट्रॉम्बे इकाई ने 6.178 एमके सीएएल / एमटी के साथ ऊर्जा दक्षता में एक नया रिकॉर्ड कायम किया है।

आरसीएफ काकॉरपोरेट सामाजिक दायित्व में पूर्ण विश्वास है। इसके तहत जरूरतमंदों को लाभ पहुंचाने और समाज के सामान्य हित के लिए, आरसीएफ ने पीएम केयर फंड में83.56 लाख रुपये और महाराष्ट्र के सीएमआरएफ में 83.50 लाख रुपयेका योगदान दिया है। उपक्रम के कर्मचारियों ने भी उपरोक्त कार्य के लिए एक दिन के वेतन का योगदान दिया है। यह सीएसआर के अंतर्गत आरसीएफ द्वारा पहले योगदान किए गए 50 लाख रुपये के अतिरिक्त है।


आरसीएफ एक “मिनी रत्न” उपक्रम है, जो देश में उर्वरकों और रसायनों का एक प्रमुख उत्पादक है। कंपनी यूरिया, कॉम्प्लेक्स उर्वरक, जैविक- उर्वरक, सूक्ष्म पोषक– तत्व,पानी में घुलनशील उर्वरक, मृदा अनुकूलक (कंडीशनर) और कई तरह के औद्योगिक रसायन बनाती है। “उज्ज्वला” (यूरिया) और “सुफला” (कॉम्प्लेक्स उर्वरक) ब्रांडों के साथ कंपनी, ग्रामीण भारत में एक घरेलू नाम है। इन दोनों ब्रांडों की ब्रांड इक्विटी उच्च है। उर्वरक उत्पादों के अलावा, आरसीएफ बड़ी संख्या में औद्योगिक रसायनों का भी उत्पादन करता है जो डाई, सॉल्वैंट्स, चमड़ा, फार्मास्यूटिकल्स और अन्य औद्योगिक उत्पादों के लिए महत्वपूर्ण हैं।




जरा ठहरें...
भविष्य में हमारे जवान शहीद न हों इसके लिए देश को शक्तिशाली बनाना होगा – सत्य बहुमत पार्टी
एक लाख करोड़ रू के कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर फंड को केंद्रीय कैबिनेट की मंजूरी
लॉकडाऊन करने से पहले सरकार ने सभी परिस्थितियों पर विचार नहीं किया - सत्यदेव चौधरी
"एक दिन ऑक्साईचीन और पीओके हमारा होगा"
लॉकडाउन के बावजूद गेहूं की रिकार्ड खरीददारी
देश में घरेलू उड़ानें 25 मई से होगी शुरू
कोरोना संकट: प्रधानमंत्री ने 20 लाख करोड़ रूपए पैकेज की घोषणा की!
कोरोना संकट: आरपीआई प्रमुख अठावले ने लोगों की मदद करने के लिए कहा
कोरोना वायरस की वजह से फंसे मजदूरों को लाने के लिए केंद्र ने जारी किए दिशा निर्देश!
कोरोना संकट: प्रधानमंत्री ने राज्यों के मुख्यमंत्री के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए की बात!
कोरोना से निपटने में इफको की अहम् भूमिका – गौड़ा
कोरोना से निपटने के लिए भारत ने G-20 के कृषि मंत्रियों के साथ की बैठक
किसानों के हित में उर्वरकों की आपूर्ति जारी – गौड़ा
सरकार ने एप के जरिए किसानों को राहत देने के लिए की शुरूआत
58 मार्गों पर 109 पार्सल ट्रेनें शुरू करने से होगी सुविधा- कृषि मंत्री
सरकार SBI खाता धारकों के 7,000 करोड़ सालाना ब्याज काटकर ‘एस बैंक’ को बचा रही – कांग्रेस
वॉपकॉस ने 1110 करोड़ रुपये की अब तक सर्वाधिक आय अर्जित की!
रेल इंजीनियरिंग की अद्भुत रचना है दुनिया का सबसे ऊंचा पुल
देश की सबसे बड़ी सुरंग देश को समर्पित, प्रधानमंत्री ने किया उद्घाटन
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.