ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

खेल-खिलाड़ी

एक देश एक सिलेबस लागू करे सरकार : आसिफ

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली

3 जुलाई 2020

ऑल इंडिया माइनॉरिटी फ्रंट के राष्ट्रीय अध्यक्ष एस एम आसिफ ने कहा है।की जब देश में एक राशन कार्ड लागू हो चुका तो अब देश में एक देश एक सिलेबस लागू कर देना चाहिए। जिससे बच्चो और उनके अभिभावकों को प्राइवेट स्कूलों की लूट से बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि सिलेबस एक करने के साथ सरकार को किताबो का प्रकाशन भी अपने हाथ में लेना होगा।

जिससे कि एक ही दुकान से किताबे खरीदने की मनमानी पर रोक लग सके। आसिफ ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है और अपनी पार्टी की मांगो से अवगत कराया है।उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी की मांग है कि
1. आठवीं कक्षा के बाद विद्यार्थियों को इच्छानुसार विषय चुनने की आजादी हो।
2. विषय का पूर्ण ज्ञान आवश्यक है, इसके लिए अध्यापक प्रशिक्षण को प्रभावी व सशक्त बनाया जाए।
3. सभी सरकारी स्कूलों में निजी स्कूलों की तरह एनसीआर, एलकेजी व यूकेजी कक्षाएं प्रारंभ की जाएं, ताकि शुरू से ही बच्चे का आधार मजबूत हो सके।
4. मौलिक शिक्षा पूरी होने के बाद व्यावसायिक पाठ्यक्रम लागू होना चाहिए।
5. भर्ती के समय अंकों के स्थान पर अनुभव को महत्व दिया जाए।
6. प्राइवेट प्रकाशन पर रोक लगनी चाहिए।।
8. एससीईआरटी को सशक्त होना चाहिए। एकेडमिक डिविजन प्रभावशाली हो और नियमित मॉनिटरिंग तथा अभिभावकों व अध्यापकों की बच्चों की प्रोग्रेस रिपोर्ट को लेकर साप्ताहिक बैठक होनी चाहिए।
9. व्याकरण पर जोर दिया जाए।
10. अंग्रेजी विषय का स्तर विद्यार्थियों के बौद्धिक स्तर अनुसार किया जाए।
11. हेल्प बुक पूर्णत: प्रतिबंधित होनी चाहिए।
12. पाठ्यक्रम एक स्तर का किया जाए।
13. भौतिक सुविधाएं मुहैया करवाई जाएं, जैसे फर्नीचर, जनरेटर, बिजली, कंप्यूटर लैब।
14. हर दो वर्ष बाद अध्यापकों की नियमित भर्ती निकाली जाए।
15. समयबद्ध पदोन्नति हो, स्तरोन्नत करते समय परीक्षा का प्रावधान हो।
16. पांचवीं व आठवीं में बोर्ड लागू हो।
17. परीक्षाएं त्रैमासिक हों, मासिक नहीं।
18. पूरे देश में एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम हो। प्राइवेट प्रकाशकों पर सख्ती हो। पुस्तकों का मूल्य निर्धारण भारत सरकार करे।








जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.