ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

देश-राजनीति

रेलटेल का बड़ा कदम संरक्षा में सुधार के लिए टनल रेडियो संचार प्रणाली का कार्यान्वयन करेगी

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 11 नवंबर 2021

रेलटेल को उत्तर रेलवे के उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला खंड में रेल लिंक परियोजना के कोंकण रेलवे क्षेत्राधिकार के खंडों में एकीकृत सुरंग संचार प्रणाली (वीएचएफ सिम्प्लेक्स) के प्रावधान का कार्य सौंपा गया है, जो घाटी को देश के बाकी हिस्सों से जोड़ने के उद्देश्य से एक महत्वपूर्ण परियोजना है। सुरंग संचार कार्य की कुल लागत 86.90 करोड़ रुपए है। सुरंगों के अंदर खराब सिगनल कवरेज के कारण संचार बाधित होता है, जो ट्रेन परिचालन और अनुरक्षण संबंधी  गतिविधियों को बाधित कर सकता है।

यह अत्याधुनिक एकीकृत सुरंग संचार प्रणाली सुरंग के अंदर हैंडहेल्ड रेडियो, सुरंग नियंत्रण कक्षों के बेस स्टेशन और समीपवर्ती स्टेशनों के स्टेशन मास्टरों के बीच निर्बाध रेडियो संचार उपलब्ध  कराने के लिए डिज़ाइन की गई है। निर्माण/अनुरक्षण एवं ट्रेन परिचालन गतिविधियों में शामिल कर्मचारियों को हैंडहेल्ड डिवाइस उपलब्ध कराए जाते हैं। सुरंग में सभी चैनलों का संचार स्वतंत्र, एक साथ और विफलता मुक्त होता है। इस कार्य के पूरा होने से निश्चित रूप से भारतीय रेलवे के सबसे कठिन क्षेत्रों में से एक में सुरंगों के अंदर ट्रेनों का सुरक्षित और सुचारू परिचालन सुनिश्चित होगा।

इस बारे में बात करते हुए, पुनीत चावला, सीएमडी/रेलटेल ने कहा, “टनल संचार समग्र ट्रेन संचार प्रणाली का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और रेलटेल को ट्रेन परिचालन के साथ-साथ संरक्षा में सुधार के लिए इसे निष्पादित करने की विशेषज्ञता है।  हम मध्य रेलवे के मुंबई मंडल के पनवेल-कर्जत, कर्जत-लोनावाला और कसारा-इगतपुरी खंड और दक्षिण पश्चिम रेलवे के कैसल रॉक-कुलेम खंड (ब्रगांजा घाट) के लिए पहले से ही इसी प्रकार की परियोजनाओं का निष्पादन कर रहे हैं।  हम इसी प्रकार की और परियोजनाओं पर नजर रख रहे हैं और इन विशिष्ट परियोजनाओं से अच्छा राजस्व अर्जित करने से न केवल रेलटेल के कार्य अनुभव में विविधता लाने में मदद मिलेगी बल्कि हमें राष्ट्र निर्माण में योगदान करने में भी मदद मिलेगी।

यह परियोजना सुरंग की पूरी लंबाई पर निरंतर कवरेज, निर्बाध रुप से स्पष्ट ऑडियो, कठोर सुरंग वातावरण परिस्थितियों में विश्वसनीय सिस्टम संचालन, कई बैंडों में से ट्रंक किए गए रेडियो चैनल जैसी सुविधाएँ उपलब्ध कराएगी और परिचालन और अनुरक्षण प्रणाली को सुगम बनाएगी।

हम बता दें कि रेलटेल एक "मिनी रत्न (श्रेणी-I)" केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र का उद्यम है, जो देश के सबसे बड़े तटस्थ दूरसंचार अवसंरचना प्रदाताओं में से एक है, जिसके पास देश के कई कस्बों और शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों को कॅवर करने वाला एक अखिल भारतीय ऑप्टिक फाइबर नेटवर्क है। ऑप्टिक फाइबर के 60000 से अधिक मार्गकिलोमीटर के एक मजबूत विश्वसनीय नेटवर्क के साथ, रेलटेल के पास इलैक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) के पैनल वाले दो टियर III डेटा सेंटर भी हैं।  अपने अखिल भारतीय उच्च क्षमता नेटवर्क के साथ, रेलटेल विभिन्न फ्रंटों पर एक नॉलेज सोसाइटी का सृजन करने की दिशा में कार्य कर रही है और इसे दूरसंचार क्षेत्र में भारत सरकार के लिए विभिन्न मिशन-मोड परियोजनाओं के कार्यान्वयन के लिए चुना गया है।  रेलटेल एमपीएलएस-वीपीएन, टेलीप्रेजेंस, लीज लाइन, टॉवर को-लोकेशन, डाटा सेंटर सेवाएं आदि जैसी सेवाओं का एक समूह उपलब्ध कराती है।

रेलटेल, भारतीय रेलवे के साथ मिलकर देशभर के  रेलवे स्टेशनों पर सार्वजनिक वाई-फाई उपलब्ध कराकर रेलवे स्टेशनों को डिजिटल हब में बदलने के लिए भी कार्य कर रही है और कुल 6060 से अधिक स्टेशन रेलटेल के रेलवॉयर वाई-फाई से सज्जित हैं।



सांकेतिक तस्वीर। फाइल उपयोग के लिए।





जरा ठहरें...
सदन को सुचारू रूप से चलाने के लिए सरकार की सभी दलों के साथ बैठक
राहुल फिर पेश हुए ईडी के सामने, विरोध में कांग्रेसी नेताओं ने किया प्रदर्शन
सामाजिक न्याय मंत्रालय ने श्रेष्ठ योजना की शुरूआत की अनुसूचित जाति के गरीब बच्चों के लिए है यह योजना
कांग्रेस ने 2024 के लोकसभा चुनावों को लेकर तैयारी शुरू की
गृहमंत्री ने अरूणांचल में एक हजार करोड रूपए की लागत की परियोजनाओं का शुभारंभ किया
प्रधानमंत्री मोदी के 20 साल के शासन पर बुद्धजीवियों द्वारा लिखे गए किताब का विमोचन
पूर्वोत्तर के राज्यों की सांस्कृतिक विरासत को दर्शाने के लिए सरकार करेगी उत्तर पूर्व महोत्सव का आयोजन
अंडवार निकोबार के लोगों के लिए निर्बाध संपर्क देने की कोशिश में सरकार - गड़करी
आठवें सत्र में सभा की कुल कार्य उत्पादकता 129 प्रतिशत रही - ओम बिरला
देश को आत्मनिर्भर बनाने और वैश्विक आपूर्ति बनाए रखने में नाविकों की महत्वपूर्ण योगदान - सोनावाल
शहीद हेमू कालानी बचपन से ही साहसी और क्रांतिकारी प्रवृत्ति के थे - ओम बिरला
दिव्यांगजनों के लिए जनता के बीच अनुकूल व्यवहार हो - वीरेंद्र सिंह, सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री
महिला दिवस के मौके पर पूर्वोत्तर की नारी शक्ति' पर विशेष कार्यक्रम का शुभारंभ
पश्चिम रेलवे मुंबई होली पर देश के अनेक हिस्सों के लिए चलाएगा विशेष रेल गाड़ियां
भारत एक शांतिप्रिय राष्ट्र जो सभी धर्मों का आदर करता है - ओम बिरला
सरकार ने रेल परियोजनाओं के प्रभावी और शीघ्र कार्यान्वयन के लिए उठाए कई कदम
कांग्रेस नेता ने ओमीक्रोन और कोरोना को लेकर उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर की
लोकसभा अध्यक्ष ने संसद परिसर में स्वास्थ्य संबंधित तैयारियों का जायजा लिया
यूनिसेफ के सहयोग से सरकार का हर घर जल योजना का क्रियान्वयन युद्ध स्तर पर
मोटे आनाजो को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने उठाए कई कदम
जनजातीय महोत्सव में उमड़ा जन समूह, शानदार उत्पादों की प्रदर्शनी
मणिपुर में रानी गैदिनलिउ आदिवासी स्वतंत्रता सेनानी संग्रहालय का भूमि पूजन
भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा घरेलू विमानन बाजार बन गया है: सिंधिया
वॉपकॉस ने 1110 करोड़ रुपये की अब तक सर्वाधिक आय अर्जित की!
देश की सबसे बड़ी सुरंग देश को समर्पित, प्रधानमंत्री ने किया उद्घाटन
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Third Eye World News: वीडियो
संसद भवन की नई इमारत...
Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.